Hindi News »Sports »Other Sports »Others» Commonwealth Games Inauguration Live And Updates

21वें कॉमनवेल्थ गेम्स का थोड़ी देर में, 3 घंटे 15 मिनट तक चलेगा उद्घाटन समारोह

सांस्कृतिक कार्यक्रमों के अलावा परेड ऑफ नेशंस मुख्य आकर्षण होंगे।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Apr 04, 2018, 02:55 PM IST

21वें कॉमनवेल्थ गेम्स का थोड़ी देर में, 3 घंटे 15 मिनट तक चलेगा उद्घाटन समारोह, sports news in hindi, sports news

गोल्ड कोस्ट (ऑस्ट्रेलिया). कैरारा स्टेडियम में बुधवार को हल्की बारिश के बीच 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स की शुरुआत हुई। ओपनिंग सेरेमनी की थीम हैलो अर्थ रखी गई। कार्यक्रम में ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्स और उनकी पत्नी कैमिला पार्कर पहुंचीं। नेशंस ऑफ परेड इस कार्यक्रम का खास आकर्षण रही। इनमें 71 देशों के दलों ने परेड की। भारत का नंबर 38वां था। भारतीय दल का नेतृत्व 2016 रियो ओलिंपिक में रजत पदक जीतने वाली शटलर पीवी सिंधु ने किया। भारत ने कॉमनवेल्थ गेम्स के लिए 217 एथलीट्स को गोल्ड कोस्ट भेजा है, जो 16 खेलों में हिस्सा लेंगे। नरेंद्र मोदी ने भी एथलीट्स को बधाई दी।

यह प्रतिभा दिखाने का अच्छा मौका- मोदी

- मोदी ने ट्वीट किया, "गोल्ड कोस्ट 2018 कॉमनवेल्थ गेम्स में हिस्सा लेने वाले सभी खिलाड़ियों को शुभकामनाएं। हमारे खिलाड़ियों ने बहुत कठिन परिश्रम किया है और यह प्रतिभा दिखाने का सबसे सबसे बढ़िया मौका है। हर भारतीय अपने देश के खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन कर रहा है।"

बारिश के बीच हुई शुरुआत
- भारतीय समयानुसार 3:30 बजे कॉमनवेल्थ गेम्स की ओपनिंग सेरेमनी शुरू हुई। शुरुआत में बारिश हुई। स्टेज पर प्रिंस चार्ल्स और कैमिला के साथ कॉमनवेल्थ गेम्स फेडरेशन की अध्यक्ष लुईस मार्टिन, गोल्ड कोस्ट 2018 कॉमनवेल्थ गेम्स आर्गनाइजिंग कमेटी के चेयरमैन पीटर बेट्‌टी एसी और कॉमनवेल्थ गेम्स ऑस्ट्रेलिया के प्रेसीडेंट सैम कोफ्फा एएम भी मौजूद थे। ऑस्ट्रेलिया के राष्ट्रगान के बाद रंगारंग कार्यक्रम पेश किए गए। 4:14 बजे परेड ऑफ नेशंस की शुरुआत हुई। सबसे पहले पिछली बार के मेजबान स्कॉटलैंड के खिलाड़ी शामिल हुए। भारतीय दल 38वें नंबर पर आया। अंत में ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी परेड का हिस्सा बने।

पहली बार भारतीय पुरुष-महिला एथलीट एक जैसी ड्रेस में आए

- 1924 के ओलिंपिक में भारत की ओर से पहली बार महिला एथलीट ने हिस्सा लिया था। तब से यह पहला मौका है, जब किसी ग्लोबल स्पोर्टिंग इवेंट के मार्च पास्ट में भारत के पुरुष और महिला एथलीट एक जैसी ड्रेस में आए।

- भारतीय ओलिंपिक संघ ने इस पर 20 फरवरी को फैसला किया था। आईओए महासचिव ने कहा था कि एथलीट की सुविधाओं के लिए ऐसा किया गया है। एथलीट साड़ी पहनने की अभ्यस्त नहीं होतीं। उन्हें मदद की जरूरत पड़ती है। समारोह में उन्हें 5-7 घंटे साड़ी पहने रहना होता है, जो काफी कठिन होता है।

प्रिंस चार्ल्स ने गेम्स शुरू होने की घोषणा की
- परेड ऑफ नेशंस के बाद बैटन रिले को महारानी एलिजाबेथ के प्रतिनिधि प्रिंस चार्ल्स को सौंपा गया। उन्होंने बैटन से निकाले गए महारानी के संदेश को पढ़कर सुनाया और कॉमनवेल्थ गेम्स के आधिकारिक रूप से शुरू होने की घोषणा की। 6:09 बजे आतिशबाजी के साथ ही सेरेमनी का समापन हुआ।

परेड ऑफ नेशंस में इस क्रम में देशों ने लिया हिस्सा

यूरोपीय राष्ट्र:स्कॉटलैंड, साइप्रस, इंग्लैंड, जिब्राल्टर, गर्नजी, आइसले ऑफ मैन, जर्सी, माल्टा, नार्दर्न आइलैंड, वेल्स।

