• Hindi News
  • Farmer Suicide Before Rajnath Singh Badaun Visit

राजनाथ के बदायूं दौरे से पहले किसान ने की आत्महत्या

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
लखनऊ/बदायूं. जहां एक ओर केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह किसानों के जख्मों पर मरहम लगाने निकले हैं वहीं दूसरी ओर किसानों की आत्महत्याएं रुकने का नाम नहीं ले रहीं। राजनाथ सिंह के बदायूं दौरे से कुछ ही घंटे पहले सोमवार को एक किसान ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। इस खबर को सुनकर किसान की मां को दिल का दौरा पड़ा और उसकी भी मृत्यु हो गई। इस बाबत बदायूं के डीएम ने कहा कि‍ मुख्यमंत्री राहत कोष से परिवार को मदद दी जाएगी। मृतक की विधवा को पेंशन देने का प्रयास किया जाएगा।

जानकारी के मुताबि‍क, बदायूं के गांव रसूलपुर के रहने वाले किसान रतीराम ने अपनी फसल बर्बाद होने के कारण पेड़ पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। यह खबर जब मृतक किसान की मां झम्मन देवी को लगी तो उसकी भी दिल का दौरा पड़ने से मृत्यु हो गई। अपने बदायूं दौरे के दौरान केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने किसानों से वादा किया कि उनका गेहूं कैसा भी हो उसे ख़रीदा जाएगा। उन्होंने किसानों से आत्महत्या नहीं करने की भी अपील की।
राजनाथ सिंह ने कहा कि‍ बरेली मंडल में 103 किसानों ने आत्महत्या की है। किसी किसान को आत्महत्या मत करने दो। उसको ढांढस बढ़ाओ फिर उसके साथ पूरे गांव के लोग इस बात का प्रयास करें कि‍ किसान हताशा के कारण आत्महत्या करने को मजबूर न हों। उन्‍होंने कहा कि‍ केंद्र सरकार पूरी तरह से किसानों के साथ खड़ी है। खाद्य मंत्री रामबिलास पासवान से बात की है कि‍ गेहूं कैसा भी हो सब सरकारी एजेंसियां ख़रीदेंगी।