'वरदा' शांत होने पर उठ सकता है विराट आैर अश्विन का तूफान, 45 और 33 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं दोनों; चेन्नई में गर्म कोयला रख सुखाई जा रही पिच / 'वरदा' शांत होने पर उठ सकता है विराट आैर अश्विन का तूफान, 45 और 33 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं दोनों; चेन्नई में गर्म कोयला रख सुखाई जा रही पिच

वरदा तूफान शांत हो जाता है तो चिदंबरम स्टेडियम में विराट और अश्विन रूपी तूफान उठ सकता है।

Dec 15, 2016, 08:09 AM IST
चेन्नई. इंग्लैंड के खिलाफ पांचवां और आखिरी टेस्ट शुक्रवार से यहां के एम ए चिदंबरम स्टेडियम में है। कुछ दिन पहले यहां वरदा तूफान आया था। हालांकि, अब हालात सामान्य हो रहे हैं। चेन्नई में गीली पिच और मैदान को सुखाने के लिए कोशिश जारी है। वहीं, शानदार फॉर्म में चल रहे विराट कोहली और ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन यहां 45 और 33 साल पुराने रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं। विराट की कोशिश होगी सुनील गावसकर के एक सीरीज में सबसे ज्यादा रनों के रिकॉर्ड को तोड़ने की। वहीं, अश्विन कपिल देव के एक कैलेंडर वर्ष में 75 विकेटों के रिकॉर्ड को तोड़ना चाहेंगे। विराट तोड़ सकते हैं गावसकर का ये रिकॉर्ड...

- गावसकर ने 1970-71 में अपनी पहली ही सीरीज में वेस्ट इंडीज की जमीन पर 774 रन बनाने का जो रिकॉर्ड बनाया था, वह आज तक कायम है।
- यही नहीं, भारतीय टेस्ट इतिहास में गावसकर एकमात्र ऐसे खिलाड़ी हैं, जिन्होंने दो बार एक सीरीज में 700 से अधिक रन बनाए हैं।
- नई भारतीय रन मशीन विराट के पास आखिरी टेस्ट में गावसकर का रिकॉर्ड तोड़ने का पूरा मौका रहेगा।
- मुंबई में चौथे टेस्ट में अपने करियर का बेस्ट 235 रन की पारी खेलने वाले विराट मौजूदा सीरीज में अब तक 128.00 के औसत से 640 रन बना चुके हैं, जिसमें दो शतक तथा दो 50 शामिल हैं। विराट को गावसकर का 45 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ने के लिए 135 रन की जरूरत है।
- विराट जिस फॉर्म में खेल रहे हैं, उसे देखते हुए यह रिकॉर्ड टूट सकता है, लेकिन विराट के आड़े 'वरदा' तूफान आ सकता है जिसने तमिलनाडु में तबाही मचाई है और उसका असर चेन्नई टेस्ट पर भी दिखाई दे सकता है।

गावसकर का कमाल : लिटिल मास्टर सुनील गावसकर ने 1970-71 की सीरीज में चार टेस्टों में ही 154.80 के औसत से 774 रन बनाए थे। उन्होंने इसके बाद 1978-79 में वेस्ट इंडीज के खिलाफ घरेलू सीरीज में छह टेस्टों में 91.50 के औसत से 732 रन बनाए थे। इन दोनों ही सीरीज में गावसकर ने 4-4 शतक बनाए थे।
क्यों विराट ही तोड़ सकते हैं ये रिकॉर्ड
- गावसकर के इन कीर्तिमानों के नजदीक यदि कोई भारतीय बल्लेबाज पहुंचा है तो वह मौजूदा कप्तान विराट कोहली हैं, जिन्हें इस समय दुनिया का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज माना जा रहा है।
- विराट ने 2014-15 में ऑस्ट्रेलिया दौरे में चार टेस्टों में 86.50 के औसत से 692 रन बनाए थे और इस सीरीज में उन्होंने चार शतक बनाकर गावसकर के एक सीरीज में चार शतकों के भारतीय रिकॉर्ड की बराबरी की थी।
इस साल विराट का आंकड़ा
- विराट ने इस साल तीन दोहरे शतक बनाए हैं। मुंबई टेस्ट के 235 रन से पहले विराट ने वेस्ट इंडीज में 200 रन और न्यूजीलैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज में 211 रन बनाए थे।
- विराट इस साल 11 मैचों में 1200 रन बना चुके हैं और इस कैलेंडर वर्ष में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाजों में चौथे नंबर पर हैं।
- विराट ने इस साल सबसे ज्यादा चार शतक बनाए हैं।

कपिल से आगे निकलेंगे अश्विन
- ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन चार मैचों में 27 विकेट हासिल कर चुके हैं, जिसमें पारी में पांच विकेट तीन बार और टेस्ट में 10 विकेट एक बार शामिल हैं।
- अश्विन के हिस्से में इस साल 11 मैचों में 71 विकेट आ चुके हैं, जिसमें पारी में पांच विकेट आठ बार और टेस्ट में 10 विकेट तीन बार शामिल हैं।
- अश्विन के पास एक कैलेंडर वर्ष में पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज कपिल देव का सर्वाधिक 75 विकेट लेने का रिकॉर्ड तोड़ने का शानदार मौका है।
- कपिल ने 1983 में 18 मैचों में 75 विकेट हासिल किए थे, जबकि अश्विन ने 11 मैचों में 71 विकेट ले लिए हैं।
- चेन्नई वैसे भी अश्विन का घरेलू मैदान है और इस मैदान में 2013 में उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कुल 12 विकेट हासिल किए थे।
- अश्विन ने उस मैच में पहली पारी में 103 रन पर सात विकेट और दूसरी पारी में 95 रन पर पांच विकेट लिए थे। भारत ने यह मैच आठ विकेट से जीता था।
X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना