न्यूज़

--Advertisement--

मौलाना तौकीर रजा ने कहा- हिन्‍दू महिलाओं के होते हैं पांच पति, पता नहीं बच्‍चे का बाप कौन

आईएमसी के स्थापना दिवस के मौके पर सामाजिक एकता सम्मेलन का आयोजन किया गया।

Dainik Bhaskar

Oct 17, 2016, 04:44 PM IST
मौलाना तौकीर रजा। मौलाना तौकीर रजा।
बरेली. आईएमसी के अध्यक्ष मौलाना तौकीर रजा ने एक सम्‍मेलन में तीन तलाक के मुद्दे पर विवादित बयान देते हुए कहा कि तुम्‍हारे (हिन्‍दू) धर्म में भी तो एक महिला के पांच-पांच पति होते हैं। उन्‍होंने आगे कहा कि आपके धर्म में तो महिला को पता भी नहीं होता है कि उसके बच्चे का बाप कौन है। जब वह यह बयान दे रहे थे तो मंच पर राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष चौधरी अजित सिंह भी मौजूद थे।
हिन्‍दू महिला को नहीं पता होता बच्चे के बाप का नाम
- आल इंडिया इत्तेहादे मिल्लत काउंसिल (आईएमसी) के स्थापना दिवस के मौके पर रविवार को सामाजिक एकता सम्मेलन का आयोजन किया गया।
- यहां तीन तलाक और समान नागरिक संहिता पर चर्चा करते हुए मौलाना तौकीर रजा खां ने बेहद विवादित बयान दे दिया।
- उन्होंने कहा कि तुम्हारे धर्म में भी तो एक महिला के पांच-पांच पति होते हैं।
- उनका इशारा पांडवों की ओर था। महाभारत में द्रौपदी के पांच पति थे।
- वह इतने पर भी नहीं रुके, मौलाना ने कहा कि आपके धर्म में तो महिल को पता भी नहीं होता है कि उसके बच्चे का बाप कौन है।
- उसको तो बच्चे के बाप का नाम भी पता नहीं होता है।
- मौलाना ने कहा कि तीन तलाक के मामले में अगर आप लोग दखल दोगे तो हम तुम्हारे हर मामले में जोरदार दखल देंगे।
मस्जिद में अजान हो तो मंदिरों में भी गायत्री मंत्र पढ़े जाएं
- इतना कहने के बाद मौलाना ने बात को संभालते हुए कहा कि मैं चाहता हूं कि अगर मस्जिद में अजान हो तो मंदिरों में भी गायत्री मंत्र पढ़े जाएं।
- मस्जिद हो या मंदिर, अगर इन्हें तोड़ा गया तो दुनियाभर में हिंदुस्तान का सिर शर्म से नीचा होगा।
- समान नागरिक संहिता को लेकर कहा कि इसे लागू करने से समस्याएं बढ़ेंगी।
- उन्‍होंने सवाल उठाया कि क्या जिनके निकाह हो चुके हैं, उन्हें फेरे लेने होंगे या फिर जिनके फेरे हो चुके हैं, उन्हें निकाह पढ़ना पड़ेगा।
- ऐसा करके हुकूमत का मकसद दोनों सम्प्रदाय के लोगों को आपस में उलझाना है।
- तीन तलाक का विवाद भी इसी वजह से खड़ा किया है।
आगे की स्‍लाइड्स में देखें अन्‍य फोटोज...
X
मौलाना तौकीर रजा।मौलाना तौकीर रजा।
Click to listen..