Hindi News »Sports »Cricket »Latest News» Who Is The Most Charged Of Ball-Tampering Pakistan

इस टीम पर लगा सबसे ज्यादा बॉल टेंपरिंग का आरोप, एक बार तो फील्ड पर ही नहीं आ रहे थे इनके कप्तान

इंडिया पर दो बार बॉल टेंपरिंग का आरोप लगा है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Mar 26, 2018, 03:26 PM IST

  • इस टीम पर लगा सबसे ज्यादा बॉल टेंपरिंग का आरोप, एक बार तो फील्ड पर ही नहीं आ रहे थे इनके कप्तान, sports news in hindi, sports news
    +2और स्लाइड देखें

    स्पोर्ट्स डेस्क. बॉल टेंपरिंग का विवाद सुर्खियों में है। ऑस्ट्रेलियाई प्लेयर स्टीव स्मिथ ने कप्तानी से इस्तीफा दे दिया है। उनसे राजस्थान रॉयल्स टीम की भी कप्तानी छिन गई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA) के इंटिग्रिटी हेड इयान रॉय और टीम के परफोर्मेंस मैनेजेर पैट हावर्ड इस पूरी घटना की जांच शुरू कर दी है। ऐसे में बात करते हैं बॉल टेंपरिंग की। आखिर क्रिकेट में बॉल टेंपरिंग की शुरुआत कब हुई और वो कौन सी टीम है जिसके ऊपर सबसे ज्यादा टेंपरिंग का आरोप है?

    - इंटरनेशनल क्रिकेट में 42 साल में 12 बार बॉल टेंपरिंग का आरोप लग चुका है। जिसमें पहला आरोप 1977 में भारत ने इंग्लैंड पर लगाया था। पाकिस्तान वो देश है जिसपर सबसे ज्यादा 5 बार बॉल टेंपरिंग का आरोप लगा।

    पाकिस्तान, 1992
    1992 में वकार यूनुस और वसीम अकरम पर लॉर्डस में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच में कोल्ड ड्रिंक के ढक्कन से बॉल रगड़ने का आरोप लगा था। हालांकि, आरोप साबित नहीं हो सका।

    पाकिस्तान, 2000
    वकार यूनुस पहले गेंदबाज बने, जिन पर बॉल से छेड़छाड़ के आरोप में प्रतिबंध लगा। साउथ अफ्रीका के खिलाफ कोलंबो में हुए वनडे मैच में इस विवाद के बाद कप्तान मोईन खान और ऑलराउंडर अजहर महमूद की मैच फीस का 30 फीसदी हिस्सा कटा गया था।

    पाकिस्तान, 2002
    हरारे में जिम्बाब्वे के खिलाफ हुए टेस्ट मैच में शोएब अख्तर पर बॉल को दांतों से खराब करने का आरोप लगा था।

    पाकिस्तान, 2006
    ओवल में इंग्लैंड के खिलाफ हुए टेस्ट मैच में पाकिस्तानी खिलाड़ियों पर बॉल खराब करने का आरोप लगा। इसके विरोध में कप्तान इंजमाम उल-हक चाय के बाद टीम को मैदान पर लेकर नहीं आए। बाद में इंग्लैंड को विजेता घोषित कर दिया गया।

    पाकिस्तान, 2010
    पर्थ में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हुए मैच में शाहिद आफरीदी पर बॉल को जानबूझ कर घिसने का आरोप लगा। वे दोषी पाए गए। उन पर दो टी-20 मैचों का प्रतिबंध लगाया गया था।

    इंडिया पर दो बार लगा बॉल टेंपरिंग का आरोप
    इंडियन क्रिकेट टीम पर दो बार बॉल टेंपरिंग का आरोप लग चुका है। पहला आरोप 2001 में लगा था। पोर्ट एलिजाबेथ में साउथ अफ्रीका के खिलाफ हुए मैच में सचिन तेंडुलकर पर बॉल टेंपरिंग का आरोप लगा। जिसके बाद उन्हें एक मैच के लिए बैन कर दिया गया। आरोप साबित नहीं होने पर बैन हटा लिया गया।
    - दूसरा आरोप साल 2004 में लगा था। ऑस्ट्रेलिया के ब्रिसबेन में जिम्बाब्वे के साथ हुए वनडे मैच में राहुल द्रविड़ पर बॉल पर जैली लगाने का आरोप लगा। मैच रेफरी क्लाइव लॉयड ने उन पर जुर्माना लगाया। अंपायर से बच निकले थे बेनक्रॉफ्ट, फिर किसने पकड़ी बॉल टेंपरिंग? सहवाग ने बताई पूरी कहानी

  • इस टीम पर लगा सबसे ज्यादा बॉल टेंपरिंग का आरोप, एक बार तो फील्ड पर ही नहीं आ रहे थे इनके कप्तान, sports news in hindi, sports news
    +2और स्लाइड देखें
  • इस टीम पर लगा सबसे ज्यादा बॉल टेंपरिंग का आरोप, एक बार तो फील्ड पर ही नहीं आ रहे थे इनके कप्तान, sports news in hindi, sports news
    +2और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Latest News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×