अफ्रीकी राष्ट्र :बोत्सवाना, कैमरून, घाना, केन्या, लोसोटो, मालावी, मॉरीशस, मोजांबिक, नामीबिया, नाइजीरिया, रवांडा, सेशल्स, सिएरा लियोन, दक्षिण अफ्रीका, स्वाजीलैंड, द गाम्बिया, यूगांडा, यूनाइटेड रिपब्लिक ऑफ तंजानिया, जाम्बिया।

अमेरिकी राष्ट्र :बेलीजे, बरमूडा, कनाडा, फाल्कलैंड आइलैंड्स, गुआना, सेंट हेलेना, द बहामस।

एशियाई राष्ट्र: बांग्लादेश, ब्रुनेई दारुसलाम, भारत, मलेशिया, पाकिस्तान, सिंगापुर, श्रीलंका।
कैरेबियाई राष्ट्र: एंगुला, एंटिगुआ एंड बरबूडा, बारबाडोस, ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड्स, द केमन आइलैंड्स, डोमिनिका, ग्रेनाडा, जमैका, मोंटसेराट, सेंट लूसिया, सेंट कीट्स एंड नेविस, सेंट विंसेट एंड द ग्रेनाडाइंस, त्रिनिदाद एंड टोबोगो, टर्क्स एंड कैकस आइलैंड्स।
ओसियानाई राष्ट्र : कुक आइलैंड्स, फिजी, किरिबाती, नारू, न्यूजीलैंड, नीयू, नोरफॉक आइलैंड, पापुआ न्यू गिनी, समोआ, सोलोमोन आइलैंड्स, टोंगा, तुवालु, वानुतु, ऑस्ट्रेलिया।

विदेश में भारत का सबसे बड़ा दल

- ऑस्ट्रेलिया में रिकॉर्ड पांचवीं बार हो रहे इन खेलों में 71 देशों के खिलाड़ी भाग ले रहे हैं।

- विदेश मे आयोजित कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत का यह अब तक का सबसे बड़ा दल है। ग्लासगो 2014 में गेम्स में भारत की तरफ से 215 खिलाड़ी शामिल हुए थे।

- भारत ने 2010 में दिल्ली कॉमनवेल्थ गेम्स में अब तक की अपना बढ़िया परफॉर्मेंस दी थी। तब उसने 38 गोल्ड समेत 101 पदक जीते थे। भारत कॉमनवेल्थ गेम्स में अब तक कुल 438 पदक जीत चुका है।

भारत छू सकता है 500 मेडल का आंकड़ा

- भारत के लिए ये कॉमनवेल्थ गेम्स खासे महत्वपूर्ण हैं।

- 2014 ग्लासगो कॉमनवेल्थ गेम्स में स्कॉटलैंड चौथे, जबकि भारत पांचवें स्थान पर रहा था। इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और कनाडा पहले तीन स्थान पर रहे थे। हालांकि भारत इस बार स्कॉटलैंड को जरूर पीछे छोड़ सकता है।

- भारत यहां कॉमनवेल्थ गेम्स के इतिहास में 500 मेडल का आंकड़ा छू सकता है। भारत ने अब तक 16 कॉमनवेल्थ गेम्स में 155 गोल्ड समेत 438 मेडल जीते हैं। भारत को 500 का आंकड़ा छूने के लिए 62 पदकों की जरूरत है।

भारत के मैच: 5 अप्रैल को 10 खेल में उतरेंगे भारतीय

- बैडमिंटन: भारत Vs श्रीलंका, भारत Vs पाकिस्तान, भारत Vs स्कॉटलैंड (मिक्स्ड टीम)
- वेटलिफ्टिंग:गुरुराजा (56 किग्रा), एस एम चानू (48 किग्रा), एम. राजा (62 किग्रा)
- जिम्नास्टिक:राकेश पात्रा, योगेश्वर सिंह, आशीष कुमार (इंडिविजुएल ऑलराउंड और टीम)
- हॉकी: भारत Vs वेल्स (महिला)
- बास्केटबॉल: भारत Vs कैमरून (पुरुष)
- बास्केटबॉल: भारत Vs जमैका (महिला)
- साइक्लिंग (टीम परसुइट): एलीना रेजी, देबोराह हेराॅल्ड, मनोरमा देवी, अमृता रघुनाथ
- साइक्लिंग (टीम स्प्रिंट): रंजीत सिंह, साहिल कुमार, सनुराज पी, मंजीत सिंह
- साइक्लिंग (महिला टीम स्प्रिंट):देबोराह हेरॉल्ड, एलीना रेजी
- स्वीमिंग:साजन प्रकाश और वीरधवल खड़े (50 मी. बटरफ्लाई), श्रीहरि नटराज (100 मी. बैकस्ट्रोक)। बॉक्सिंग, स्क्वॉश, टेबल टेनिस और लॉन बॉल के शुरुआती मुकाबले।

- वेटलिफ्टिंग, साइक्लिंग, स्वीमिंग और जिम्नास्टिक में मेडल राउंड के मुकाबले भी होंगे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Others

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×