पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

इंसाफ के लिए भटक रही बेटी ने किया सुसाइड, डकैती के बाद हुई थी मां-बाप की हत्या

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मथुरा. यहां 7 महीने तक इंसाफ के लिए पुलिस और प्रशासनिक अफसरों के चक्कर काट रही एक लड़की ने शनिवार को जहर खा लिया। रवि‍वार को हॉस्पिटल में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। इसके बाद गुस्साए लोगों ने मथुरा-अलवर रोड पर शव रखकर जाम लगा दिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर जाम खुलवाया।
 
7 महीने पहले हुई थी मां-बाप की हत्या
 
- अागरा के थाना हाइवे के अमर कॉलोनी में बीते 8 मार्च को एक घर में डकैती के बाद दंपती की हत्या कर दी गई थी।
- मामले के खुलासे और हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए मृतक की बेटी राखी ने अपने छोटे भाई-बहन के साथ भूख हड़ताल से लेकर प्रदर्शन भी किया। इसके बाद भी पुलिस इस मामले का खुलासा नहीं कर सकी।
- बेटी राखी पि‍छले 7 महीने से पुलिस अौर प्रशासनि‍क अफसरों से न्याय की गुहार लगा रही थी, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई।
- परेशान होकर उसने शनिवार (7 अक्टूबर) देर रात जहर खा लिया। उसे गंभीर हालत में हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां रवि‍वार को उसकी इलाज के दौरान  मौत हो गई।
- राखी की मौत के बाद लोग आक्रोशित हो गए और उन्होंने शव को मथुरा-अलवर रोड पर रखकर जाम लगा दिया।
- मौके पर पहुंची पुलिस ने लोगों को समझाने की कोशि‍श की, नहीं मानने पर हल्का बल प्रयोग कर जाम खुलवाया।
 
सुसाइड नोट में लिखा दर्द
 
- राखी ने सुसाइड नोट में प‍िछले सात महीनों का दर्द बयां किया है। हालांकि, ये सुसाइड नोट पुलिस ने अपने पास रख लिया है। वहीं, जब कुछ मीडि‍याकर्मि‍यों ने नोट मांगा तो उनसे अभद्रता भी की गई।
- वहीं, सूत्रों की मानें तो सुसाइड नोट में लड़की ने पुलिस के खि‍लाफ लिखते हुए कहा कि वह 7 महीने से इंसाफ के लिए पुलिस और अधि‍कारियों के चक्कर काटते-काटते थक चुकी है। ऐसे में अब अात्महत्या की आखि‍री ऑप्शन है।
 
 
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कोई भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। वैसे भी आज आपको हर काम में सकारात्मक परिणाम प्राप्त होंगे। इसलिए पूरी मेहनत से अपने कार्य को संपन्न करें। सामाजिक गतिविधियों में भी आप...

और पढ़ें