--Advertisement--

धोनी के साथ खेल चुके इस क्रिकेटर की टीम में एंट्री, पंड्या को मिलेगी टक्कर

भुवनेश्वर कुमार की जगह तमिलनाडु के ऑलराउंडर विजय शंकर को श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट टीम इंडिया में शामिल किया गया है।

Danik Bhaskar | Nov 21, 2017, 06:52 PM IST
एमएस धोनी और विजय शंकर। एमएस धोनी और विजय शंकर।

स्पोर्ट्स डेस्क. भुवनेश्वर कुमार ने अपनी शादी के लिए क्रिकेट से ब्रेक लिया है। उनकी जगह श्रीलंका के खिलाफ दूसरे टेस्ट के लिए तमिलनाडु के क्रिकेट विजय शंकर की टीम इंडिया में एंट्री हुई है। इस सिलेक्शन से विजय हैरान हैं। उन्होंने कहा, ‘मुझे उम्मीद नहीं थी कि इतनी जल्दी ये मौका मिल जाएगा।’ बता दें कि ऑलराउंडर विजय लगातार इंडिया-ए के लिए खेलते हुए बढ़िया परफॉर्म कर रहे हैं। चीफ सिलेक्टर एमएसके प्रसाद भी विजय की तारीफ कर चुके हैं। खेल चुके हैं धोनी के साथ...

- विजय शंकर भारत के सफल कप्तानों में से एक एमएस धोनी के साथ खेल चुके हैं। साल 2014 में विजय आईपीएल में फ्रेंचाइजी टीम चेन्नई सुपरकिंग्स में थे।

- इस सीजन में उन्हें एक मैच में खेलना का मौका मिला था। धोनी तब इसी टीम के कप्तान थे। 2015 तक धोनी इसी टीम में रहे हैं।

- 2016 के आईपीएल ऑक्शन में विजय को सनराइजर्स हैदराबाद टीम ने खरीदा। हालांकि, उस साल उन्हें एक भी मैच में मौका नहीं मिला, लेकिन 2017 में उन्होंने 4 मैच खेले।

हार्दिंक पंड्या को ऐसे मिल सकती है टक्कर

- विजय शंकर ऑलराउंडर हैं और पंड्या भी ऑलराउंडर हैं। विजय दाएं हाथ के मीडिया पेसर हैं, पंड्या भी फास्ट बॉलर हैं।

- ऑलराउंडर होने के कारण ही पंड्या को टेस्ट टीम में जगह मिली है। फिलहास उन्हें रेस्ट दिया गया है। वहीं, विजय को यदि प्लेइंग इलेवन में मौका मिलता है और वो मौका का सही फायदा उठाते हैं जो टीम मैनेजमेंट उन्हें पंड्या के ऑप्शन के तौर पर तैयार कर सकता है।

आगे की स्लाइड्स में जानें विजय शकंर का कौन है रोल मॉडल और किस क्रिकेटर ने उन्हें बनाया ऑलराउंडर....

राहुल द्रविड़ के साथ विजय शंकर। राहुल द्रविड़ के साथ विजय शंकर।

राहुल द्रविड़ हैं रोल मॉडल

- विजय शंकर के फेवरेट क्रिकेटर और रोल मॉडल राहुल द्रविड़ हैं। गौरतलब है कि द्रविड़ इंडिया-ए टीम के कोच भी हैं।

- विजय के अनुसार, ‘उन्हें (द्रविड़) क्रिकेट की जबरदस्त नॉलेज है। उनके टिप्स बहुत काम के हैं। वो ज्यादा से ज्यादा फोकस मानसिक तैयारी पर करते हैं।’

 

विजय शंकर। विजय शंकर।

बालाजी ने बदला करियर

- 20 साल की उम्र तक विजय स्पिन बॉलिंग करते थे। इसके बाद उन्होंने फास्ट बॉलिंग पर फोकस किया, लेकिन उनमें वो स्पीड और टेक्निक नहीं थी।

- विजय के अनुसार, ‘तमिलनाडु के बॉलिंग को एल. बालाजी ने सुधारने में काफी हेल्प की। मैंने अपनी स्पीड पर जबरदस्त काम किया। बालाजी ने मुझे ये समझने में बहुत मदद की कि नॉन बॉलिंग आर्म का किस तरह से सही इस्तेमाल करना है। उन्होंने मेरा रन-अप भी सुधारा। इससे मुझे बहुत हेल्प मिली।’

विजय के पिता और भाई भी क्रिकेट खेल चुके हैं। विजय के पिता और भाई भी क्रिकेट खेल चुके हैं।

पिता-भाई भी रहे हैं क्रिकेटर

- विजय शंकर के पिता और भाई अजय भी क्रिकेट खेल चुके हैं। दोनों ने तमिलनाडु के लिए लोअर डिवीजन क्रिकेट खेला है। 26 साल के हो चुके विजय ने भी फरवरी, 2012 में फर्स्ट क्लास क्रिकेट में डेब्यू कर डोमेस्टिक करियर शुरू किया था।

IPL टीम सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान डेविड वॉर्नर के साथ विजय शकंर। IPL टीम सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान डेविड वॉर्नर के साथ विजय शकंर।

विजय शंकर का IPL करियरः

 

मैचः 5

रनः 101

बेस्टः 63*

विकेटः 0

अपनी इंडिया-ए टीम के साथी क्रिकेटर्स के साथ विजय शंकर (दाएं)। अपनी इंडिया-ए टीम के साथी क्रिकेटर्स के साथ विजय शंकर (दाएं)।
अपनी आईपीएल टीम के साथ खिलाड़ी युवराज सिंह के साथ विजय। अपनी आईपीएल टीम के साथ खिलाड़ी युवराज सिंह के साथ विजय।