देश के सबसे बड़े आगरा एक्सप्रेस-वे का सीएम अखिलेश करेंगे उद्घाटन / देश के सबसे बड़े आगरा एक्सप्रेस-वे का सीएम अखिलेश करेंगे उद्घाटन

आगरा और लखनऊ के बीच की दूरी होगी कम। पांच कंपनियों को दिया गया है काम।

dainikbhaskar.com

Nov 23, 2014, 11:02 AM IST
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
फोटो: कार्यक्रम में मुलायम सिंह यादव के साथ मौजूद अफसर।
लखनऊ. सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने रविवार को अपने ड्रीम प्रोजेक्ट आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे का शिलान्यास किया। हालांकि, इससे पहले उन्होंने अधिकारियों के सामने एक शर्त रख दी। मुलायम ने सीएम और वहां मौजूद मंत्रियों से कहा कि आप शिलान्यास के साथ इसके उद्घाटन की तिथि भी तय करिए। इसके बाद मुलायम ने अधिकारियों से आश्वासन लिया कि वे 22 महीने में काम खत्म करेंगे। फिर मुलायम सिंह ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पांच जगहों पर प्रोजेक्ट का एक साथ शिलान्यास किया।
शिलान्यास कार्यक्रम में सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि इस एक्सप्रेस वे से राज्य में खुशहाली आएगी। जिलाधिकारियों, अधिकारियों और किसानों के सहयोग से यह निर्माण हो रहा है। किसानों ने बिना नाराजगी अपनी जमीन दे दी, ऐसा कहीं नहीं हुआ था। एक्सप्रेस वे से प्रदेश में आने वाली खुशहाली की स्पीड बढ़ेगी। सीएम ने कहा कि 6 लेन एक्सप्रेस परियोजना देश की सबसे लंबी परियोजना है, जो दस जिलों के साथ 231 गांवों से होते हुए जाएगी। इससे लखनऊ से आगरा तक का सफर चार घंटे में तय किया जा सकेगा। इस इको फ्रेंडली एक्सप्रेस वे का निर्माण ईपीसी (इंजीनियरिंग, प्रोक्योरमेंट एंड कन्स्ट्रक्शन) मॉडल के तहत किया जाएगा।
ये है रूट और अनुमानित लागत
आगरा से फिरोजाबाद की अनुमानित लागत 1635.75 रुपए। पीएनसी इंफ्राटेक लिमिटेड को दी गई है निर्माण की जिम्मेदारी।
फिरोजाबाद से इटावा 60 किमी की योजना लागत 1999.49 एफकॉन इन्फ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड को दी गई है जिम्मेदारी।
इटावा से कन्नौज 57 किमी की योजना। लागत 1674.81 एनएनसी लिमिटेड को दी गई है जिम्मेदारी।
कन्नौज से उन्नाव 64 किमी की योजना। अनुमानित लाग 2124.17 एफकॉन इन्फ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड।
उन्नाव से लखनऊ 63.088 की अनुमानित लागत 1630 लॉर्सन और टर्बो लिमिटेड।

450 करोड़ की हुई है व्यवस्था
पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप के जरिए एक्सप्रेस वे बनाने के लिए हुई बिडिंग में किसी भी निवेशक के रुचि नहीं दिखाई थी। इसके बाद सरकार ने ईपीसी मॉडल पर एक्सप्रेस वे के निर्माण का फैसला लिया था। किसानों से भूमि अधिग्रहण और निर्माण कार्य शुरू करने के लिए अखिलेश सरकार द्वारा बजट में अनुपूरक प्रस्तावों में 450 करोड़ रुपए की व्यवस्था की गई थी।

300 किमी का होगा सर्विस लेन
आगरा, फिरोजाबाद, शिकोहाबाद, मैनपुरी, इटावा, कन्नौज, हरदोई और लखनऊ के मलीहाबाद से होकर गुजरने वाली आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे के दोनों तरफ झील और हरी पट्टी भी बनाए जाने का प्रस्ताव है। जमीन अधिग्रहण के लिए धारा-4 का नोटिस भी जारी किया जा चुका है। साथ ही दोनों तरफ सर्विस लेन तीन सौ किलोमीटर करने का प्रस्ताव भी पारित किया जा चुका है।
आगे पढ़िए पांच चरणों मेंं होगा निर्माण...
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
वीडियो: कार्यक्रम में बोलते सपा मुखिया मुलायम सिंह।
 
आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे के लिए भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया एडीएम एलए आगरा की ओर से की जा रही है। फिरोजाबाद जिले के 31 गांवों की 400 हेक्टेयर भूमि जाएगी। इसमें सदर तहसील के पांच, शिकोहाबाद तहसील के 26 गांव शामिल हैं। एक्सप्रेस वे का निर्माण पांच चरणों में होना है। पहले चरण में आगरा से फिरोजाबाद, दूसरे चरण में फिरोजाबाद से इटावा, तीसरे चरण में इटावा से कन्नौज, चौथे चरण में कन्नौज से उन्नाव और पांचवें चरण में उन्नाव से लखनऊ तक एक्सप्रेस वे का निर्माण किया जाएगा।
 
क्या होता है ईपीसी मॉडल
 
ईपीसी यानी इंजीनियरिंग, प्रोक्योरमेंट एंड कन्स्ट्रक्शन मॉडल। इसके अंतर्गत एक्सप्रेस वे के निर्माण का खर्च डेवलपर्स को सरकार देती है और टोल से होने वाली राजस्व प्राप्ति सरकार को मिलती है।
 
आगे पढ़िए, किस-किस कंपनी को मिला काम...
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
फोटो: सपा मुखिया से बात करते सीएम अखिलेश।
 
किस-किस कंपनी को मिला काम
 
आगरा-लखनऊ ग्रीन फील्ड एक्सप्रेस वे के लिए बिडिंग की प्रक्रिया 13 अगस्त को ही पूरी कर ली गई थी। इसके लिए 24 कंपनियों के 87 आवेदन आए थे। इसमें से पांच कंपनियों को पूरा एक्सप्रेस वे बनाने का काम दिया गया है।
 
आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे को बनाने का काम बिडिंग के बाद चार कंपनियों को सौंपा गया है। इनमें मेसर्स पीएनसी इंफ्रोटेक, मेसर्स एफकांस इन्फ्रास्ट्रक्चर, मेसर्स नागार्जुन कन्स्ट्रक्शन कंपनी, मेसर्स एलएंडी शामिल हैं।

कौन क्या बनाएगा
 
पैकेज-1 'आगरा-फिरोजाबाद' के लिए मेसर्स पीएनसी इंफ्रोटेक, पैकेज-2 'फिरोजाबाद-इटावा' के लिए मेसर्स एफकान्स इन्फ्रास्ट्रक्चर, पैकेज-3 'इटावा-कन्नौज' के लिए मेसर्स नागार्जुन कंस्ट्रक्शन कंपनी, पैकेज-4 'कन्नौज-उन्नाव' के लिए मेसर्स एफकान्स इन्फ्रास्ट्रक्चर और पैकेज-5 'उन्नाव-लखनऊ' के लिए मेसर्स एलएंडटी को चुना गया है।
 
आगे पढ़िए, अन्य कंपनियों ने भी लिया था काम...
 
 
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
फोटो: एक्सप्रेस वे का शिलान्यस करते सीएम और मंत्री।
अन्य कंपनियों ने भी लिया था भाग
 
निर्माण कार्य के लिए चुनी गई कंपनियों के अलावा, भारत सरकार की मेसर्स इरकान इंटरनेशनल लिमिटेड के प्रतिनिधियों ने भी भाग लिया। मेसर्स इरकान इंटरनेशनल लिमिटेड की निविदा देर से मिली थी, लेकिन समिति ने इस संस्था की निविदा भी खोलने का निर्णय लिया।
 
