पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Boat Overturns Ganga River Two Children Death Raibareli Uttar Pradesh News

रायबरेली: गंगा नदी में नाव पलटने से दो बच्चों की मौत, अन्य की तलाश जारी

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
फोटो: पीड़ि‍त परि‍वार को सांत्‍वना देती संप्रग अध्यक्ष सोनि‍या गांधी।
रायबरेली/लखनऊ. रायबरेली के सरैनी क्षेत्र में गंगा नदी में नाव पलटने से शुक्रवार को 17 बच्चे डूब गए। गोताखोरों ने मौके पर मुस्तैदी दिखाते हुए छह बच्चों को डूबने से बचा लिया। बाकी नदी में डूब गए। इनमें से पांच बच्चों का शव निकाल लिया गया है। अन्य की तलाश जारी है। दूसरी ओर इस घटना की जानकारी होते ही संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी और कैबिनेट मंत्री डॉ. मनोज पांडेय कंजास गांव जाकर गमगीन परिजनों को सांत्वना दी। वहीं, प्रदेश सरकार की ओर से मृतक के परिजनों को दो-दो लाख रुपए, गंभीर रूप से घायलों को 50 हजार रुपए और मामूली घायल को 25 हजार रुपए की आर्थिक देने की घोषणा की गई है।
जानकारी के अनुसार, ये बच्चे शुक्रवार की सुबह गंगा में नहाने आए थे। इसके बाद नाव से घूमने लगे। इसी दौरान नाव पलट गई, जिससे यह हादसा हुआ। इसकी जानकारी मिलते ही जिले के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए। आनन-फानन​ में गोताखोरों की मदद ली गई। वे पानी में बच्चों की तलाश करने लगे। अभी तक पांच शवों को निकाल जा चुका है। बाकी की तलाश जारी है। घटना की जानकारी मिलते ही आसपास के गांव के लोग भी घटनास्थल पर जुट गए हैं।
मल्‍लाही घाट के पास हुई यह घटना
यह दर्दनाक हादसा लालगंज से 20 किलोमीटर दूर स्‍थि‍त रालपुर गंगा घाट के निकट मल्लाही घाट से 200 मीटर दूर बीच गंगा में हुई। बताते चलें कि‍ गंगा के किनारे रहने वाले श्रृद्धालु प्रत्येक वर्ष डिठोन एकादशी से लेकर परीवा तक कार्तिका स्नान करते हैं। कार्तिका स्नान चिड़ि‍या बोलने से पहले किया जाता है।
चार बजे सुबह नहाने गए थे लोग
भोर का गंगा स्नान बड़ी ही पुण्यकारी माना जाता है। जिसके चलते कन्जास सहित गंगा के किनारे के गांवों के सैकड़ों लोग मल्लाही घाट गंगा नहाने पांच दिन से लगातार जा रहे थे। शुक्रवार की सुबह चार बजे के करीब लोग नहाने गए थे। इनमें पुरुष महिलाएं, युवक और यवति‍यां भी थीं और यह घटना घट गई।
आगे पढ़ि‍ए तैरकर निकले बालक भी बिलखते नजर आए