• Home
  • Sports
  • Cricket
  • Wasim Jaffer becomes the highest scorer ever in Irani Cup when he played 285* runs inning.
--Advertisement--

जाफर ने 40+ उम्र में लगाई डबल सेन्चुरी, ऐसा करने वाले पांचवें इंडियन बने

जाफर से पहले जिन चार क्रिकेटरों ने 40+ उम्र में डबल सेन्चुरी लगाई हैं, बीसीसीआई उन सभी के नाम पर टूर्नामेंट कराता है।

Danik Bhaskar | Mar 16, 2018, 11:08 AM IST
वसीम जाफर ने 40 साल 26 दिन की उम्र में डबल सेन्चुरी लगाई। वसीम जाफर ने 40 साल 26 दिन की उम्र में डबल सेन्चुरी लगाई।

नागपुर. क्रिकेटर वसीम जाफर ने गुरुवार को ईरानी कप टूर्नामेंट में शेष भारत टीम के खिलाफ डबल सेन्चुरी लगाई और एक साथ कई रिकॉर्ड अपने नाम कर लिए। विदर्भ की ओर से खेल रहे जाफर ने मैच में नॉटआउट 285 रन बनाए और इसके साथ ही वे टूर्नामेंट की एक इनिंग में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले क्रिकेटर बन गए। इस मामले में उन्होंने मुरली विजय (266) का रिकॉर्ड तोड़ा। 40+ उम्र में लगाई डबल सेन्चुरी...

- जाफर फर्स्ट क्लास क्रिकेट में डबल सेन्चुरी लगाने वाले पांचवें इंडियन हैं। उन्होंने ये डबल 40 साल 26 दिन की उम्र में लगाते हुए 285* रन बनाए।
- वसीम जाफर से पहले सीके नायडू, डीबी देवधर, विजय हजारे और वीनू मांकड़ भी 40 से ज्यादा की उम्र में ऐसा कर चुके हैं।

- इस क्रिकेटर ने अपने फर्स्ट क्लास करियर में अबतक 8 डबल सेन्चुरी लगा चुके हैं। पिछले 9 साल में उनके करियर की पहली डबल सेन्चुरी।

- बता दें कि जाफर ने जिस उम्र में ये डबल लगाई है, उस एज तक आते-आते सचिन-सौरव जैसे क्रिकेटर्स रिटायर हो चुके थे।

- सचिन ने अपनी आखिरी टेस्ट सीरीज 40 साल 7 महीने की उम्र में नवंबर 2013 में खेली थी। उन्हें विदाई देने के लिए ही उन्हें इस सीरीज के लिए टीम में शामिल किया गया था।

- इससे पहले सचिन ने पिछली सीरीज मार्च 2013 में खेली थी। वहीं सौरव गांगुली ने 36 साल की उम्र में अपना आखिरी टेस्ट मैच खेला था।

18k रन बनाने वाले छठे इंडियन बने

- इस इनिंग के दौरान वसीम जाफर ने फर्स्ट क्लास करियर में अपने 18 हजार रन भी पूरे कर लिए।
- जाफर अबतक फर्स्ट क्लास करियर में 242 मैचों की 397 इनिंग्स में 50.28 की एवरेज से 18002 रन बना चुके हैं।
- इस क्रिकेटर ने अपने फर्स्ट क्लास करियर में 86 फिफ्टी और 53 सेन्चुरी भी लगाई है। उनका ओवरऑल बेस्ट स्कोर 314* रन है।

क्या अब जाफर के नाम भी होगी ट्रॉफी

- खास बात ये है कि जाफर से पहले जिन चार क्रिकेटरों ने 40 से ज्यादा कि उम्र में डबल सेन्चुरी लगाई हैं, बीसीसीआई उन सभी के नाम पर टूर्नामेंट कराता है।
- विजय हजारे के नाम पर 50 ओवर का इंटरस्टेट और देवधर के नाम पर लिस्ट-ए फॉर्मेट का ही जोनल टूर्नामेंट खेला जाता है।
- नायुडू के नाम पर अंडर-23 और मांकड़ के नाम पर अंडर-19 इंटरस्टेट टूर्नामेंट होते हैं। नायडू को फादर ऑफ इंडियन क्रिकेट भी कहा जाता है।

ऐसा रहा मैच का दूसरा दिन

- वसीम जाफर की जबरदस्त इनिंग के बाद रणजी चैम्पियन विदर्भ ने शेष भारत के खिलाफ ईरानी कप के दूसरे दिन 3 विकेट पर 598 रन बना लिए।
- मैच में जाफर के अलावा गणेश सतीश ने सेन्चुरी लगाई। इन दोनों बैट्समैन ने तीसरे विकेट के लिए 289 रन की पार्टनरशिप की।
- मैच के पहले दिन 2 विकेट पर 289 रन बनाने वाले विदर्भ ने दूसरे दिन सिर्फ एक विकेट गंवाया और 309 रन भी बनाए। दूसरे दिन स्टंप्स के समय जाफर के साथ अपूर्व वानखेड़े (44) क्रीज पर मौजूद थे।

आगे की स्लाइड्स में देखें, 40+ उम्र में फर्स्ट क्लास करियर में डबल सेन्चुरी लगाने वाले बाकी इंडियन्स...

सीके नायडू ने 50 साल 142 दिन की उम्र में डबल सेन्चुरी लगाई थी। सीके नायडू ने 50 साल 142 दिन की उम्र में डबल सेन्चुरी लगाई थी।

सीके नायडू
उम्र- 50 साल 142 दिन
सीजन- 1945/46 

देवधर ने 48 साल 306 दिन की उम्र में डबल सेन्चुरी लगाई थी। देवधर ने 48 साल 306 दिन की उम्र में डबल सेन्चुरी लगाई थी।

डीबी देवधर
उम्र- 48 साल 306 दिन
सीजन- 1940/41 

विजय हजारे ने 43 साल 2 दिन की उम्र में डबल सेन्चुरी लगाई थी। विजय हजारे ने 43 साल 2 दिन की उम्र में डबल सेन्चुरी लगाई थी।

विजय हजारे
उम्र- 43 साल 2 दिन
सीजन- 1957/58 

वीनू मांकड़ ने 40 साल 272 दिन की उम्र में डबल सेन्चुरी लगाई थी। वीनू मांकड़ ने 40 साल 272 दिन की उम्र में डबल सेन्चुरी लगाई थी।

वीनू मांकड़
उम्र- 40 साल 272 दिन
सीजन- 1957/58