शहीद के घर सेना के मेजर से हुई थी अखिलेश की बहस, अब दी सफाई / शहीद के घर सेना के मेजर से हुई थी अखिलेश की बहस, अब दी सफाई

श्रीनगर के कुपवाड़ा में शहीद हुए कैप्टन आयुष यादव के घर 28 अप्रैल (रविवार) को अखिलेश यादव पहुंचे थे। यहां उनकी सेना के मेजर से बहस हो गई थी।

dainikbhaskar.com

May 02, 2017, 04:57 PM IST
अखि‍लेश ने कहा- शहीद के घर मैं मिलने गया था, राजनीत‍ि करने नहीं। अखि‍लेश ने कहा- शहीद के घर मैं मिलने गया था, राजनीत‍ि करने नहीं।
लखनऊ. श्रीनगर के कुपवाड़ा में शहीद हुए कैप्टन आयुष यादव के घर 28 अप्रैल (रविवार) को अखिलेश यादव पहुंचे थे। यहां उनकी सेना के मेजर से बहस हो गई थी। जिसको लेकर मीडिया में खबर छपी थी कि उन्होंने शहीद का अपमान किया। अब इस मामले पर अखि‍लेश ने अपनी सफाई दी है। उनका कहना है, ''जैसा बढ़ा-चढ़ा कर पेश किया जा रहा है वैसा कुछ भी नहीं हुआ।'' अखिलेश ने मंगलवार को पार्टी ऑफिस में मीडिया से बात की।
अखिलेश ने बताया आखिर उस दिन हुआ क्या था
- ''मैं शहीद के घर गया था, लेकिन आर्मी के लोग मुझे मिलने नहीं दे रहे थे। मैंने गेट पर पूछा, आप क्यों ऐसा कर रहे हैं?
- ''इसके जवाब में वहां खड़े एक मेजर ने कहा, अंदर आर्मी के बड़े अफसर बैठे हैं। उनके जाने के बाद चले जाइएगा।''
- ''मैंने पूछा कितना इंतजार करना होगा? इसपर मेजर ने कहा- जब तक वो बैठे हैं। इसके कुछ देर बाद बिना किसी से पूछे मैं अंदर चला गया।''
- ''मैंने तब भी कहा था, मैं यहां राजनीति करने नहीं आया हूं।''
इस बात पर दी सफाई
- बता दें, 29 अप्रैल को कुछ अखबारों में खबर छपी थी, 'अखि‍लेश ने शहीद का अपमान किया है। अखि‍लेश जब शहीद के घर पहुंचे थे तो उन्हें आर्मी के एक मेजर ने रोक दिया और कहा कि अन्दर ब्रिगेडियर बैठे हैं।'
- 'इस पर अखिलेश नाराज हो गए और उन्होंने कहा था, क्या ब्रिगेडियर हमसे बड़ा हो गया? साथ ही मेजर को हटाकर वह सीधे घर में घुस गए। जिससे शहीद के परिजन असहज हो गए।'

फ़ौज के लोग शहीद हो रहे, पीएम को सख्ती दिखानी चाहिए
- अखिलेश यादव ने आगे कहा- ''कश्मीर भारत का हिस्सा है। कश्मीर की जनता में भरोसा जगाना चाहिए। हमारे पास फ़ोर्स की कमी नहीं है।''
- ''फ़ौज के लोग शहीद हो रहे हैं। पीएम और केंद्र सरकार को सोचना चाहिए की हमारी सीमाओं पर हमारे फौजियों की जान क्यों जा रही है।''
- ''जिस बेहरहमी से घटनाये हो रही हैं, पीएम को सख्ती दिखानी चाहिए। देश सुरक्षित रहे, देश के अन्दर भी लोग सुरक्षित रहें।
पेट्रोल पंप स्कैम में शामिल हो सकते हैं रिटायर कर्मचारी
- अखिलेश यादव ने पेट्रोल पंप स्कैम को लेकर कहा- ''जो इंजिनियर पेट्रोल पम्प की मशीन बनाते हैं। जिन्होंने भी मशीनें लगाई हैं वह जब रिटायर हुए होंगे तो उन्होंने चिप और रिमोट बनाए होंगे। इसमें बड़ी जांच होनी चाहिए।''
- ''पता चल रहा है कि औरैया से शुरुआत हुई थी। ऐसे में इसकी पूरे देश में जांच होनी चाहिए। जो पकड़ा गया है वह ज्यादा पढ़ा लिखा नहीं है। उसे कहीं अच्छी ट्रेनिंग मिली होगी।''
आगे की स्लाइड्स में देखें खबर से रिलेटेड 4 फोटोज...
श्रीनगर के कुपवाड़ा में शहीद हुए कैप्टन आयुष यादव के घर 28 अप्रैल (रविवार) को अखिलेश यादव पहुंचे थे। यहां उनकी सेना के मेजर से बहस हो गई थी। श्रीनगर के कुपवाड़ा में शहीद हुए कैप्टन आयुष यादव के घर 28 अप्रैल (रविवार) को अखिलेश यादव पहुंचे थे। यहां उनकी सेना के मेजर से बहस हो गई थी।
मीडिया में खबर छपी थी कि अखि‍लेश ने शहीद का अपमान किया। मीडिया में खबर छपी थी कि अखि‍लेश ने शहीद का अपमान किया।
अखि‍लेश का कहना है, जैसा बढ़ा-चढ़ा कर पेश किया जा रहा है वैसा कुछ भी नहीं हुआ। अखि‍लेश का कहना है, जैसा बढ़ा-चढ़ा कर पेश किया जा रहा है वैसा कुछ भी नहीं हुआ।
अखि‍लेश ने कहा- पीएम और केंद्र सरकार को सोचना चाहिए की हमारी सीमाओं पर हमारे फौजियों की जान क्यों जा रही है। अखि‍लेश ने कहा- पीएम और केंद्र सरकार को सोचना चाहिए की हमारी सीमाओं पर हमारे फौजियों की जान क्यों जा रही है।
X
अखि‍लेश ने कहा- शहीद के घर मैं मिलने गया था, राजनीत‍ि करने नहीं।अखि‍लेश ने कहा- शहीद के घर मैं मिलने गया था, राजनीत‍ि करने नहीं।
श्रीनगर के कुपवाड़ा में शहीद हुए कैप्टन आयुष यादव के घर 28 अप्रैल (रविवार) को अखिलेश यादव पहुंचे थे। यहां उनकी सेना के मेजर से बहस हो गई थी।श्रीनगर के कुपवाड़ा में शहीद हुए कैप्टन आयुष यादव के घर 28 अप्रैल (रविवार) को अखिलेश यादव पहुंचे थे। यहां उनकी सेना के मेजर से बहस हो गई थी।
मीडिया में खबर छपी थी कि अखि‍लेश ने शहीद का अपमान किया।मीडिया में खबर छपी थी कि अखि‍लेश ने शहीद का अपमान किया।
अखि‍लेश का कहना है, जैसा बढ़ा-चढ़ा कर पेश किया जा रहा है वैसा कुछ भी नहीं हुआ।अखि‍लेश का कहना है, जैसा बढ़ा-चढ़ा कर पेश किया जा रहा है वैसा कुछ भी नहीं हुआ।
अखि‍लेश ने कहा- पीएम और केंद्र सरकार को सोचना चाहिए की हमारी सीमाओं पर हमारे फौजियों की जान क्यों जा रही है।अखि‍लेश ने कहा- पीएम और केंद्र सरकार को सोचना चाहिए की हमारी सीमाओं पर हमारे फौजियों की जान क्यों जा रही है।
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना