फैसलों का पालन करे तभी शुरू हो सकेगी आईपीएल : लोढ़ा समिति

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नई दिल्ली. बीसीसीआई को 21 अक्टूबर को दिया गया सुप्रीम कोर्ट का फैसला जल्द लागू करना होगा। इससे संबंधित लेटर लोढ़ा पैनल को सौंपे बगैर उसे आईपीएल के टेंडर की प्रोसेस शुरू नहीं करने दी जाएगी। यह बात जस्टिस लोढ़ा कमेटी ने कही है। इसके बाद सोमवार देर रात बीसीसीआई ने लोढ़ा कमेटी से कहा कि वह यह लेटर जल्द ही भेज देगा। टेलीकास्ट राइट्स के लिए होना थे टेंडर...
- कमेटी ने कहा कि बीसीसीआई (भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड) को आईपीएल की टेंडर प्रोसेस आगे बढ़ाने के का ऑर्डर देने के लिए लेटर जमा करना जरूरी है।
- आईपीएल में टेलीविजन और डिजीटल टेलीकास्ट राइट्स के लिए मुंबई में मंगलवार को बोली लगाई जानी थी। लेकिन बीसीसीआई ने इसके टेंडर की प्रोसेस को रोक दिया।
- सुप्रीम कोर्ट ने बीते शुक्रवार बीसीसीआई को ऑर्डर दिया था कि वह अपने फाइनेंशियल राइट्स की लिमिट तय करे।
- लेन-देन की जांच के लिए ऑडिटर अप्वॉइंट करे। ऑर्डर में यह भी कहा गया था कि बोर्ड को तय लिमिट से ज्यादा के करार के लिए कमेटी से मंजूरी लेनी होगी।
बीसीसीआई ने पूछा टेंडर प्रोसेस कैसे करें
- कोर्ट के ऑर्डर के तुरंत बाद बीसीसीआई ने कमेटी को ई-मेल भेजकर पूछा कि आईपीएल के टेंडर की प्रोसेस के लिए क्या किया जाए।
- इस पर कमेटी ने अपने जवाब में कहा, "अापका ई-मेल मिला। कमेटी इस पर फैसला करेगी, लेकिन पहले बोर्ड को शुक्रवार को दिया गया सुप्रीम कोर्ट का ऑर्डर लागू करना होगा।"
- "कमेटी के लिए कोर्ट के आॅर्डर को पूरा करने संबंधी यह लेटर बोर्ड को जमा कराना जरूरी है।"
खबरें और भी हैं...