आगरा के 12 अधिकारियों पर 25-25 हजार का जुर्माना, सूचना आयुक्‍त ने दिया आदेश / आगरा के 12 अधिकारियों पर 25-25 हजार का जुर्माना, सूचना आयुक्‍त ने दिया आदेश

इन अधिकारियों को आयोग की अदालत में पेश होने का आदेश दिया गया है।

dainikbhaskar.com

Dec 26, 2015, 07:18 PM IST
प्रतीकात्‍मक फोटो। प्रतीकात्‍मक फोटो।
आगरा. राज्‍य सूचना आयोग ने आगरा के 12 अधिकारियों पर 25-25 हजार रुपए का जुर्माना किया है। इनमें तहसीलदार, एएसपी, एआरटीओ, बीएएसए, डीआईओएस एग्जिक्‍यूटिव इंजीनियर शामिल हैं। इन सभी ने आयोग के आदेश के बावजूद सूचना के अधिकार अधिनियम के तहत सूचना नहीं दी। इन अधिकारियों को आयोग की अदालत में पेश होने का आदेश दिया गया है। यह आदेश राज्‍य सूचना आयुक्‍त गजेंद्र यादव ने जारी किया है।
आयुक्‍त ने आदेश में कहा है कि अधिकारियों को सूचना का अधिकार अधिनियम 2005 व वादी के आवेदन पत्र के प्रति शिथिलता, गैर गम्भीरता अपनाये जाने व आयोग के आदेशों की अवहेलना किए जाने का दोषी माना गया है। जुर्माना वाले अधिकारियों में आगरा के एआरटीओ दरोगा सिंह, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी धर्मेन्द्र सक्सेना, जल कल विभाग के सचिव वीके गुप्ता, तहसीलदार एत्मादपुर जीतलाल सैनी, जिला विद्यालय निरीक्षक दिनेश यादव, जिला उद्यान अधिकारी अनीता सिंह, दक्षिणांचल विद्युत वितरण निगम के एग्जिक्‍यूटिव इंजीनियर दयाराम विमलेश, एएसपी केपी यादव, उप नगर आयुक्त नगर निगम राम सिंह गौतम, जिला समाज कल्याण अधिकारी उमेश द्विवेदी, नगर पालिका परिषद अछनेरा के अधिशासी अभियंता ललित कुमार, बरौली अहीर के ग्राम पंचायत अधिकारी भंवर सिंह हैं। इनपर 25-25 हजार रुपए का जुर्माना लगाया है। आदेश के बाद इन अधिकारियों में हड़कंप है।
सूचना आयुक्‍त गजेंद्र यादव ने इन जनसूचनाधिकारियों को एक अवसर प्रदान करते हुए आदेश जारी किया है कि वे वादी को समस्त सूचनाएं अगले 10 दिन में उपलब्ध कराएं या अगली सुनवाई तिथि पर आयोग में आएं। कुछ जनसूचनाधिकारियों के विरूद्ध सूचना का अधिकार अधिनियम के तहत अनुशासनात्मक, विभागीय कार्यवाही किए जाने की चेतावनी दी गई। सूचना आयुक्‍त का कहना है कि आवेदकों को निर्धारित समय में ही सूचनाएं उपलब्‍ध करवानी चाहिए। ऐसा न होने पर भविष्‍य में जुर्माने की कार्रवाई और ज्‍यादा बढ़ेगी।
X
प्रतीकात्‍मक फोटो।प्रतीकात्‍मक फोटो।
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना