Hindi News »Sports »Cricket »Off The Field» Tax Wrangle May See India Lose Out On Hosting Champions Trophy & Wold Cup

देश में लग रहे टैक्स से आम आदमी ही नहीं, बल्कि ICC भी हुआ परेशान

दो बड़े-बड़े टूर्नामेंट की मेजबानी भारत को देने के बदले में ICC यहां लग रहे टैक्स में छूट चाहता है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Feb 13, 2018, 11:20 AM IST

  • देश में लग रहे टैक्स से आम आदमी ही नहीं, बल्कि ICC भी हुआ परेशान, sports news in hindi, sports news
    +2और स्लाइड देखें

    स्पोर्ट्स डेस्क.आपने देश में लगने वाले भारी-भरकम टैक्स की वजह से आम आदमी के परेशान होने की बात तो सुनी होगी, लेकिन हैरानी की बात ये है कि इससे क्रिकेट की सबसे बड़ी संस्था ICC (अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद) भी परेशान है। दरअसल टैक्स में छूट को लेकर इन दिनों ICC का BCCI और भारत सरकार के साथ विवाद चल रहा है, और अगर ये विवाद नहीं सुलझा तो भारत के हाथ से साल 2021 में होने वाली चैम्पियन्स ट्रॉफी और 2023 में होने वाले क्रिकेट वर्ल्ड कप की मेजबानी निकल जाएगी। ये है पूरा विवाद...

    - इन दोनों बड़े टूर्नामेंट की मेजबानी भारत को देने के बदले में ICC यहां लग रहे टैक्स में छूट चाहता है। लेकिन इस रिबेट को लेकर कोई बात नहीं बन पा रही है।
    - ICC ने भारतीय बोर्ड और सरकार के बीच चल रहे विवाद के कारण अब नए वैकल्पिक जगहों को ढूंढने पर भी विचार शुरू कर दिया है, जो इन दो टूर्नामेंट को निर्धारित वक्त और साल में इनकी मेजबानी कर सकते हैं।
    - आईसीसी ने एक बयान जारी करते हुए बताया, 'आईसीसी और भारतीय बोर्ड दोनों मिलकर सरकार से बात कर रहे हैं और बीच का रास्ता निकालते हुए टैक्स रिबेट लेने की कोशिश कर रहे हैं, जो दुनियाभर में आईसीसी टूर्नामेंटों के लिए नॉर्मल प्रोसेस है।'
    - इस विवाद को देखते हुए आईसीसी अब इन टूर्नामेंटों की मेजबानी के लिए श्रीलंका और बांग्लादेश पर फोकस कर रहा है। हालांकि किसी भी नई जगह को अगले 12 से 16 महीने में ही ढूंढा जाएगा। वहीं भारत चैम्पियंस ट्रॉफी की मेजबानी करेगा या नहीं इस पर आखिरी फैसला 2019 के अंत तक होगा।

    छूट नहीं मिली तो होगा इतना नुकसान

    - रिपोर्ट्स के मुताबिक अगर भारत सरकार टैक्स में छूट नहीं मिलती है तो ICC को इससे रेवेन्यू में 10 करोड़ डॉलर (करीब 642 करोड़ रु) का नुकसान होने का डर सता रहा है।
    - भारत सरकार ने साल 2016 में देश में हुए टी20 वर्ल्ड कप में भी किसी तरह की छूट देने से इनकार कर दिया था। जिससे आईसीसी को दो से तीन करोड़ डॉलर का नुकसान उठाना पड़ा था।
    - समझा जाता है कि उस वक्त टूर्नामेंट के ऑफिशियल ब्रॉडकास्टर स्टार इंडिया ने भारत सरकार को 10 प्रतिशत टैक्स के रूप में चुकाया था और आईसीसी को दिए पैसों में से इस रकम को काट लिया था।
    - इससे पहले साल 2006 में भारत में हुई चैम्पियंस ट्रॉफी और 2011 में हुए वर्ल्ड कप के दौरान सरकार ने इन टूर्नामेंटों के लिए कर में छूट दी थी। लेकिन 2015 के बाद नियमों में बदलाव हो गया।

  • देश में लग रहे टैक्स से आम आदमी ही नहीं, बल्कि ICC भी हुआ परेशान, sports news in hindi, sports news
    +2और स्लाइड देखें
  • देश में लग रहे टैक्स से आम आदमी ही नहीं, बल्कि ICC भी हुआ परेशान, sports news in hindi, sports news
    +2और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Off The Field

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×