क्रिकेट सेलिब्रिटीज

--Advertisement--

जब सुनामी ने किया था बर्बाद 7 साल बाद उसी दिन किया डेब्यू, आज हैं कप्तान

सुनामी में सब कुछ खोने के बाद दिनेश चांडीमल ने नए सिरे से जीवन की शुरुआत की और 7 साल बाद उन्हें सफलता मिली।

Dainik Bhaskar

Nov 14, 2017, 12:01 AM IST
दिनेश चांडीमल। दिनेश चांडीमल।
स्पोर्ट्स डेस्क. 26 दिसंबर, 2004 को श्रीलंका में आई जबरदस्त सुनामी में करीब 40 हजार लोग मारे गए थे और 2.5 करोड़ से ज्यादा बेघर हो गए थे। इन्हीं में से एक था 15 साल का बच्चा दिनेश चांडीमल। वही दिनेश चांडीमल जो इस वक्त भारत दौरे पर आई श्रीलंकाई क्रिकेट टीम का कप्तान है। इस भयंकर तूफान के वक्त चांडीमल न्यूजीलैंड और श्रीलंका के बीच चल रहे बॉक्सिंग डे वनडे मैच को देख रहे थे। बॉक्सिंग डे क्रिसमस (25 दिसंबर) के अगले दिन को कहते हैं। ये दिन इंग्लैंड सहित कई देशों में सेलिब्रेट किया जाता है। बॉक्सिंग डे ने बदली चांडीमल की जिंदगी....
- 2004 में बॉक्सिंग डे के दिन ही श्रीलंका में आई सुनामी का शिकार हुए थे दिनेश चांडीमल। तब समुद्र के नीचे आए 9 से अधिक तीव्रता के भूकंप ने सबसे ज्यादा श्रीलंका में तबाही मचाई थी।
- चांडीमल के अनुसार, ‘किस्मत से उस हादसे में हमारे परिवार के सभी लोग सुरक्षित थे, लेकिन हमारा सब कुछ खत्म हो गया था। मेरी क्रिकेट किट बह गई थी।’
- ‘इसके कुछ दिनों बाद मुझे ट्रायल के लिए कोलंबो जाना था। मैंने किट बैग को ढूंढना शुरू किया। 2 किलोमीटर दूर बैग मिला, लेकिन बिल्कुल गीला और खराब हालत में। वो इस्तेमाल के लायक नहीं बचा था।’
- इसके बावजूद दिनेश और उनकी फैमिली ने क्रिकेट का साथ नहीं छोड़ा। दिनेश लगातार स्कूल और कॉलेज की टीम में मेहनत करते रहे। सुनामी ने उन्हें क्रिकेट में करियर के लिए और मोटिवेट कर दिया था।
7 साल की मेहनत के बाद बदली किस्मत
- जिस बॉक्सिंग डे ने चांडीमल को बर्बाद कर दिया था, उसके ठीक 7 साल बाद उसी दिन उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में कदम रखा। 26 दिसंबर, 2011 को चांडीमल ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ करियर का पहला टेस्ट मैच खेला।
- पहला ही मैच उनके लिए सफल रहा। चांडीमल ने 58 और 54 रन की इनिंग खेली। ये मैच श्रीलंका ने 208 रन से जीता।
आगे की स्लाइड्स में पढ़ें, दिनेश चांडीमल के श्रीलंकाई टीम का कप्तान बनने तक का सफर....
दिनेश चंडीमल ने करियर की शुरुआत बतौर ऑफ स्पिनर की थी लेकिन 2 मैच बाद ही उन्हें विकेट कीपिंग के लिए ग्लव्स थमा दीए गए। दिनेश चंडीमल ने करियर की शुरुआत बतौर ऑफ स्पिनर की थी लेकिन 2 मैच बाद ही उन्हें विकेट कीपिंग के लिए ग्लव्स थमा दीए गए।
17 साल की उम्र तक दिनेश अच्छे विकेट कीपर बन चुके थे। इसकी वजह से ही उन्हें टीम में जगह मिलती थी। इसके बाद उन्होंने अपनी बैटिंग पर ध्यान दिया। 17 साल की उम्र तक दिनेश अच्छे विकेट कीपर बन चुके थे। इसकी वजह से ही उन्हें टीम में जगह मिलती थी। इसके बाद उन्होंने अपनी बैटिंग पर ध्यान दिया।
बैटिंग पर फोकस करते ही दिनेश ने स्कूल लेवल का 40 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया। कुमार संगाकारा की सलाह पर उन्होंने अपने खेल को इम्प्रूव किया। बैटिंग पर फोकस करते ही दिनेश ने स्कूल लेवल का 40 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया। कुमार संगाकारा की सलाह पर उन्होंने अपने खेल को इम्प्रूव किया।
2010 में odi और t20 डेब्यू के बाद दिनेश ने 2011 में उसी दिन टेस्ट डेब्यू किया जब 7 साल पहले सुनामी ने उनसे सब कुछ छीन लिया था। 2014 t20 वर्ल्ड कप में दिनेश श्रीलंका टीम के कप्तान बन गए थे। 2010 में odi और t20 डेब्यू के बाद दिनेश ने 2011 में उसी दिन टेस्ट डेब्यू किया जब 7 साल पहले सुनामी ने उनसे सब कुछ छीन लिया था। 2014 t20 वर्ल्ड कप में दिनेश श्रीलंका टीम के कप्तान बन गए थे।
X
दिनेश चांडीमल।दिनेश चांडीमल।
दिनेश चंडीमल ने करियर की शुरुआत बतौर ऑफ स्पिनर की थी लेकिन 2 मैच बाद ही उन्हें विकेट कीपिंग के लिए ग्लव्स थमा दीए गए।दिनेश चंडीमल ने करियर की शुरुआत बतौर ऑफ स्पिनर की थी लेकिन 2 मैच बाद ही उन्हें विकेट कीपिंग के लिए ग्लव्स थमा दीए गए।
17 साल की उम्र तक दिनेश अच्छे विकेट कीपर बन चुके थे। इसकी वजह से ही उन्हें टीम में जगह मिलती थी। इसके बाद उन्होंने अपनी बैटिंग पर ध्यान दिया।17 साल की उम्र तक दिनेश अच्छे विकेट कीपर बन चुके थे। इसकी वजह से ही उन्हें टीम में जगह मिलती थी। इसके बाद उन्होंने अपनी बैटिंग पर ध्यान दिया।
बैटिंग पर फोकस करते ही दिनेश ने स्कूल लेवल का 40 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया। कुमार संगाकारा की सलाह पर उन्होंने अपने खेल को इम्प्रूव किया।बैटिंग पर फोकस करते ही दिनेश ने स्कूल लेवल का 40 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया। कुमार संगाकारा की सलाह पर उन्होंने अपने खेल को इम्प्रूव किया।
2010 में odi और t20 डेब्यू के बाद दिनेश ने 2011 में उसी दिन टेस्ट डेब्यू किया जब 7 साल पहले सुनामी ने उनसे सब कुछ छीन लिया था। 2014 t20 वर्ल्ड कप में दिनेश श्रीलंका टीम के कप्तान बन गए थे।2010 में odi और t20 डेब्यू के बाद दिनेश ने 2011 में उसी दिन टेस्ट डेब्यू किया जब 7 साल पहले सुनामी ने उनसे सब कुछ छीन लिया था। 2014 t20 वर्ल्ड कप में दिनेश श्रीलंका टीम के कप्तान बन गए थे।
Click to listen..