रीजनल पार्टियां हिटलर की तरह; अखिलेश भैया छोड़ें अध्यक्ष पद: अपर्णा यादव / रीजनल पार्टियां हिटलर की तरह; अखिलेश भैया छोड़ें अध्यक्ष पद: अपर्णा यादव

मुलायम की छोटी बहू अपर्णा यादव ने DainikBhaskar.com को दिए इंटरव्यू में कहा कि, 'अखिलेश भैया को राष्ट्रीय अध्यक्ष का पद छोड़ देना चाहिए।

Ravi Srivastava

May 08, 2017, 08:12 AM IST
मुलायम की छोटी बहू अपर्णा यादव ने कहा कि योगी सरकार अच्छा काम कर रही है। (फाइल) मुलायम की छोटी बहू अपर्णा यादव ने कहा कि योगी सरकार अच्छा काम कर रही है। (फाइल)
लखनऊ. समाजवादी पार्टी और परिवार में चल रहा घमासान अभी थमा नहीं है। जहां एक ओेर शिवपाल यादव सेक्युलर मोर्चा के गठन पर जोर दे रहे हैं, तो वहीं मुलायम ने भी रविवार को कहा कि अखि‍लेश को मुख्यमंत्री बनाना उनकी गलती थी। इसी बीच, मुलायम की छोटी बहू अपर्णा यादव ने DainikBhaskar.com को दिए इंटरव्यू में कहा, "अखिलेश भैया को राष्ट्रीय अध्यक्ष का पद छोड़ देना चाहिए।" साथ ही, अपर्णा ने योगी सरकार की तारीफ करते हुए रीजनल पार्टियों को हिटलर की तरह बताया। पढ़ें अपर्णा यादव का पूरा इंटरव्यू...
Q. योगी सरकार का काम-काज आपको कैसा लग रहा है?
A. योगी सरकार वन मैन शो की तरह नहीं है। उनके यहां चार लोगों से बातचीत के बाद ही कोई फैसला लिया जाता है। जबकि रीजनल पार्टी में एक आदमी फैसला या फरमान जारी करता है, जिसे सभी को मानना पड़ता है। रीजनल पार्टियां हिटलर की तरह होती हैं।
Q. सीएम के तौर पर योगी आदित्यनाथ को आप कैसे देखती हैं?
A. योगी जी 25 साल की उम्र में अपने दम पर सांसद बने और लगातार पांच बार चुनाव जीता। उन्होंने अपना गढ़ तैयार किया और अब वह यूपी के सीएम हैं। ऐसे में, हमें उनकी इज्जत करनी चाहिए। उनकी (योगी) सरकार बढ़िया काम कर रही है। अभी तक ऐसा कोई काम नहीं किया, जिससे कहा जाए कि मौजूदा सरकार खराब काम कर रही है।
Q. अखिलेश ने एंटी रोमियो स्क्वॉड के गठन पर सवाल खड़े किए थे। आप एंटी रोमियो स्क्वॉड को लेकर क्या सोचती हैं?
A. हर फैसले की बुराई नहीं करनी चाहिए। इसे (एंटी रोमियो स्क्वॉड) पॉजिटिविली देखने की जरूरत है। जिन्होंने भी इंग्लिश लिटरेचर पढ़ा है, वह जानते हैं कि जूलियट-रोमियो प्ले में रोमियो को महान बताया गया है, लेकिन इंग्लिश में ही रोड साइड रोमियो भी बोला जाता है। एंटी रोमियो स्क्वॉड का फायदा लड़कियों को मिला है। जहां गलत हुआ, वहां योगी जी ने सख्त एक्शन भी लिया है।
Q. योगी सरकार सपा सरकार के प्रोजेक्ट्स की जांच करा रही है। क्या ये बदले की भावन के तहत किया जा रहा है?
A. जब सपा सरकार आई थी, तब बसपा सरकार के कामों की जांच हुई थी। तब पता चला था कि पार्क और मूर्तियों पर कितना पैसा खर्च हुआ। अब योगी सरकार जांच करा रही है। यह सिर्फ इस स्टेट में नहीं, बल्कि हर स्टेट में होता है। केंद्र में भी यही होता है। ये एक रूटीन प्रॉसेस है।
Q. शिवपाल मीडिया में बार-बार कह रहे हैं कि अखिलेश को अध्यक्ष पद छोड़ देना चाहिए। आप क्या कहती हैं?
A. अखिलेश भैया अपने वादे पूरे करने के लिए जाने जाते हैं। मुझे लगता है, अभी तक उन्होंने जो कहा वह किया है। अपना वादा वह पूरा करते हैं। ऐसे में, अब उन्हें राष्ट्रीय अध्यक्ष का पद नेताजी को लौटा देना चाहिए। (बता दें कि बीते जनवरी में पार्टी की आम सभा बुलाकर अखिलेश यादव, मुलायम को हटाकर राष्ट्रीय अध्यक्ष बन गए थे। साथ ही उन्होंने कहा था- ''यूपी चुनाव के बाद मैं नेताजी (मुलायम सिंह) को अध्यक्ष पद लौटा दूंगा।'' )
Q. कहा जा रहा है यूपी चुनाव में ईवीएम की टेम्परिंग की गई थी। इसकी वजह से बीजेपी को इतनी बड़ी जीत मिली और सपा को हार का सामना करना पड़ा?
A. ईवीएम में कोई टेम्परिंग नहीं की गयी है। जब बसपा आई, तब भी ईवीएम थी। जब सपा आई, तब भी ईवीएम थी। 2014 के लोकसभा चुनाव में जब सपा के 5 सांसद जीते थे और यूपी में सपा सरकार थी तब भी ईवीएम से चुनाव हुए थे। ऐसे में अब कैसे धांधली होगी? हमें अपनी रणनीति बदलने की जरूरत है। हम अपनों की वजह से हारे हैं।
अपर्णा यादव ने कहा कि ईवीएम में कोई टेम्परिंग नहीं की गयी है। जब बसपा आई, तब भी ईवीएम थी। जब सपा आई, तब भी ईवीएम थी। (फाइल) अपर्णा यादव ने कहा कि ईवीएम में कोई टेम्परिंग नहीं की गयी है। जब बसपा आई, तब भी ईवीएम थी। जब सपा आई, तब भी ईवीएम थी। (फाइल)
X
मुलायम की छोटी बहू अपर्णा यादव ने कहा कि योगी सरकार अच्छा काम कर रही है। (फाइल)मुलायम की छोटी बहू अपर्णा यादव ने कहा कि योगी सरकार अच्छा काम कर रही है। (फाइल)
अपर्णा यादव ने कहा कि ईवीएम में कोई टेम्परिंग नहीं की गयी है। जब बसपा आई, तब भी ईवीएम थी। जब सपा आई, तब भी ईवीएम थी। (फाइल)अपर्णा यादव ने कहा कि ईवीएम में कोई टेम्परिंग नहीं की गयी है। जब बसपा आई, तब भी ईवीएम थी। जब सपा आई, तब भी ईवीएम थी। (फाइल)
COMMENT