CWG 2018: वेटलिफ्टर सिखोम चानू ने भारत को दिलाया पहला गोल्ड, 86 किग्रा वजन उठाकर 2 बार अपना ही रिकॉर्ड तोड़ा

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

  • कॉमनवेल्थ गेम्स और कॉमनवेल्थ चैम्पियनशिप में सबसे ज्यादा वजन उठाने का रिकॉर्ड अब मीराबाई चानू के नाम हो गया है। 
  • चानू मणिपुर के रहने वाली हैं और रेलवे में सीनियर टिकट कलेक्टर के पद पर हैं।

 

गोल्ड कोस्ट.  वेटलिफ्टर सिखोम मीराबाई चानू ने यहां कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत को पहला गोल्ड जिताया। उन्होंने गुरुवार को 48 किग्रा कैटेगरी में कुल 196 किग्रा (स्नैच में 86 किग्रा और क्लीन एंड जर्क में 110 किग्रा) वजन उठाया। इस दौरान उन्होंने स्नैच और क्लीन एंड जर्क में अपना ही दो बार रिकॉर्ड तोड़ा। बेहतरीन खेल के लिए उन्हें कुछ दिन पहले पद्मश्री से सम्मानित किया गया था। इससे पहले भारत को वेटलिफ्टर गुरुराजा पुजारी ने 56 किग्रा कैटेगरी में सिल्वर मेडल दिलाया था। मॉरीशस की मैरी एचआर रानाइवोसोआ ने सिल्वर और श्रीलंका की दिनिषा गोम्स ने कांस्य जीता। 

 

 

चानू ने दो बार तोड़ा अपना ही रिकॉर्ड
- दरअसल, 48 किग्रा कैटेगरी में कॉमनवेल्थ गेम्स रिकॉर्ड नाइजीरिया की अगस्तानिया नुवाकोलो के नाम था। अगस्तानिया ने 2010 दिल्ली कॉमनवेल्थ गेम्स में स्नैच में 77 किग्रा, जबकि क्लीन एंड जर्क में 98 किग्रा वजन उठाया था। 

- गोल्ड कोस्ट में 23 साल की मीरा बाई चानू ने स्नैच की पहली कोशिश में 80 किग्रा वजन उठाकर अगस्तानिया का रिकॉर्ड तोड़ा। दूसरी कोशिश में 84 किग्रा वजन उठाकर अपना ही रिकॉर्ड तोड़ा। इसके बाद तीसरी और आखिरी कोशिश में 86 किग्रा वजन उठाकर नया माइलस्टोन सेट किया। 

 - इसी तरह क्लीन एंड जर्क में उन्होंने पहली कोशिश में 103 किग्रा वजन उठाकर फिर अगस्तानिया का रिकॉर्ड तोड़ा और गोल्ड अपने नाम कर लिया। इसके बावजूद उन्होंने अपने दो मौके ऑप्ट किए। दूसरी कोशिश में उन्होंने 107 किग्रा और तीसरी कोशिश में 110 किग्रा वजन उठाकर दो बार अपना ही रिकॉर्ड तोड़ा।

- वहीं, मॉरीशस की मैरी एचआर रानाइवोसोआ ने सिल्वर जीता। उन्होंने 167 किग्रा (स्नैच में 76 और क्लीन एंड जर्क में 94) का वजन उठाया। श्रीलंका की दिनिषा गोम्स ने 155 किग्रा (स्नैच में 70 और क्लीन एंड जर्क में 85) वजन उठाकर कांस्य पदक प्राप्त किया। 

 

 

ग्लासगो कॉमनवेल्थ गेम्स में सिल्वर जीता था चानू ने

- चानू ने इससे पहले अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 2017 में कैलिफोर्निया के अनाहाइन में हुई वर्ल्ड चैम्पियनशिप में किया था। तब उन्होंने 194 किग्रा (स्नैच में 85 और क्लीन एंड जर्क में 109) का वजन उठाकर गोल्ड जीता था।

