क्रिकेट सेलिब्रिटीज

--Advertisement--

शानदार है परफॉर्मेंस, फिर भी टेस्ट टीम में इस इंडियन को नहीं मिलते ज्यादा मौके

भुवनेश्वर कुमार श्रीलंका के खिलाफ दिल्ली में होने वाला टेस्ट सीरीज का दूसरा मैच नहीं खेल सकेंगे।

Danik Bhaskar

Nov 22, 2017, 09:00 AM IST
भुवनेश्वर कुमार अपनी शादी की वजह से श्रीलंका के खिलाफ नागपुर में होने वाला सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच नहीं खेल पाएंगे। उनकी शादी 23 नवंबर को है। भुवनेश्वर कुमार अपनी शादी की वजह से श्रीलंका के खिलाफ नागपुर में होने वाला सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच नहीं खेल पाएंगे। उनकी शादी 23 नवंबर को है।

स्पोर्ट्स डेस्क. टीम इंडिया के स्टार बॉलर भुवनेश्वर कुमार श्रीलंका के खिलाफ 24 नवंबर से होने वाले सीरीज के दूसरे टेस्ट मैच में नहीं खेलेंगे। दरअसल 23 नवंबर को भुवनेश्वर की शादी है और इसी वजह से भुवी ने इस मैच से ब्रेक लिया है। भुवनेश्वर अब टीम इंडिया के स्टार बॉलर बन चुके हैं। लेकिन इस मुकाम तक पहुंचने के लिए उन्हें करीब 9 साल इंतजार करना पड़ा। भुवी को पहली बार तब पहचान मिली थी, जब उन्होंने फर्स्ट क्लास मैच में सचिन को जीरो पर आउट किया था। सचिन को आउट कर बनाया था रिकॉर्ड...

- भुवनेश्वर कुमार ही पहले ऐसे बॉलर हैं, जिन्होंने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में सचिन को शून्य पर आउट किया था।
- साल 2008/09 के रणजी ट्रॉफी फाइनल में यूपी की ओर से खेलते हुए भुवनेश्वर ने ये रिकॉर्ड बनाया था।
- एक इंटरव्यू में भुवनेश्वर ने उस ड्रीम विकेट के बारे में अपना एक्सपीरियंस शेयर किया था। भुवी के मुताबिक, 'मुंबई के साथ मैच में तेंडुलकर के सामने बॉलिंग को लेकर मैं काफी घबरा रहा था। इस बारे में मैंने टीम के साथी रहे आशीष विंस्टन जैदी को बताया।'
- तब जैदी ने भुवी को समझाते हुए कहा था, 'तेंडुलकर जान थोड़ी ले लेगा। ज्यादा से ज्यादा छह छक्के पड़ेंगे और क्या?' इसके बाद अगले दिन मैच के दौरान भुवनेश्वर ने अपनी 14वीं बॉल पर ही तेंडुलकर का ड्रीम विकेट लेते हुए रिकॉर्ड बना दिया था। तेंडुलकर उस मैच में अपना खाता भी नहीं खोल सके थे।

अब तक खेले केवल 19 टेस्ट


- भुवनेश्वर को टेस्ट मैचों में ज्यादा नहीं खेलने का मौका नहीं मिलता है। अपने करीब साढ़े चार साल के टेस्ट करियर में उन्हें सिर्फ 19 मैच खेलने को मिले हैं।
- भुवी ने फरवरी 2013 में टेस्ट डेब्यू किया था। जबकि भुवी से 9 महीने बाद नवंबर 2013 में टेस्ट डेब्यू करने मोहम्मद शमी अबतक अपने करियर में 26 टेस्ट मैच खेल चुके हैं।
- टेस्ट के मुकाबले भुवी का वनडे करियर ज्यादा बेहतर रहा है। दिसंबर 2012 में वनडे डेब्यू करने वाले भुवी अपने 5 साल के वनडे करियर में 78 मैच खेल चुके हैं। वहीं उनके मुकाबले जनवरी 2013 में डेब्यू करने वाले शमी ने वनडे करियर में सिर्फ 50 मैच ही खेले हैं।

