--Advertisement--

ये है लखनऊ का 'माइकल जैक्सन', बायां हाथ खोने के बाद भी बना डांसर

अभिषेक को भी जब कहीं एडमिशन नहीं मिला, तो उसने घर पर ही डांस सीखने की ठान ली।

Danik Bhaskar | Jun 25, 2015, 09:00 AM IST
एक हाथ पर डांस करते अभिषेक। एक हाथ पर डांस करते अभिषेक।
लखनऊ. जिद करो और अपनी दुनिया बदल डालो। हौसलों से उड़ो और आसमान छू डालो। क्या हुआ अगर एक हाथ नहीं तो, बस दिल से डांस करो और जहां को अपना बना डालो। इसी सोच के साथ बरसों पहले लखनऊ के रहने वाले अभिषेक ने डांस फ्लोर पर कदम रखा था। धीरे-धीरे वक्त गुजरता गया और वो लखनऊ का माइकल जैक्सन बन गया। उसके डांस के दीवाने आज हजारों हैं। मशहूर कोरियोग्राफर सरोज खान भी अभिषेक को डांस करता देख हैरान रह गई थीं। बूगी-वूगी से लेकर इंडियाज गॉट टैलेंट तक वो अपने हुनर का लोहा मनवा चुका है।
अभिषेक ने बताया कि जब वो चार साल का था, तब एक्सीडेंट में उसका बायां हाथ चला गया। डांस से उसे बचपन से ही काफी लगाव था। इसलिए अपने एक हाथ को उसने कमजोरी की जगह ताकत बना लिया। हाईस्कूल में एक कार्यक्रम के दौरान जब उसने डांस किया तो लोगों से काफी अच्छा रिस्पांस मिला। तब पहली बार उसे लगा कि वो अपने डांसर बनने का सपना पूरा कर सकता है, लेकिन कहते हैं कि मुश्किल चीजों की राह आसान नहीं होती। अभिषेक के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ। ख्वाब तो देख लिया, लेकिन शहर के कई डांस इंस्टीट्यूटों ने एक हाथ नहीं होने की वजह से एडमिशन देने से इनकार कर दिया।
हाथ नहीं, तो एडमिशन नहीं
अभिषेक को भी जब कहीं एडमिशन नहीं मिला, तो उसने घर पर ही डांस सीखने की ठान ली। इसके लिए उसने माइकल जैक्सन को अपना गुरु बनाया। इसके पीछे की कहानी भी बड़ी दिलचस्प है। अभिषेक के मुताबिक, माइकल जैक्सन के एक हाथ में हमेशा माइक रहता था और दूसरे हाथ से वो मूवमेंट करते थे। मतलब डांस करने वक्त सिर्फ उनका एक हाथ ही चलता था। बस यही देखकर उसने भी प्रैक्टिस करना शुरू कर दिया।
आगे की स्लाइड्स में पढ़िए, कैसे शुरू हुआ डांस का सफर...
कोरियोग्राफर टैरेंस के साथ अभिषेक। कोरियोग्राफर टैरेंस के साथ अभिषेक।
अभिषेक ने बताया कि पहला डांस कॉम्पीटिशन उन्होंने गांधी भवन में जीता था। इसके बाद जो सिलसिला शुरू हुआ, वो आज तक जारी है। पहली बार उन्हें डांस के सुपरहिट शो बूगी-वूगी ने सेलेक्ट किया था। ऑडिशन देने के दो साल बाद उन्हें स्पेशल कॉल करके बुलाया गया, क्योंकि आयोजक माइकल जैक्सन को समर्पित करते हुए एक एपिसोड तैयार कर रहे थे। अभिषेक ने ऑडिशन में माइकल जैक्सन का ही डांस परफॉर्म किया था।
 
श्यामक डावर ने सिखाया फ्री में डांस
अभिषेक के मुताबिक, इसके बाद कोरियोग्राफर श्यामक डावर के डांस शो में उन्हें अपना टैलेंट दिखाने का मौका मिला। श्यामक उनके डांस से खासा प्रभावित हुए। उन्हें अपनी एकेडमी में बिना फीस के डांस सीखने का मौका दिया। इसके बाद इंडियाज गॉट टैलेंट के सीजन-3 में अभिषेक ने श्रीकांत आहिरे के बप्पा एक्सेल डांस ग्रुप के साथ परफॉर्म किया। इस पूरे सफर में उसने काफी कुछ सीखा और कुछ पाने की चाहत में जिंदगी के संघर्ष को समझा।
 
गरीब बच्चों के लिए डांस एकेडमी
 
अभिषेक फिलहाल ग्रेजुएशन कर रहे हैं। उन्होंने शहर के ही इंदिरा नगर में एक डांस एकेडमी खोली है, ताकि जो गरीब बच्चे डांसर बनना चाहते हैं वो अपना सपना पूरा कर सकें। इस एकेडमी का उद्घाटन फिल्म एबीसीडी के कोरियोग्राफर सुमित पेंडम ने किया था। अभिषेक के मुताबिक, वो यहां की प्रतिभाओं को इस एकेडमी के जरिए एक मंच देना चाहते हैं, जहां वो खुद को बेहतरीन डांसर बना सकें और खुद के ख्वाबों में जीत का रंग भर सकें।
 
आगे की स्लाइड्स में देखिए, हुनर के सरताज की कुछ और तस्वीरें... 
शो में एक हाथ से डांस करते अभिषेक। शो में एक हाथ से डांस करते अभिषेक।
कोरियोग्राफर सरोज खान से ट्रॉफी लेते अभिषेक। कोरियोग्राफर सरोज खान से ट्रॉफी लेते अभिषेक।
कोरियोग्राफर सरोज खान से मिलते अभिषेक। कोरियोग्राफर सरोज खान से मिलते अभिषेक।
प्रतियोगिता जीतने के बाद ट्रॉफी उठाए हुए अभिषेक। प्रतियोगिता जीतने के बाद ट्रॉफी उठाए हुए अभिषेक।
एक्टर प्रवेश राणा के साथ पोज देते अभिषेक। एक्टर प्रवेश राणा के साथ पोज देते अभिषेक।
बूगी-वूगी डांस शो में मिला सर्टिफिकेट। बूगी-वूगी डांस शो में मिला सर्टिफिकेट।