• Hindi News
  • Home Minister Rajnath Singh Visited Lucknow

लखनऊ पहुंचे राजनाथ सिंह, कहा- आतंक पर बात करने के लिए हम तैयार, पाकिस्‍तान की बारी

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
लखनऊ. भारत ने आज साफ कर दिया कि वह पाकिस्तान से अब सिर्फ आतंकवाद पर बात करेगा। राजधानी पहुंचे गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को भारत पाकिस्तान के बीच होने वाले एनएसए स्तर की मीटिंग को लेकर हो रहे विवाद पर कड़ी प्रतिक्रिया जताई। उन्होंने कहा कि आतंकी कार्रवाई और बातचीत दोनों एक साथ नहीं हो सकती, इसलिए पाकिस्तान से अब केवल आतंकवाद पर ही बातचीत होगी।
राजधानी में आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्‍होंने कहा कि बीते सवा वर्ष में भारत की छवि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मजबूत हुई है। पाकिस्तान के साथ रविवार को जो वार्ता प्रस्‍तावि‍त है, वह केवल आतंक पर आधारि‍त होगी। यह वार्ता उफा में दोनों देश के पीएम के बीच जो बातचीत हुई है, उस पर आधारि‍त होगी।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सिंह ने कहा कि पीएम सहित पूरा मंत्रि‍मंडल सड़क पर झाडू लेकर निकला है। सफाई करना कोई गलत बात नहीं है। उन्‍होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि सवा वर्ष की सरकार के कार्यकाल में 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' और प्रधानमंत्री जनधन योजना की शुरूआत कर पीएम ने देश को काफी आगे बढ़ाया है। उन्‍हाेंने कहा कि कार्यकर्ता जिम्मेदारी मिलने के बाद मर्यादा न तोड़ें। साथ ही पद मिलने के बाद घमंड न करें, क्‍योंकि आदमी का महत्व काम से नहीं, कृतियों से होता है।
गरीबों का होगा कम खर्च में इलाज
गरीबों के इलाज पर बोलते हुए उन्‍होंने कहा कि कैंसर, किडनी और हार्ट की समस्‍याओं के मरीजों को परेशानी नहीं होगी। अब केजीएमयू और पीजीआई के साथ अनुबंध किया जाएगा। इसकी जिम्मेदारी कॉरपोरेट सोशल सेक्टर के लोग उठाएंगे। यह अनुबंध अगले महीने तक हो जाएगा।
संसदीय क्षेत्र में चल रही 15 करोड़ की परियोजना
कार्यक्रम के दौरान गृहमंत्री ने कहा कि एक साल में पांच करोड़ की सांसद निधि होने के बावजूद 15 करोड़ की परियोजना संसदीय क्षेत्र में चल रही है। सांसद नि‍धि‍ से स्‍कूलों में बालक-बालि‍काओं के लि‍ए शौचालय की व्‍यवस्‍था, सड़कों का प्रस्‍ताव, हैंडपंप आदि‍ स्‍वीकृत कि‍ए गए हैं। कुकरैल फ्लाईओवर के मसले पर उन्‍होंने कहा कि‍ इसके लि‍ए आर्मी की तरफ से क्‍लि‍यरेंस मि‍ल चुकी है। राज्‍य सरकार की पहल से इस काम को भी शुरू कराया जाएगा।
गंगा मि‍शन के साथ होगा गोमती का कायाकल्‍प
गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि‍ गंगा मि‍शन के तहत 40 शहर चयनि‍त कि‍ए गए हैं, जि‍नकी साफ-सफाई से लेकर सीवेज ट्रीटमेंट प्‍लान तक शामि‍ल है। उन्‍होंने कहा कि‍ केंद्रीय जल संसाधन मंत्रालय की तरफ से गंगा मि‍शन के साथ गोमती मि‍शन को भी सहमति‍ दी जा चुकी है। जब डीपीआर बनेगा, तभी गोमती के सफाई का भी प्रोजेक्‍ट जारी होगा।