ये हैं भुवनेश्वर की होने वाली वाइफ

- भुवनेश्वर कुमार मेरठ के गंगानगर की रहने वाली नुपूर नागर के साथ शादी करने जा रहे हैं। नुपूर ने मेरठ की जेपी एकेडमी से पढ़ाई करने के बाद नोएडा के एक प्राइवेट इंस्टीट्यूट से इंजीनियरिंग की डिग्री ली।
- इन दोनों के पिता पुलिस विभाग से रिटायर्ड हैं। भुवनेश्वर के पिता किरणपाल सिंह है, वहीं नुपूर के पिता का नाम यशपाल सिंह नागर हैं। भुवनेश्वर और नुपूर बचपन से एक-दूसरे को जानते हैं।
- इस इंडियन बॉलर की शादी के फंक्शन्स की शुरुआत 22 नवंबर को मेहंदी व संगीत के प्रोग्राम के साथ होगी।
- शादी 23 नवंबर को मेरठ के एक होटल में होगी, इसी दिन पहला रिसेप्शन भी होगा। इसके बाद 26 नवंबर को दूसरा रिसेप्शन बुलंदशहर में होगा। तीसरा और आखिरी रिसेप्शन 30 नवंबर को दिल्ली में होगा।

आगे की स्लाइड्स में देखें, भुवनेश्वर की पर्सनल लाइफ के फैक्ट्स...

भुवनेश्वर कुमार की फैमिली। उनकी बड़ी बहन का नाम रेखा है। भुवनेश्वर कुमार की फैमिली। उनकी बड़ी बहन का नाम रेखा है।

बहन की वजह से बने क्रिकेटर

 

 

- भुवनेश्वर कुमार का जन्म यूपी के मेरठ में 5 फरवरी 1990 को हुआ था। उनके पिता किरणपाल सिंह और मां का नाम इंद्रेश है।
- भुवी को क्रिकेटर बनाने में सबसे बड़ा क्रेडिट उनकी बड़ी बहन रेखा का है, जो उन्हें क्रिकेट कोचिंग लेकर गई थीं।
- बचपन से भुवनेश्वर का इंट्रेस्ट क्रिकेट में था, लेकिन पुलिस में होने की वजह से उनके पिता के पास वक्त नहीं रहता था। वहीं उनकी मां को क्रिकेट के बारे में कोई जानकारी नहीं थी।
- इसके बाद उनकी बहन रेखा जो कि भुवी से 7 साल बड़ी हैं, उन्होंने अपने भाई के टैलेंट को देखा और वे ही उन्हें पहली बार क्रिकेट स्टेडियम लेकर गईं।
- भुवनेश्वर जब 13 साल के थे, तब वे पहली बार स्टेडियम गए थे। जो कि उनके घर से करीब 7-8 किलोमीटर दूर था। शुरुआती दौर में रेखा ही उन्हें स्टेडियम लेने और छोड़ने जाती थीं। 
- इस क्रिकेटर का कहना है कि जब भी उन्हें क्रिकेट का कोई सामान खरीदना होता था, तो वे दीदी के साथ ही जाते थे। यहां तक कि उनकी बहन ने उनके टीचर्स से भी कह दिया था कि वे पढ़ाई के लिए ज्यादा प्रेशराइज ना करें।
- पिता का ट्रांसफर वाला जॉब होने की वजह से भुवी की दीदी ही उनकी पढ़ाई और क्रिकेट की कोचिंग का पूरा ध्यान रखती थीं। यहां तक कि कोच के साथ प्रोग्रेस के बारे में भी उनकी बहन ही डिस्कस करती थीं। 

भुवनेश्वर कुमार का जन्म 5 फरवरी 1990 को हुआ। उनके पिता का नाम किरणपाल सिंह और मां का नाम इंद्रेश है। भुवनेश्वर कुमार का जन्म 5 फरवरी 1990 को हुआ। उनके पिता का नाम किरणपाल सिंह और मां का नाम इंद्रेश है।
भुवनेश्वर को क्रिकेटर बनाने में उनकी बहन का सबसे बड़ा रोल रहा। भुवनेश्वर को क्रिकेटर बनाने में उनकी बहन का सबसे बड़ा रोल रहा।
टीम इंडिया के क्रिकेटर जसप्रीत बुमराह और मो. शमी के साथ भुवनेश्वर कुमार। टीम इंडिया के क्रिकेटर जसप्रीत बुमराह और मो. शमी के साथ भुवनेश्वर कुमार।
भुवनेश्वर की बहन रेखा, उनके हसबैंड और दोनों बच्चे। भुवनेश्वर की बहन रेखा, उनके हसबैंड और दोनों बच्चे।
अपने माता-पिता के साथ भुवनेश्वर। अपने माता-पिता के साथ भुवनेश्वर।
फीमेल फैन्स के साथ भुवनेश्वर। फीमेल फैन्स के साथ भुवनेश्वर।
भुवनेश्वर कुमार। भुवनेश्वर कुमार।
भुवनेश्वर कुमार। भुवनेश्वर कुमार।
भुवनेश्वर कुमार। भुवनेश्वर कुमार।
फीमेल फैन्स के साथ भुवनेश्वर। फीमेल फैन्स के साथ भुवनेश्वर।
भुवनेश्वर कुमार। भुवनेश्वर कुमार।
Click to listen..