VHP नेता संवार रहा मुस्लिमों का जीवन, 3 बच्चियों को लिया गोद / VHP नेता संवार रहा मुस्लिमों का जीवन, 3 बच्चियों को लिया गोद

dainikbhaskar.com

Nov 07, 2015, 07:00 AM IST

14 साल की उम्र में राम जन्‍मभूमि आंदोलन की ज्‍योति लेकर चलने वाले बृजेश तीन बार जेल भी जा चुके हैं।

विहिप से जुड़े बृजेश त्रिपाठी। विहिप से जुड़े बृजेश त्रिपाठी।
चिंतकों की हत्या, दादरी की शर्मनाक घटना, बीफ और कालिख। इंन्टॉलरेंस को लेकर अवॉर्ड वापसी पर हो-हल्ला...। कुछ लोग भले ही देश को सांप्रदायिकता के अंधेरे में धकेल रहे हों, लेकिन उम्मीद की रोशनी दिखाने वालों की भी कमी नहीं। यूपी में गंगा-जमुनी तहजीब की धारा बहाने वाले 'भागीरथ ' कदम-कदम पर मिलते हैं। dainikbhaskar.com आपको ऐसे ही कुछ लोगों से मिलवाने जा रहा है, जो अपने बेहतरीन काम से हिंदू-मुस्लिम भाईचारा बढ़ाकर कह रहे हैं-हमसे सीखो...
गोरखपुर. हिंदूवादी संगठन विश्‍व हिंदू परिषद और बजरंग दल के नेताओं को अक्‍सर मुस्लिम विरोधी माना जाता है, लेकिन इसी संगठन में ऐसे लोग भी हैं, जो बहुसंख्‍यक नहीं अल्‍पसंख्‍यक समुदाय की बेहतरी के लिए काम करते हैं। यूपी के गोरखपुर में बजरंगदल और विहिप से जुड़े बृजेश त्रिपाठी मुस्लिम बच्चियों की शिक्षा, स्किल डेवलपमेंट और करियर को संवार रहे हैं। इतना ही नहीं बृजेश ने तीन मुस्लिम और तीन हिंदू बच्‍चों को गोद भी ले रखा है।
महज 14 साल की उम्र में राम जन्‍मभूमि आंदोलन की ज्‍योति लेकर चलने वाले बृजेश तीन बार जेल भी जा चुके हैं। राम मंदिर और विहिप के कई अभियानों में सक्रिय भूमिका निभाई। हिंदुओं के अधिकारों की आवाज भी बुलंद की, लेकिन उनके मन में मुस्लिम समाज के लिए भी उतना ही सम्‍मान है। ये गुरु कृपा संस्‍थान के बैनर तले मुस्लिम महिलाओं-युवतियों को हुनरमंद बनाकर उन्‍हें समाज की मुख्‍य धारा से जोड़ने का काम कर रहे हैं। इसके लिए कई ट्रेनिंग प्रोग्राम भी चलाए जा रहे हैं। इनमें मेंहदी रचाओं दुल्‍हन सजाओं, गायन, वादन, सिलाई जैसे 45 रोजगार परक प्रोग्राम शामिल हैं।
संस्‍थान में हुनर सीख चुकी 4500 महिलाएं
बृजेश बजरंग दल में पूर्व प्रदेश संयोजक और विश्व हिंदू परिषद के पूर्व पूर्णकालिक संगठन मंत्री रह चुके हैं। ये आज समाज को जोड़ने वाले उस पुल को बनाने का काम कर रहे हैं, जिससे होकर गुजरने की शर्त जातिवाद, धर्म और संप्रदाय नहीं है। गुरु कृपा संस्‍थान से अब तक 4500 महिलाएं हुनर सीखकर समाज की मुख्य धारा से जुड़ चुकी हैं। इनमें से 70 फीसद महिलाएं मुस्लिम हैं। संस्थान की नींव में ईंट जोड़ने में हाथ बंटाने वाली भी मुस्लिम युवतियां और महिलाएं थीं।
गांधी की विचारधारा और क्रांतिकारियों का हूं समर्थक
बृजेश बताते हैं, ''मैं एक तरफ गांधी विचारधारा का समर्थक हूं। वहीं, दूसरी तरफ युवा क्रांतिकारियों का भी भक्त हूं। मेरा मानना है कि महान क्रांतिकारी, शहीद असफाकउल्लाह खां, पंडित राम प्रसाद बिस्मिल, ठाकुर रौशन सिंह और राजेन्द्र नाथ लाहिड़ी जैसे महान क्रांतिकारियों के योगदान को नहीं भुलाया जा सकता। गुरु कृपा संस्थान हर साल दिसंबर महीने में एक हफ्ते का पंडित राम प्रसाद बिल्स्मिल मेला का आयोजन करता है। इसमें सभी क्रांतिकारियों के बारे में लोगों को बताया जाता है। साल संस्थान की महिलाओं ने जो भी हुनर सीखा है, उसका प्रदर्शन मेले में करती हैं और अपने हाथ से बनाए सामानों को बेचकर कुछ पैसे कमा लेती हैं।
आगे की स्‍लाइड्स में पढ़‍िए, बड़ी मुश्किल से की पढ़ाई...
संस्‍थान में सिखाया जाता है ब्‍यूटी पार्लर। संस्‍थान में सिखाया जाता है ब्‍यूटी पार्लर।
बड़ी मुश्किल से की पढ़ाई
गुरु कृपा संस्थान के गठन के सवाल पर उन्‍होंने बताया कि वो मूल रूप से गोरखपुर जिले की खजनी तहसील के बदरा गांव के रहने वाले हैं। बड़ी मुश्किल से एमए और आईटीआई किया। बचपन में वे पांच किमी दूर घुटने तक पानी के रास्ते स्कूल पढने जाते थे। एक समय ऐसा आया जब उनके पिता ने पैसों की तंगी के कारण पढ़ाई करने से रोक दिया। इसके बाद उन्‍होंने अपनी पढ़ाई जारी रखी।
 