- चानू ने ग्लासगो कॉमनवेल्थ गेम्स में 48 किग्रा कैटेगरी में सिल्वर जीता था।  2016 रियो ओलिंपिक में 48 किग्रा कैटेगरी में भाग लिया, लेकिन क्लीन एंड जर्क में तीनों बार मिले मौके में फाउल कर गई थीं। 

 

मल्लेश्वरी के बाद वर्ल्ड चैम्पियन बनने वालीं दूसरी भारतीय
- कर्णम मल्लेश्वरी के बाद चानू वर्ल्ड चैम्पियन बनने वालीं दूसरी भारतीय वेटलिफ्टर हैं। उन्होंने यह एचीवमेंट नवंबर 2017 में हासिल किया था। तब उन्होंने 194 किग्रा (स्नैच में 85 किग्रा और क्लीन एंड जर्क में 109 किग्रा) वजन उठाया था। 

- पूर्व भारतीय वेटलिफ्टर कुंजुरानी देवी को रोल मॉडल मानने वाली चानू ने 2016 कॉमनवेल्थ चैम्पियनशिप में गोल्ड जीता था। 

- 2007 में वेटलिफ्टिंग कॅरियर शुरू करने वालीं चानू ने 2011 इंटरनेशनल यूथ चैम्पियनशिप में गोल्ड जीता था।

- मल्लेश्वरी ने 22 साल पहले 1994 और 1995 में वर्ल्ड चैम्पियन में गोल्ड जीता था।

 

एक वक्त अच्छी डाइट के लिए भी नहीं थे पैसे
- सिखोम मीराबाई चानू मणिपुर के इंफाल ईस्ट की रहने वाली हैं। बेहतरीन खेल के लिए उन्हें कुछ दिन पहले पद्मश्री से सम्मानित किया गया था।

- चानू ने जब वेटलिफ्टिंग की ट्रेनिंग शुरू की थी, तब उनके घर की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी। इस वजह से उन्हें कई बार अच्छी डाइट नहीं मिल पाती थी। 

- चानू ने 31 अगस्त, 2015 में रेलवे ज्वाइन की। वह सीनियर टिकट कलेक्टर के पद पर हैं।

 

कॉमनवेल्थ गेम्स और कॉमनवेल्थ चैम्पियनशिप रिकॉर्डधारी बनीं चानू

 

 

स्नैच (48 किग्रा भार वर्ग)

नाम देश वजन टूर्नामेंट
यांग लियान चीन  98 वर्ल्ड चैम्पियनशिप
सिखोम मीराबाई चानू भारत 85 कॉमनवेल्थ चैम्पियनशिप
सिखोम मीराबाई चानू भारत 86 कॉमनवेल्थ गेम्स

 

क्लीन एंड जर्क (48 किग्रा भार वर्ग) 

नाम देश वजन टूर्नामेंट
नुरकैन टाइलन तुर्की  121 वर्ल्ड चैम्पियनशिप
सिखोम मीराबाई चानू भारत 109 कॉमनवेल्थ चैम्पियनशिप
सिखोम मीराबाई चानू भारत 110 कॉमनवेल्थ गेम्स

      

टोटल (48 किग्रा भार वर्ग)

नाम देश वजन टूर्नामेंट
यांग लियान  चीन  217 वर्ल्ड चैम्पियनशिप
सिखोम मीराबाई चानू भारत 194 कॉमनवेल्थ चैम्पियनशिप
सिखोम मीराबाई चानू भारत 196 कॉमनवेल्थ गेम्स

 

 

पदक तालिका : टॉप 5 देश

देश  गोल्ड सिल्वर ब्रॉन्ज कुल
भारत 1 1 0 2
बरमूडा 1 0 0 1
मलेशिया 1 0 0 1
इंग्लैंड  0 1 0 1
कनाडा 0 0 1 1
खबरें और भी हैं...