एक फैसले से पलट गया था दूसरा मैच, अब रैफरी से शिकायत करेगा इंग्लैंड

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
स्पोर्ट्स डेस्क. भारत और इंग्लैंड के बीच रविवार को नागपुर में हुए दूसरे टी-20 मैच में जो रूट का आखिरी ओवर में lbw होना मैच का टर्निंग प्वाइंट रहा, जिसके बाद इंग्लैंड ये मैच 5 रन से हार गया था। अब इंग्लिश टीम के कप्तान इयान मोर्गन ने कहा है कि वे इस मामले को आईसीसी के मैच रैफरी के सामने उठाएंगे। अंपायर ने दिया था विवादास्पद फैसला...
 
- नागपुर में हुए इस मैच में जसप्रीत बुमराह के आखिरी ओवर की पहली बॉल पर अंपायर सी शमशुद्दीन ने जो रूट को lbw आउट दे दिया था।
- जबकि टीवी रिप्ले में साफ दिख रहा था कि बॉल रूट के बैट से लगकर उनके पैड पर लगी थी।
- आखिरी ओवर में इंग्लैंड को जीत के लिए केवल 8 रन बनाने थे, लेकिन पहली ही बॉल पर रूट के आउट हो जाने से इंग्लिश टीम प्रेशर में आ गई।
- इंग्लैंड ये मैच केवल 5 रन से हार गया था। अब इंग्लिश कप्तान इयान मोर्गन ने खराब अंपायरिंग की शिकायत मैच रैफरी से करने की बात कही है।
 
इंग्लैंड के लिए घातक साबित हुआ फैसला
 
- इयान मोर्गन का कहना है कि निर्णायक मौके पर जो रूट को lbw दे देने के अंपायर के फैसले के कारण उनकी टीम ये मैच हार गई।
- मोर्गन ने कहा, 'हम उस फैसले से काफी नाराज हैं। इससे मैच का पासा पलट गया। आखिरी मौके पर एक ऐसे बैट्समैन का विकेट खोना जो 40 बॉल खेल चुका है, टीम के लिए घातक साबित हुआ।'
- 'हम वो मैच जीत सकते थे लेकिन नहीं जीत सके जिससे काफी निराशा है। हम मैच रैफरी के जरिए फीडबैक में तीसरे टी-20 मैच से पहले इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंगे।'
- मोर्गन के मुताबिक वे अब इस मामले को अब आईसीसी (अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद) के मैच रैफरी के सामने उठाएंगे।
- टी-20 मैचों की इस सीरीज में डीआरएस प्रणाली लागू नहीं है। जिसे लेकर मोर्गन ने निराशा जताते हुए कहा, 'इसे कम से कम वर्ल्ड कप मैचों के लिए तो शामिल कर लेना चाहिए, पता नहीं ये वहां पर भी क्यों नहीं है।'
 
आगे की स्लाइड्स में देखें, मैच में आखिरी ओवर्स के दौरान कैसा था ग्राउंड का हाल...
खबरें और भी हैं...