Hindi News »Sports »Other Sports »Others» Shooting World Cup: Shahzar Rizvi Clinched Gold Medal

गुलेल से लगाता था निशाना, उधार की बंदूक से प्रैक्टिस कर ऐसे जीता शूटिंग का वर्ल्ड कप

शूटिंग वर्ल्डकप: शहजर रिजवी ने वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाकर गोल्ड जीता। 2015 में नेशनल शूटिंग में गोल्ड जीतने के बाद एयरफोर्स मे

dainikbhaskar.com | Last Modified - Mar 05, 2018, 12:19 PM IST

  • गुलेल से लगाता था निशाना, उधार की बंदूक से प्रैक्टिस कर ऐसे जीता शूटिंग का वर्ल्ड कप, sports news in hindi, sports news
    +2और स्लाइड देखें
    शहजर रिजवी

    गुआडालाजरा. भारत के शहजर रिजवी ने आईएसएसएफ शूटिंग वर्ल्ड कप के 10 मीटर एयर पिस्टल इवेंट में गोल्ड मेडल जीता। 23 साल के शहजर का यह पहला वर्ल्ड कप है। उन्होंने पहले ही प्रयास में गोल्ड मेडल जीत लिया। शहजर ने फाइनल में 242.3 का स्कोर बनाकर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया और ओलिंपिक चैम्पियन जर्मनी के क्रिस्टियन रेट्ज को हराया। रेट्ज ने 239.7 के स्कोर के साथ सिल्वर मेडल जीता। शहजर क्वालिफाइंग में दूसरे नंबर पर रहे थे। 60 शॉट के बाद उनका स्कोर 579 था। जबकि रेट्ज 588 स्कोर के साथ क्वालिफाइंग में टॉप पर रहे थे। ऐसे शहजर बने स्टार शूटर.....

    - मेरठ के शहजर रिजवी को बचपन में गुलेल चलाने का शौक था। उन्होंने गुलेल चलाकर ही सटीक निशाना लगाना सीखा। शहजर ने मेरठ के जवाहर इंटर कॉलेज से पढ़ाई की।

    - एक बार उनके स्कूल का एनसीसी कैंप रानीखेत गया। वहां उन्होंने पहली बार गन से टारगेट पर अचूक निशाना लगाया। एनसीसी कैंप में अधिकारियों ने उनकी प्रतिभा की सराहना की आैैर उन्हें शूटिंग में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया।

    - तब शहजर ने अपने पिता को बताया था कि वे शूटिंग में करियर बनाना चाहते हैं। यह बात 9 साल पहले की है, लेकिन उनके पिता शमशाद अहमद के पास उन्हें बंदूक दिलाने के पैसे नहीं थे। तब उन्होंने उधार की बंदूक लेकर प्रैक्टिस शुरू की थी। शहजर ने 2012 में अपनी बंदूक खरीदी थी।
    - शहजर ने पिछले साल कॉमनवेल्थ शूटिंग चैम्पियनशिप में गोल्ड मेडल जीता था। पिछले दो सालों से लगातार नेशनल मेडलिस्ट हैं। वर्ल्ड कप के बाद उनका अगला टारगेट 2020 ओलिंपिक है।

    आगे की स्लाइड्स में पढ़ें कैसे शहजर रिजवी को मिली इंडियन एयरफोर्ट में नौकरी.....

  • गुलेल से लगाता था निशाना, उधार की बंदूक से प्रैक्टिस कर ऐसे जीता शूटिंग का वर्ल्ड कप, sports news in hindi, sports news
    +2और स्लाइड देखें
    शहजर रिजवी

    - शहजर रिजवी ने 2014 में 58वीं नेशनल शूटिंग चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल जीता। इसके बाद 2015 में दिल्ली में 59वीं नेशनल शूटिंग चैंपियनशिप में गाेल्ड पर निशाना साधा। इसी के आधार पर उन्हें इंडियन एयरफोर्स में नौकरी मिली।

    - जब उन्होंने एयरफोर्स ज्वाइन किया, तब उनके प्रदर्शन में और ज्यादा सुधार हुआ। वहां उन्हें खेलने के लिए बेहतर सुविधाएं मिलीं। इसके बाद शहजर ने ईरान में एशियन एयरगन चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता। शहजर के छोटे भाई अहमर रिजवी भी शूटर हैं। वे प्री-नेशनल्स की तैयारी कर रहे हैं।

    आगे की स्लाइड्स में पढ़ें शूटिंग वर्ल्ड कप के पहले दिन और किन 2 इंडियन ने जीता मेडल....

  • गुलेल से लगाता था निशाना, उधार की बंदूक से प्रैक्टिस कर ऐसे जीता शूटिंग का वर्ल्ड कप, sports news in hindi, sports news
    +2और स्लाइड देखें
    जीतू राय और मेहुली घोष।

    17 साल की मेहुली काे पहला मेडल
    - 17 साल की मेहुली का यह पहला वर्ल्ड कप था। उन्होंने 10 मीटर एयर राइफल में ब्रॉन्ज मेडल जीता। उन्होंने 228.4 का स्कोर किया। यह उनका सीनियर लेवल पर पहला मेडल है। इस इवेंट का गोल्ड रोमानिया की लॉरा जॉर्गेटा कोमान और सिल्वर चीन की होंग जू ने जीता।

    जीतू ने जीता छठा वर्ल्ड कप मेडल
    - 30 साल के जीतू राय ने 10 मीटर एयर पिस्टल इवेंट का ब्रॉन्ज मेडल जीता। यह उनके करियर में छठा वर्ल्ड कप मेडल है। उन्होंने 219 का स्कोर किया। ओम प्रकाश मिथरवाल 198.4 का स्कोर कर चाैथे नंबर पर रहे। सीजन के पहले वर्ल्ड कप में भारत ने पहले दिन एक गोल्ड और दो ब्रॉन्ज जीते।

Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Shooting World Cup: Shahzar Rizvi Clinched Gold Medal
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Others

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×