माया ने राहुल गांधी को बताया कुंभकर्ण, कहा- नाटक करने फरीदाबाद गए थे युवराज / माया ने राहुल गांधी को बताया कुंभकर्ण, कहा- नाटक करने फरीदाबाद गए थे युवराज

बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने शुक्रवार को मीडिया से बातचीत के दौरान कांग्रेस और बीजेपी पर साधा निशाना।

Oct 23, 2015, 11:23 AM IST
लखनऊ. बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने फरीदाबाद में दलित परिवार के 2 दलित बच्चों को जिंदा जलाने की घटना को लेकर कांग्रेस के वाइस प्रेसिडेंट राहुल गांधी पर निशाना साधा। विक्टिम फैमिली से मुलाकात के दौरान फोटो खिंचवाने के आरोप पर राहुल गांधी के भड़कने को मायावती ने सिर्फ नाटक करार दिया है। रावण के भाई कुंभकर्ण से राहुल गांधी की तुलना करते हुए माया ने कहा, "जब उनके राज्य में दलितों पर अत्याचार हो रहा था, तब कांग्रेस के इस युवराज (राहुल गांधी) की आंख नहीं खुली। तब तो वह कुंभकर्ण की नींद सो रहे थे। जब दलित बच्चों को जिंदा जला दिया गया, तब नाटक करने फरीदाबाद पहुंच गए।" बता दें, हरियाणा में फरीदाबाद के सनपेट गांव में दो दलित बच्चों को हाल ही में जिंदा जला दिया गया था।
बीजेपी भी करती है नाटक
माया ने कहा, "जब सेंट्रल में बीजेपी पावर में होती है, तो कांग्रेस नाटक करती है और जब सेंट्रल में कांग्रेस की सरकार होती है, तब बीजेपी का नाटक शुरू हो जाता है। फरीदाबाद में आरोपियों को हरियाणा सरकार बचा रही है। बीएसपी सुप्रीमो ने ये बातें शुक्रवार को लखनऊ में मीडिया से बातचीत के दौरान कही।
फरीदाबाद में क्यों भड़क गए थे राहुल गांधी?
राहुल गांधी कुछ दिन पहले विक्टिम फैमिली से मिलने फरीदाबाद पहुंचे थे। बीजेपी ने आरोप लगाया था कि कांग्रेस राज में दलितों पर ज्यादा अत्याचार हुआ। क्या फोटो खिंचवाने से इंसाफ मिलेगा? इससे राहुल गांधी भड़क गए थे। राहुल ने कहा था, "मैं बार-बार आऊंगा। यहां लोग मर रहे हैं और आप कह रहे हैं कि फोटो ऑपरचुनिटी?" राहुल गांधी ने कहा था कि गरीब होने की वजह से परिवार पर अत्याचार हुआ।
वीके सिंह के बयान पर उठाए सवाल
बीएसपी सुप्रीमो ने जनरल वीके सिंह के बयान पर भी सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि वीके सिंह का बयान आपत्तिजनक और निंदनीय है। मायावती ने वीके सिंह को घटिया बताया और पीएम मोदी से उन्हें कैबिनेट से हटाने की मांग की। बता दें, वीके सिंह ने दलित बच्चों को जिंदा जलाकर मारने के मामले में पूछे गए एक सवाल के जवाब में कहा था कि अगर कोई कुत्ते को भी पत्थर मार दे, तो सरकार को जिम्मेदार ठहराया जाता है।
कांग्रेस और बीजेपी में दिखती है जातिवादी मानसिकता
मायावती ने कहा, "कांग्रेस और बीजेपी दोनों पार्टियों में आज भी जातिवादी मानसिकता झलकती है। विपक्षी दलों की सरकारों में दलित उत्पीड़न बढ़ा है। बीजेपी शासित हरियाणा के फरीदाबाद जिले में एक दलित परिवार के चार लोगों को जिंदा जला दिया गया। वहां पुलिस का पहरा होने का बावजूद ऐसी घटना हुई। ये घटना दलितों के प्रति बीजेपी सरकार की उदासीनता और लापरवाही को दिखाती है।" माया ने फरीदाबाद की घटना में दोषी पुलिसवाले को भी जेल भेजे जाने की मांग की।
पीएम मोदी में नहीं है हिम्‍मत
मायावती ने कहा, "पीएम नरेंद्र मोदी के मंत्री और नेता बयानबाजी कर रहे हैं, लेकिन वह सिर्फ सलाह देते रह जाते हैं। उनमें हिम्‍मत नहीं है, ऐसे लोगों पर डंडा चलाने की। वर्ना आरएसएस डंडा चला देगी, क्‍योंकि केद्र में नीतियां भी आरएसएस ही बनाती है। आरएसएस के प्रमुख तो वैसे भी बाबा साहब और गौतम बुद्ध के लिए खूब बोलते है, लेकिन उनके बताए रास्‍तों पर नहीं चलते।"
मोदी करते हैं दलित प्रेमी होने का ढोंग
माया ने पीएम पर निशाना साधते हुए कहा, "मोदी एक ओर बाबा साहब अंबेडकर के नाम पर स्‍मारक बनाने की बात करते है, लेकिन दूसरी ओर दलितों का शोषण और उत्‍पीड़न हो रहा है। पीएम मोदी दलित प्रेमी होने का ढोंग कर रहे है। अगर उनके मन में दलितों के लिए वाकई प्रेम होता, तो देश में दलितों के साथ ऐसा नहीं होता। यह सब सिर्फ दलितों का वोट पाने के लिए हो रहा है। कांग्रेस ने भी पहले दलित प्रेमी होने का नाटक किया और केंद्र से बाहर हो गई। अगर बीजेपी भी ऐसे ही ढोंग करेगी तो बाहर हो जाएगी।"
मिली हुई है सपा-बीजेपी
मायावती ने प्रदेश सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा, "राज्‍य में सपा और केंद्र में बीजेपी की हालत खराब है। यूपी तो वैसे भी दलितों के उत्‍पीड़न के मामले में नंबर-1 है। इसलिए दोनों आपस में मिले हुए हैं, क्‍योंकि चुनाव नजदीक आ रहे है। यूपी में दादरी कांड में सपा नाटकबाजी कर रही है। बीजेपी और आरएसएस के लोगों ने ही वहां पर वारदात कराई है। उनके लोग खुलेआम बयानबाजी कर रहे है, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं होती।"
X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना