• Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • It has been learnt that the Indian team management wants tracks that are hard and bouncy without any major grass covering for all three home Tests
--Advertisement--

SA टूर के लिए IND की खास तैयारी, SL टेस्ट सीरीज में होंगे ये एक्सपेरिमेंट

साउथ अफ्रीका टूर की तैयारियों के लिए इंडियन टीम मैनेजमेंट ने टीम के फास्ट बॉलर्स को ज्यादा चांस देने का फैसला किया है।

Dainik Bhaskar

Nov 14, 2017, 10:52 AM IST
भारतीय क्रिकेट टीम मैनेजमेंट ने साउथ अफ्रीका टूर की तैयारियों के लिए श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में कई फास्ट बॉलर्स को चांस देने का फैसला किया है। भारतीय क्रिकेट टीम मैनेजमेंट ने साउथ अफ्रीका टूर की तैयारियों के लिए श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में कई फास्ट बॉलर्स को चांस देने का फैसला किया है।
कोलकाता. श्रीलंका के साथ अपकमिंग टेस्ट, वनडे और टी20 सीरीज खत्म होने के बाद टीम इंडिया नए साल में साउथ अफ्रीका टूर पर जाएगी। इस दौरे के लिए भारतीय टीम मैनेजमेंट ने अभी से फोकस करते हुए तैयारियां शुरू कर दी हैं। अफ्रीका टूर को ध्यान में रखकर ही भारतीय टीम मैनेजमेंट श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में कुछ एक्सपेरिमेंट करने का फैसला लिया है, जिसका फायदा टीम को अफ्रीका टूर पर मिलेगा। इन बॉलर्स पर रहेगा फोकस...
- साउथ अफ्रीका में भारत के मुकाबले फास्ट बॉलर्स के लिए मददगार पिच बनाई जाती है। जिसके चलते वहां पिचों पर ज्यादा स्पीड और उछाल मिलती है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए इंडियन टीम मैनेजमेंट ने श्रीलंका के खिलाफ होने वाली तीन टेस्ट मैचों की घरेलू सीरीज में बिना घास वाले हार्ड और बाउंसी विकेट की मांग की है, जैसा कि उन्हें अफ्रीका में मिलेगा।
- मैनेजमेंट की डिमांड को ध्यान में रखकर ईडन गार्डन्स के ग्राउंडमैन ने पिच पर से घास को हटा दिया है। दरअसल अफ्रीका की पिच स्पिनर्स फ्रेंडली नहीं होती। इसी वजह से इंडियन टीम मैनेजमेंट श्रीलंका के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज में फास्ट बॉलर्स को ज्यादा मौका दे सकती है।
- खबरों के मुताबिक श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में टीम इंडिया तीन स्पेशलिस्ट फास्ट बॉलर्स को प्लेइंग इलेवन के साथ उतरेगी। ताकि अफ्रीका सीरीज के लिए अभी से तैयारियां हो सकें।
- उधर भारतीय कप्तान विराट कोहली ने भी अफ्रीका टूर के दौरान फास्ट बॉलर्स का सामना करने के लिए तैयारी शुरू कर दी हैं। भारतीय कप्तान इन दिनों रिवर्स स्विंग को खेलने के लिए रेड और यलो बॉल से प्रैक्टिस करने में जुटे हुए हैं।
- ये बॉल स्पेशली उन बैट्समैन के लिए होती हैं, जो रिवर्स स्विंग को खेलने की प्रैक्टिस करना चाहते हैं। इस बॉल की सीम एक तरफ से यलो होती है, वहीं दूसरा हिस्सा लाल ही रहता है।
- अपने करियर के आखिरी दिनों में सचिन भी इसी तरह की बॉल्स से प्रैक्टिस किया करते थे। दिल्ली समेत कई रणजी टीमें भी अपने बैट्समैन को इसी बॉल से प्रैक्टिस कराती हैं।
आगे की स्लाइड्स में देखें, अफ्रीका टूर की तैयारी के लिए टीम इंडिया के पास कौन-कौन से फास्ट बॉलर्स हैं...
उमेश यादव। उमेश यादव।
उमेश यादव का टेस्ट करियरः
 
टेस्ट- 34
विकेट- 94
एवरेज- 35.93
इकोनॉमी- 3.62
मोहम्मद शमी। मोहम्मद शमी।
मोहम्मद शमी का टेस्ट करियरः
 
टेस्ट- 25
विकेट- 86
एवरेज- 30.87
इकोनॉमी- 3.41
भुवनेश्वर कुमार। भुवनेश्वर कुमार।
भुवनेश्वर कुमार का टेस्ट करियरः
 
टेस्ट- 18
विकेट- 45
एवरेज- 29.88
इकोनॉमी- 2.96
ईशांत शर्मा। ईशांत शर्मा।
इशांत शर्मा का टेस्ट करियरः
 
टेस्ट- 77
विकेट- 218
एवरेज- 36.93
इकोनॉमी- 3.26
X
भारतीय क्रिकेट टीम मैनेजमेंट ने साउथ अफ्रीका टूर की तैयारियों के लिए श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में कई फास्ट बॉलर्स को चांस देने का फैसला किया है।भारतीय क्रिकेट टीम मैनेजमेंट ने साउथ अफ्रीका टूर की तैयारियों के लिए श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में कई फास्ट बॉलर्स को चांस देने का फैसला किया है।
उमेश यादव।उमेश यादव।
मोहम्मद शमी।मोहम्मद शमी।
भुवनेश्वर कुमार।भुवनेश्वर कुमार।
ईशांत शर्मा।ईशांत शर्मा।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..