बृजेश ने कहा कि संस्थान का नाम गुरु कृपा यूं ही नहीं रखा गया है। उनका कहना है कि जिसने उन्हें जो सिखाया वह उनका गुरु हो जाता है और उन्हें उस गुरु की कृपा हमेशा मिलती है। इसी की प्रेरणा से उन्‍हें काम का विचार आया। संस्था में मैरीना सिद्दीकी, शबीना खातून, शबीहा अंसारी, शफीना आदि ट्रेनिंग देने का काम करते हैं।
 
आगे की स्‍लाइड्स में पढ़‍िए, विकास की राह से भटकाने के लिए छेड़ा जा रहा मुद्दा...
संगीत वादन की संस्‍थान में सिखाया जाता है। संगीत वादन की संस्‍थान में सिखाया जाता है।
विकास की राह से भटकाने के लिए छेड़ा जा रहा मुद्दा
बृजेश ने कहा, ''भारत से जाते समय अंग्रेजों ने भारत में फूट डालो राज करो का जो बीज बोया, उसका खामियाजा आज तक भुगतना पड़ रहा है। टालरेंस और बीफ का मुद्दा इसलिए छेड़ा जा रहा है, ताकि भारत को विकास के पथ से भटकाया जा सके। ये बातें भी वही कर रहे हैं जिनका अपना राजनीतिक करियर अंधकार में दिख रहा है।
 
आगे की स्‍लाइड्स में देखिए, अन्‍य फोटोज...
intolerance debate vhp leader working for muslim community welfare
intolerance debate vhp leader working for muslim community welfare
intolerance debate vhp leader working for muslim community welfare
intolerance debate vhp leader working for muslim community welfare
intolerance debate vhp leader working for muslim community welfare
X
विहिप से जुड़े बृजेश त्रिपाठी।विहिप से जुड़े बृजेश त्रिपाठी।
संस्‍थान में सिखाया जाता है ब्‍यूटी पार्लर।संस्‍थान में सिखाया जाता है ब्‍यूटी पार्लर।
संगीत वादन की संस्‍थान में सिखाया जाता है।संगीत वादन की संस्‍थान में सिखाया जाता है।
intolerance debate vhp leader working for muslim community welfare
intolerance debate vhp leader working for muslim community welfare
intolerance debate vhp leader working for muslim community welfare
intolerance debate vhp leader working for muslim community welfare
intolerance debate vhp leader working for muslim community welfare
COMMENT