Home | Sports | Cricket | Latest News | New Zealand won second T20 match against India by 40 runs

पांच कारणों से हुई दूसरे टी20 में भारत की हार, मुनरो को मिली 3 लाइफलाइन

राजकोट में हुए इस मैच में न्यूजीलैंड की ओर से पहले विकेट के लिए 105 रन की पार्टनरशिप हुई। जो भारत पर भारी पड़ी।

dainikbhaskar.com| Last Modified - Nov 05, 2017, 01:04 AM IST

1 of
New Zealand won second T20 match against India by 40 runs
स्पोर्ट्स डेस्क. न्यूजीलैंड सीरीज के दूसरे टी20 मैच में भारत को 40 रन से हरा दिया। मैच में टीम इंडिया को 197 रन का टारगेट मिला था, लेकिन मेजबान टीम सिर्फ 156/7 रन ही बना सकी। राजकोट में हुए इस मैच में कीवी प्लेयर्स हर मामले में इंडियन प्लेयर्स से आगे रहे। इस जीत के साथ ही कीवी टीम ने सीरीज में 1-1 की बराबरी कर ली। अब सीरीज का फैसला 7 नवंबर को तिरुवनंतपुरम में होने वाले आखिरी टी20 मैच से होगा। 
 

ऐसा रहा मैच का रोमांच

 
- मैच में न्यूजीलैंड की टीम ने टॉस जीतकर पहले बैटिंग का फैसला किया। जिसे कोलिन मुनरो और मार्टिन गुप्टिल ने सही साबित कर दिया।
- दोनों ओपनर्स ने मिलकर पहले विकेट के लिए 67 बॉल पर 105 रन जोड़े। इसके बाद दूसरे विकेट के लिए 35 रन की पार्टनरशिप हुई।
- कीवी टीम के लिए कोलिन मुनरो ने 58 बॉल पर 109* रन की इनिंग खेली, वहीं गुप्टिल 45 रन बनाकर आउट हुए।
- जवाब में टारगेट का पीछा करने उतरी टीम इंडिया की शुरुआत बेहद खराब रही और दूसरे ओवर में ही दोनों ओपनर्स पवेलियन लौट गए।
- तीसरे विकेट के लिए विराट और अय्यर ने 54 रन जोड़े। वहीं पांचवें विकेट के लिए धोनी और विराट के बीच 56 रन की पार्टनरशिप हुई।
- भारत की ओर से कप्तान विराट कोहली ने सबसे ज्यादा 65 तो धोनी ने 49 रन बनाए। अय्यर 23 रन बनाकर तीसरे हाइएस्ट स्कोरर रहे।
- टारगेट का पीछा करते हुए मेजबान टीम 20 ओवरों में 156/7 रन ही बना सकी। कोलिन मुनरो प्लेयर ऑफ द मैच चुने गए।
 

मैच में टीम इंडिया की हार के 5 बड़े कारण

 
1- मुनरो को आउट करने के छोड़े तीन चांस
2- फेल साबित हुए टीम के फास्ट बॉलर्स
3- फ्लॉप रहे दोनों स्पिनर
4- अच्छी शुरुआत देने में नाकाम रहे ओपनर्स
5- मिडिल ऑर्डर में जिम्मेदारी नहीं निभा सके विराट-धोनी
 
मुनरो को मिली तीन लाइफलाइन
 
- मैच में न्यूजीलैंड की ओर से कोलिन मुनरो ने जबरदस्त बैटिंग करते हुए सेन्चुरी लगाई। वे 109* रन पर नॉट आउट रहे।
- भारत की हार की सबसे बड़ी वजह कोलिन मुनरो की सेन्चुरी रही, जो टीम की बेहद खराब फील्डिंग की वजह से बन सकी।
- मुनरो को मैच में तीन मौकों पर जीवनदान मिले, जिसके बाद वे सेन्चुरी लगा सके। उस वक्त वे 45, 52 और 79 रन पर बैटिंग कर रहे थे।
- अगर इंडियन फील्डर्स ने सही वक्त पर मुनरो का विकेट ले लिया होता, तो न्यूजीलैंड की टीम इतना बड़ा स्कोर नहीं बना पाती। हालांकि वे नॉटआउट ही लौटे।
 
 
धोनी ने छोड़ा रन आउट चांस
 
- मैच में कोलिन मुनरो को पहली लाइफलाइन 10.6 ओवर में अक्षर पटेल की बॉल पर मिली। जब बाउंड्री पर खड़े श्रेयस अय्यर उनका कैच नहीं ले सके। उस वक्त मुनरो 45 रन पर बैटिंग कर रहे थे।
- इसके बाद मुनरो को दूसरी लाइफलाइफ 11.6 ओवर में मिली। जब रोहित शर्मा के थ्रो पर धोनी ने उन्हें रनआउट करने का चांस मिस कर दिया। उस वक्त मुनरो 52 रन पर खेल रहे थे। रोहित का थ्रो जरूर खराब था, लेकिन धोनी भी बॉल को नहीं पकड़ सके और मुनरो बच गए।
- मुनरो को तीसरी लाइफलाइफ 15.1 ओवर में भुवनेश्वर कुमार की बॉल पर मिली। जब युजवेंद्र चहल ने हाथ में आया मुनरो का कैच छोड़ दिया। उस वक्त मुनरो 79 रन पर खेल रहे थे।
 
टी20 में विराट की बड़ी कामयाबी
 
- इस मैच में भारतीय कप्तान विराट कोहली ने 42 बॉल पर 65 रन बनाए। जिसमें 8 चौके और 1 सिक्स भी लगाया।
- मैच में 12वां रन बनाते ही विराट टी20 इंटरनेशनल मैचों में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले दुनिया के दूसरे बैट्समैन बन गए।
- विराट ने ये अचीवमेंट श्रीलंका के तिलकरत्ने दिलशान (1889 रन) पीछे छोड़कर हासिल किया। विराट के अब 1943 रन हो गए हैं।
- इसके अलावा मैच में 10 रन बनाते ही टी20 फॉर्मेट में उनके 7 हजार रन पूरे हो गए। वे ऐसा करने वाले पहले इंडियन हैं।
- विराट ने टी20 करियर की 212वीं इनिंग में 7 हजार रन पूरे किए। क्रिस गेल (192 इनिंग) के बाद सबसे कम मैचों में ऐसा करने वाले वे दुनिया के दूसरे बैट्समैन हैं।

आगे की स्लाइड्स में जानें, टीम इंडिया की हार के बाकी कारणों के बारे में...
New Zealand won second T20 match against India by 40 runs
फेल साबित हुए भारत के फास्ट बॉलर्स
 
- जिस पिच पर न्यूजीलैंड के फास्ट बॉलर ट्रेंट बोल्ट ने 4 विकेट ले लिए। उसी पिच पर टीम इंडिया के चार फास्ट बॉलर्स मिलकर केवल 1 विकेट ही ले सके।
- भारत की ओर से मैच में जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर कुमार के अलावा मोहम्मद सिराज और हार्दिक पंड्या ने भी फास्ट बॉलिंग की। लेकिन सिराज को छोड़ इनमें से किसी को विकेट नहीं मिला।
- टीम के दोनों स्पेशलिस्ट बॉलर्स (बुमराह और भुवनेश्वर) मैच में फेल रहे और विकेट नहीं ले सके। हालांकि दोनों ने न्यूजीलैंड के बैट्समैन को अपने ओवरों में ज्यादा रन नहीं बनाने दिए।
- वहीं बाकी दोनों बॉलर यानी सिराज और पंड्या काफी महंगे साबित हुए। इनमें से डेब्यू मैच खेल रहे मो. सिराज ने 4 ओवरों में 13.25 की इकोनॉमी से 53 रन लुटा दिए। वे सबसे महंगे साबित हुए, हालांकि उन्हें एक विकेट जरूर मिला।
- हार्दिक पंड्या ने मैच में सिर्फ एक ही ओवर डाला, लेकिन इसमें भी उन्होंने 14 रन दे दिए। भारत की हार की दूसरी बड़ी वजह टीम के फास्ट बॉलर्स की खराब बॉलिंग भी रही। विकेट नहीं गिरने की वजह से कीवी टीम इतने रन बना सकी।
New Zealand won second T20 match against India by 40 runs
फ्लॉप रहे टीम के दोनों स्पिनर
 
- मैच में टीम इंडिया के दोनों स्पिनर्स (युजवेंद्र चहल और अक्षर पटेल) भी फ्लॉप साबित हुए और दोनों की बॉल पर कीवी बैट्समैन ने खूब रन बनाए।
- चहल ने मैच में 4 ओवर बॉलिंग की, जिसमें 9 की इकोनॉमी से 36 रन देकर 1 विकेट लिया। उधर अक्षर पटेल ने मैच में 3 ओवर बॉलिंग की, जिसमें उन्होंने 39 रन लुटा दिए और कोई विकेट भी नहीं ले सके।
- दोनों स्पिनर्स ने मिलकर 7 ओवरों में 75 रन दे दिए। अक्षर मैच में सबसे ज्यादा रन लुटाने वाले भारत के दूसरे बॉलर साबित हुए। 
New Zealand won second T20 match against India by 40 runs
अच्छी शुरुआत देने में नाकाम रहे ओपनर्स
 
 
- मैच में टारगेट का पीछा करने उतरी टीम इंडिया की शुरुआत बेहद खराब थी और पहले विकेट के लिए केवल 6 रन की पार्टनरशिप हुई।
- शिखर धवन सिर्फ एक रन बनाकर आउट हो गए। इसके थोड़ी देर बाद ही दूसरा विकेट भी गिर गया। जब रोहित शर्मा 5 रन बनाकर आउट हो गए।
- न्यूजीलैंड की जीत में सबसे बड़ा हाथ उनके ओपनर्स का रहा, जिन्होंने पहले विकेट के लिए 105 रन की पार्टनरशिप की। वहीं इसके मुकाबले भारत के ओपनर्स पहले विकेट के लिए सिर्फ 6 रन ही जोड़ सके।
New Zealand won second T20 match against India by 40 runs
मिडिल ऑर्डर में जिम्मेदारी नहीं निभा सके विराट-धोनी
 
 
- शुरुआती दो विकेट जल्दी गिर जाने के बाद कप्तान विराट कोहली ने श्रेयस अय्यर के साथ मिलकर कुछ देर टिककर बैटिंग की। इस दौरान तीसरे विकेट के लिए 54 रन जुड़े।
- अय्यर के आउट होने के बाद हार्दिक पंड्या बैटिंग करने आए, लेकिन वे भी सिर्फ 1 रन बनाकर चलते बने। ईश सोढ़ी ने उन्हें बोल्ड कर दिया।
- 9.1 ओवर में भारत का स्कोर 4 विकेट पर 67 रन था और टीम बेहद मुश्किल में फंस चुकी थी। इसके बाद बैटिंग पर उतरने की बारी एमएस धोनी की थी।
- धोनी ने क्रीज पर आने के बाद विराट के साथ मिलकर रन बनाना शुरू किया। दोनों ने संभलकर खेलते हुए पांचवें विकेट के लिए 56 रन जोड़ दिए।
- इसके बाद कप्तान विराट कोहली बेहद लापरवाही के साथ शॉट मारने की कोशिश में आगे बढ़े, और सैंटनर की बॉल पर विकेट के पीछे फिलिप्स को कैच दे बैठे।
- विराट इतनी लापरवाही बरत रहे थे कि अगर उस वक्त वे कैच आउट नहीं भी होते तो वे इतने बाहर थे कि विकेटकीपर ने उन्हें स्टम्पिंग कर दिया होता।
- कप्तान के आउट होने के बाद टीम की जीतने की उम्मीद खत्म हो चुकी थी। लेकिन इसके बाद भी धोनी से फैन्स को काफी उम्मीदें थीं। हालांकि वे भी 49 रन बनाकर आखिरी ओवर में आउट होकर चल दिए।
prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now