Hindi News »Sports »Other Sports »Wrestling» Wanheng Menayothin Secured His 49th Career Victory After Defeated Tatsuya Fukuhara

गरीबी दूर करने के लिए शुरू की बॉक्सिंग, अब मेवेदर की बराबरी से एक जीत दूर

वानहेंग का असली नाम चायाफोन मूंसरी है। उन्होंने उस जिम मालिक के सम्मान में अपना नाम वानहेंग मेनायोथिन रख लिया।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Feb 28, 2018, 11:24 AM IST

  • गरीबी दूर करने के लिए शुरू की बॉक्सिंग, अब मेवेदर की बराबरी से एक जीत दूर, sports news in hindi, sports news
    +5और स्लाइड देखें
    थाईलैंड के बॉक्सर वानहेंग मेनायोथिन अगर अपनी अगली बाउट जीत लेते हैं तो वे लगातार 50 मुकाबलों में अपराजेय रहने के फ्लॉयड मेवेदर (राइट फोटो) के रिकॉर्ड की बराबरी कर लेंगे।

    बैंकॉक. थाईलैंड के बॉक्सर वानहेंग मेनायोथिन को दुनिया फिलहाल ज्यादा नहीं जानती है। बॉक्सिंग जगत में भी वे बेहद कम जाना पहचाना नाम हैं। सिर्फ 5 फीट 2 इंच हाइट और महज 47.6 किलो वजन वाला ये बॉक्सर ज्यादा फेमस नहीं होने के बाद भी एक रिकॉर्ड की बराबरी करने के बेहद करीब पहुंच गया है। कर सकते हैं मेवेदर के रिकॉर्ड की बराबरी...

    - थाईलैंड के इस स्टार बॉक्सर की अगली बाउट पनामा के लेरोई स्ट्राडा के खिलाफ है। अगर वे अप्रैल में होने वाली इस फाइट को जीत जाते हैं तो वे लगातार 50 मुकाबलों में अजेय रहने के फ्लॉयड मेवेदर के रिकॉर्ड की बराबरी कर लेंगे।
    - मेवेदर को आज की तारीख में प्रोफेशनल बॉक्सिंग का सबसे बड़ा नाम माना जाता है। पिछले साल मिक्स्ड मार्शल आर्ट के स्टार कोनोर मैक्ग्रिगोर को हराकर उन्होंने करीब 650 करोड़ रुपए की कमाई की थी।
    - मेवेदर ने अपराजेय रहते हुए 50 मुकाबले जीते हैं। वानहेंग इस बात से भली भांति वाकिफ हैं कि एक और जीत उन्हें रिकॉर्ड के मामले में ही सही मेवेदर की बराबरी पर ला देगा।
    - वानहेंग ने कहा, 'मैं जानता हूं कि मेरे 50वें मुकाबले को लेकर दुनिया दीवानी नहीं हो रही है। लेकिन, मैं यह भी जानता हूं कि इस बाउट में जीत मुझे बहुत बड़े रिकॉर्ड की बराबरी पर ला देगी।'

    गरीबी दूर करने के लिए शुरू की थी बॉक्सिंग

    - वानहेंग थाईलैंड के उत्तर-पूर्व इलाके के रहने वाले हैं। उस इलाके में गरीबी बहुत ज्यादा है और वहां फाइटिंग को गरीबी से उबरने का जरिया माना जाता है। वे 12 साल की उम्र में बैंकॉक आ गए थे।
    - शुरुआत में उनके पास बॉक्सिंग की अच्छी तकनीक नहीं थी तब उन्हें एक जिम के मालिक चाइयासित मेनायोथिन ने मदद की। उनकी बदौलत ही वे स्तरीय मुक्केबाज बन पाए।
    - वानहेंग का असली नाम चायाफोन मूंसरी है। उन्होंने उस जिम मालिक के सम्मान में अपना नाम वानहेंग मेनायोथिन रख लिया।
    - कई बार उन्होंने फाइट के प्रमोशन में अपने नाम के साथ स्पॉन्सर्स का नाम भी जोड़ना पड़ता है। थाईलैंड में ऐसा करने वाले वे अकेले बॉक्स नहीं हैं। वहां पहले से ऐसा चलन है।

    आगे की स्लाइड्स में जानें इस बॉक्सर की कुछ और खासियत और देखें फोटोज...

  • गरीबी दूर करने के लिए शुरू की बॉक्सिंग, अब मेवेदर की बराबरी से एक जीत दूर, sports news in hindi, sports news
    +5और स्लाइड देखें
    वानहेंग मेनायोथिन की हाइट सिर्फ 5 फीट 2 इंच हाइट और वजन महज 47.6 किलो है।

    कम वेट कैटेगरी के हैं अच्छे बॉक्सर

    - दुनिया में भले न हो, थाईलैंड में इन दिनों वानहेंग की खूब चर्चा है। छोटे कद के बावजूद बड़े कारनामों के लिए उन्हें ड्वार्फ जायंट का उपनाम भी दिया गया है।
    - 32 साल के वानहेंग ने अब तक के अपने 49 मुकाबलों में से 17 नॉकआउट के जरिए जीते हैं। हालांकि इसमें से उनके कई अपोनेंट साधारण बॉक्सर रहे हैं।
    - वे सबसे कम वेट कैटेगरी में अच्छे मुक्केबाजों के खिलाफ भी दबदबा बनाने में सफल रहे हैं अभी उनके पास वर्ल्ड बॉक्सिंग काउंसिल की चैम्पियनशिप बेल्ट भी है। अपने मौजूदा रिकॉर्ड (49-0) के साथ वे दिग्गज फाइटर रॉकी मार्सियानो की बराबरी पर हैं।

  • गरीबी दूर करने के लिए शुरू की बॉक्सिंग, अब मेवेदर की बराबरी से एक जीत दूर, sports news in hindi, sports news
    +5और स्लाइड देखें
    32 साल के वानहेंग ने अब तक के अपने 49 मुकाबलों में से 17 नॉकआउट के जरिए जीते हैं।
  • गरीबी दूर करने के लिए शुरू की बॉक्सिंग, अब मेवेदर की बराबरी से एक जीत दूर, sports news in hindi, sports news
    +5और स्लाइड देखें
    अपने मौजूदा रिकॉर्ड (49-0) के साथ वानहेंग दिग्गज फाइटर रॉकी मार्सियानो की बराबरी पर हैं।
  • गरीबी दूर करने के लिए शुरू की बॉक्सिंग, अब मेवेदर की बराबरी से एक जीत दूर, sports news in hindi, sports news
    +5और स्लाइड देखें
  • गरीबी दूर करने के लिए शुरू की बॉक्सिंग, अब मेवेदर की बराबरी से एक जीत दूर, sports news in hindi, sports news
    +5और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Wanheng Menayothin Secured His 49th Career Victory After Defeated Tatsuya Fukuhara
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Wrestling

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×