किस खंड में कितनी दूरी का होगा काम 
 
एक्सप्रेस वे प्रोजेक्ट आगरा से लखनऊ तक लगभग 300 किमी का है और इस पर 11526.73 हजार करोड़ रुपए की लागत आने का अनुमान है। इसमें  पैकेज -1 के अंतर्गत आगरा से फिरोजाबाद के गांव गुरहा तक 53.5 माइल स्टोन, पैकेज-2 में गुरहा से इटावा के मून गांव तक 115.5 माइल स्टोन, पैकेज -3 के अंतर्गत मून गांव से कन्नौज के नारमऊ गांव तक 172.5 माइल स्टोन तक, पैकेज -4 नारमऊ से उन्नाव के निवाल गांव तक 236.5 माइल स्टोन और पैकेज -5 में निवाल से लखनऊ तक 299.5 माइल स्टोन तक कार्य होगा।
 
 करोड़ों की है लागत
 
इस निविदा प्रक्रिया के पूरा हो जाने से प्रदेश में लगभग 10 हजार करोड़ रुपए की लागत से 301 किमी लंबे आगरा से लखनऊ प्रवेश नियंत्रित एक्सप्रेस वे के निर्माण का रास्ता साफ हो गया है। इस सड़क के पूरा हो जाने से जहां दिल्ली तक पहुंचने में समय की काफी बचत होगी। वहीं, कृषि और अन्य व्यापारिक गतिविधियों को भी बढ़ावा मिलेगा।
 
आगे पढ़िए एक्सप्रेस वे की खासियत...
 
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
फोटो: एक्सप्रेस वे प्रोजेक्ट दिखाते सपा मुखिया और सीएम अखिलेश यादव।
 
एक्सप्रेस वे की खासियत
 
- छह लेन का प्रवेश नियंत्रित एक्सप्रेस वे, भविष्य में हो सकेगा आठ लेन।
- यह एक्सप्रेस वे आगरा में यमुना एक्सप्रेस वे से जुड़ेगा।
- बाढ़ से बचने के लिए एक्सप्रेस वे जमीन की सतह से काफी ऊंचाई पर होगा।
- उपजाऊ जमीन का अधिग्रहण कम से कम होगा।
- एक्सप्रेस वे का अधिकांश हिस्सा नहर की पटरियों पर पड़ रहा है।
- सरकारी जमीन होने के कारण ज्यादा भूमि अधिग्रहण की जरूरत नहीं।
- सड़क के दोनों ओर ग्रीन फील्ड बेल्ट तैयार होगी।
- सड़क के दोनों ओर झील, तालाब व इको फ्रेंडली पार्क विकसित होंगे।
- अभी आगरा से लखनऊ की सड़क मार्ग की दूरी 350 किमी है। एक्सप्रेस वे बनने से यह दूरी घटकर लगभग 302 किमी रह जाएगी। इस तरह यह दूरी केवल तीन घंटे में पूरी हो सकती है।
 
आगे देखिए, शिलान्यास समारोह की तस्वीरें...
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
फोटो: शिलान्यास समारोह में बैठे सीएम अखिलेश और सपा मुखिया।
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
फोटो: शिलान्यास कार्यक्रम में लोगों का अभिवाद करते सीएम अखिलेश, साथ में हैं मुलायम सिंह यादव
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
फोटो: मुलायम सिंह यादव को बुके देते मुख्य सचिव आलोक रंजन।
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
फोटो: समारोह में मुलायम सिंह यादव और सीएम अखिलेश।

 
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
फोटो: शिलान्यास समारोह में सीएम अखिलेश।
 
 
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
फोटो: शिलान्यास समारोह में बैठे मुलायम सिंह और यूपी सीएम।
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
फोटो: मैप देखते सीएम अखिलेश।
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
फोटो: शिलान्यास समारोह में पहुंचे मुलायम सिंह यादव
 
 
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
फोटो: कार्यक्रम में अखिलेश।
 
 
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
फोटो: बुके देकर सीएम को किया गया सम्मानित।
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
फोटो: शिलान्यास करते सपा मुखिया मुलायम सिंह, साथ मे हैं सीएम अखिलेश। 
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
फोटो: शिलान्यास समारोह में बोलते सीएम अखिलेश।
X
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
Agra Lucknow Express way Chief Minister Akhilesh yadav Inaugarat
COMMENT