--Advertisement--

बीसीसीआई को IPL से होगा 2000 करोड़ रुपए का प्रॉफिट, टीमें भी कमाती हैं ऐसे

क्या आपने सोचा है कि करोड़ो रुपए खर्च करने वालीं ये IPL टीमें कैसे कमाई करती हैं? अगर नहीं तो जानिए कैसे होता है ये।

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 08:00 AM IST
How IPL Teams Earn From Different Sources & How BCCI Shares The Profit.

स्पोर्ट्स डेस्क. IPL के 11वें सीजन में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड को लगभग 2017 करोड़ का प्रॉफिट होगा। प्रोजेक्शन रिपोर्ट के मुताबिक बीसीसीआई को मिलने वाले सरप्लस का 95 प्रतिशित हिस्सा तो सिर्फ IPL से ही आ जाएगा। क्रिकेट का ये धुआंधार फॉर्मेट क्रिकेट फैन्स में कितना लोकप्रिय है इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है। आज हम आपको बता रहे हैं आईपीएल फ्रेंचाइजी पूरे टूर्नामेंट किस तरह कमाई करती हैं और बीसीसआई कैसे इनसे शेयर करता है प्रॉफिट। एेसे हाेती है कमाई...

आईपीएल में टीमें प्लेयर्स को ऑक्शन में खरीदने से लेकर उनके ठहरने, ट्रेवलिंग, सपोर्ट स्टाफ जैसी तमाम चीजों पर करोड़ो खर्च करती हैं । पर क्या आपने सोचा है कि करोड़ो रुपए खर्च करने वालीं ये फ्रेंचाइजी कैसे कमाई करती हैं? अगर नहीं तो जानिए कैसे होता है ये।


- किसी भी टीम की कमाई में स्पॉन्सर्स मेन सोर्स में से एक होते हैं। मैच में बाउंड्री रोप और वहां मौजूद बैरीकेड्स से लेकर प्लेयर्स की जर्सी, हेल्मेट, बैट, कैप्स, पैड, शूज हर चीज के स्पॉन्सर होते हैं जो अपनी पब्लिसिटी के लिए टीमों को करोड़ो रुपए चुकाते हैं। टीम को सबसे ज्यादा पैसा उन स्पॉन्सर्स से मिलता है जिनका नाम टीम जर्सी में सामने चेस्ट और बैक की ओर होता है। इसके अलावा स्पॉन्सर्स टीम के ऐड में भी नजर आते हैं।

- हर सीजन के लिए टीमों और स्पॉन्सर्स में डील होती है। इससे टीमों की कुल कमाई का 20 से 30 पर्सेंट यहीं से पूरा होता है।

आगे की स्लाइड्स में जानें, टीमों की कमाई के बाकी 4 सोर्स के बारे में...

मीडिया राइट्स। मीडिया राइट्स।

मैच के मीडिया राइट्स से भी टीमों की कमाई होती है। टीमों को ये पैसा बीसीसीआई देता है। बीसीसीआई ब्रॉडकास्टिंग के मीडिया राइट्स चैनल्स को बेचता है और इससे होने वाली कमाई का हिस्सा टीमों में एग्रीमेंट के तहत बांटता है। बीसीसीआई इसमें टीमों को उनकी रैंकिंग के हिसाब से प्रॉफिट शेयर करती है। यानी फाइनल्स तक पहुंचने वाली टीमों को सबसे ज्यादा पैसा मिलता है। इससे टीमों की कुल कमाई का लगभग 60 पर्सेंट हिस्सा इसी से पूरा होता है। वर्तमान में आईपीएल के ब्रॉडकास्टिंग राइट्स स्टार इंडिया के पास  हैं। इसके लिए स्टार बीसीसीआई को अगले 5 सीजन के लिए 16437 करोड़ रुपए देगा।

टिकट सेल। टिकट सेल।

टिकट सेल से टीमों को 10 से 15 पर्सेंट की कमाई होती है। जिस टीम के जितने ज्यादा फैन-फॉलोआर्स होते हैं उसे उतना ज्यादा फायदा होता है। ज्यादा फैन यानी ज्यादा टिकट की बिक्री। आमतौर पर टिकट्स की कीमत 800 रु से लेकर 20000 रुपए तक होती है और एक मैच में एवरेज 40 से 50 हजार दर्शक होते हैं। हालांकि फ्रेंचाइजी कुछ पैसा स्टेट एसोसिएशन को भी चुकाती हैं। साथ ही टिकट की कीमत ग्राउंड की सिटिंग कैपेसिटी और किसी शहर में मैच हो रहा है इसपर भी निर्भर करती है।

ब्रांड वेल्यू। ब्रांड वेल्यू।

कमाई में ब्रांड वेल्यू का भी अहम रोल है। अगर टीम में अच्छी ब्रांड वेल्यू वाले प्लेयर्स हैं तो टीम को ज्यादा कमाई के मौके मिलेंगे। उदाहरण के तौर पर, अगर टीम में एमएस धोनी, विराट कोहली, एबी डिवलियर्स, गौतम गंभीर जैसे प्लेयर्स हैं तो टीम को और ज्यादा इन्वेस्टर्स और ब्रांड मिलेंगे। इसके अलावा अगर टीम को सपोर्ट करने शाहरुख खान, प्रिटी जिंटा या बिजनेस स्टार्स जैसे नीता अंबानी, केशव बंसल आते हैं, तो भी टीमों की व्यूअरशिप और कमाई बढ़ती है। इससे टीम की इनकम में 5 से 10 पर्सेंट का फायदा होता है।

How IPL Teams Earn From Different Sources & How BCCI Shares The Profit.

आईपीएल में विनर टीम के लिए इस बार प्राइज मनी 26 करोड़ रुपए है। हालांकि, इतनी प्राइज मनी बड़ी टीमों के लिए कुछ भी नहीं हैं जो एक प्लेयर को खरीदने के लिए 10 से 15 करोड़ खर्च कर देती हैं। 

X
How IPL Teams Earn From Different Sources & How BCCI Shares The Profit.
मीडिया राइट्स।मीडिया राइट्स।
टिकट सेल।टिकट सेल।
ब्रांड वेल्यू।ब्रांड वेल्यू।
How IPL Teams Earn From Different Sources & How BCCI Shares The Profit.
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..