पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शर्मनाक: रोड पर थैले में मिली 2 घंटे पैदा हुई बच्ची, नीली पड़ गई थी बॉडी

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
लखनऊ. राजधानी में लोहिया पथ पर एक युवक को नवजात बच्ची गुटखे के थैले में पड़ी मिली। उसका शरीर पूरी तरह से नीला पड़ चुका था। सूचना पर पहुंचे दो कांस्टेबल नें लोहिया हॉस्पिटल में एडमिट कराया। डॉक्टरों का कहना है, ''बच्ची को देखकर लग रहा है कि 2 घंटे पैदा पहले हुई थी। थैले में रहने के कारण उसे ऑक्सीजन नहीं मिली। इसी वजह से बॉडी नीली पड़ गई। बच्चे की हालत नाजुक बनी हुई है।'' आगे पढ़िए पूरा मामला...

- घटना लोहिया पथ स्थित एचएएल की है। यहां सड़क किनारे कोई कमला पसंद(गुटखा) के थैले में एक नवजात बच्ची को छोड़ गया।
- शनिवार सुबह गोमतीनगर के डिगडिगा के रहने वाले मुकेश कुमार वर्मा (32) नैनीताल ट्रिप से लौट रहे अपने बेटे अरुण को लेने बस स्टैंड जा रहे थे। इसी दौरान उन्होंने रोड पर पड़े थैले में अचानक हलचल देखी।
- युवक के मुताबिक, ''पास जाकर थैला खोला तो उसमें एक नवजात बच्ची थी। उसका पूरा शरीर नीला पड़ चुका था।'' 
- ''तुरंत पास की पॉलीटेक्निक चौकी पर सूचना दी। मौके पर कान्स्टेबल अनुराग पांडेय और घनश्याम राय पहुंचे और बच्ची को लोहिया हॉस्पिटल पहुंचाया।''
 
क्या कहना है डॉक्टर का ?
- मेडिकल सुपरिन्टेंडेंट ऑफ हॉस्पिटल एमएल भार्गव ने बताया, ''बच्ची का वजन 2.6 किलो है। अभी उसे मॉस्‍क से ऑक्सीजन दिया जा रहा है। उसी हालत अभी नाजुक बनी हुई है। वो दूध भी नहीं पी पा रही है। 48 से 72 घंटे बाद ही बच्चे की सेहत के बारे में पूरी जानकारी दे पाएंगे।''
- चाइल्ड लाइन लखनऊ के कोऑर्डिनेटर अजीत कुशवाहा ने बताया, ''बाल कल्याण समिति ने बच्ची को प्रागनारायण रोड स्थित राजकीय बाल गृह शिशु को सौंपने के आदेश दिए हैं। अस्पताल से स्वस्थ होने पर उसे यहां भेजा जाएगा।''
- बता दें, चालल्ड लाइन लखनऊ और रेलवे चाइल्ड लाइन के पास दर्ज आंकड़ों के मुताबिक, बीते 54 नवजात लावारिस मिले, जिसमें 39 लड़कियां थीं। 
खबरें और भी हैं...