--Advertisement--

विदेशों में घूमकर स्टूडेंट्स को आया आइडिया: ई-मशीन में डालो कचरा-बदले में मिलेगा डिस्‍काउंट बाउचर

लखनऊ के ऋषभ और दिल्‍ली के प्रतीक और निमिष ने विदेशों से आइडिया लेकर रिवर्स वेंडिंग मशीन तैयार की है।

Dainik Bhaskar

Dec 04, 2016, 11:27 AM IST
प्रतीक मित्‍तल, निम‍िष गुप्‍ता, ऋषभ अग्रवाल (बाएं से दाएं)। प्रतीक मित्‍तल, निम‍िष गुप्‍ता, ऋषभ अग्रवाल (बाएं से दाएं)।
लखनऊ. तीन दोस्तों का सपना था कि वह देश को न सिर्फ साफ-सुथरा बनाएं, बल्कि लोगों को एक ऐसी टेक्नोलॉजी दें जिससे स्वच्छता के प्रति लोग जागरूक हों। विदेश में पढ़ाई कर लौटे ये 3 स्‍टूडेंट वहां से एक टेक्नोलॉजी लेकर आए और अपने सपने को सच कर इतिहास रचने का ख्वाब देखा। आज dainikbhaskar.com आपको बताने जा रहा है कि कैसे इन 3 दोस्तों ने अपने सपने को साकार किया...
आगे की स्‍लाइड्स में पढ़‍िए, कैसे मिला आइडिया और वो 5 स्‍टेप्‍स जिन्‍हें मशीन को यूज करने के दौरान फॉलो करना होगा...
स्‍टेप 1- स्‍क्रीन पर टच करने के बाद इस तरह का ऑप्‍शन आएगा। इसमें Press here to insert bottle को प्रेस करना होगा। स्‍टेप 1- स्‍क्रीन पर टच करने के बाद इस तरह का ऑप्‍शन आएगा। इसमें Press here to insert bottle को प्रेस करना होगा।
स्टडी के दौरान मिला आइडिया
- लखनऊ में रहने वाले ऋषभ ने बताया, 'मैं आईएसबी हैदराबाद में पढ़ाई के लिए गया। वहां मेरी दोस्ती दिल्ली में रहने वाले प्रतीक और निमिष से हुई।' 
- 'हम तीनों को एक्सचेंज प्रोग्राम के तहत यूएस जाकर पढ़ाई करने का मौका मिला। वहां हम एक दिन पेट्रोल पंप के सामने से गुजर रहे थे, तभी एक मशीन देखी।'
- 'हमने उस मशीन में कुछ लोगों को न्यूजपेपर और खाली प्लास्टिक की बोतल डालते देखा।'
- 'हमें उत्सुकता हुई और हम तीनों ने मशीन को चलाकर देखा तो पता चला कि मशीन में खाली प्लास्टिक बोतल और केन डालने से गिफ्ट जैसे डिस्काउंट कूपन, वाईफाई, मोबाइल रिचार्ज और ई-मनी मिलता है।'
 
आगे की स्‍लाइड्स में पढ़‍िए, भारत में रिवर्स वेंडिंग मशीन लगाने की ठानी...
 
स्‍टेप 2- Insert bottle के ऑप्‍शन के सिलेक्‍ट करने के बाद बोतल डालने का स्‍पेस खुल जाएगा। स्‍टेप 2- Insert bottle के ऑप्‍शन के सिलेक्‍ट करने के बाद बोतल डालने का स्‍पेस खुल जाएगा।
भारत में रिवर्स वेंडिंग मशीन लगाने की ठानी... 
- ऋषभ ने आगे बताया 'उस मशीन (रिवर्स वेंडिंग मशीन- RVM) को देखने के बाद हम तीनों ने डिसाइड किया कि क्यों न इसे इंडिया में लगाया जाए।'
- 'हमने इस पर काम शुरू कर दिया। पता चला कि भारत सरकार भी स्वच्छ भारत मिशन पर कैम्‍पेन चला रही है।'
- 'हम उत्साहित हो गए और हमने ठान लिया कि इसको देश के हर शहर में बस और रेलवे स्टेशन पर लगाएंगे।'

आगे की स्‍लाइड्स में पढ़‍िए, विदेशों में लगी है ऐसी मशीन... 
 
स्‍टेप 3- स्‍पेस में बोतल को डालना या केन को डालना होगा। स्‍टेप 3- स्‍पेस में बोतल को डालना या केन को डालना होगा।
विदेशों में लगी है ऐसी मशीन
- ऋषभ ने बताया, 'पढ़ाई के दौरान हम यूएस, चाइना, जापान समेत कई देशों में गए, जहां रिवर्स वेंडिंग मशीन लगी देखी।'
- 'वहां की सड़कों पर लगी इस मशीन में लोग का मतलब पानी की बोतल और दूसरे बेकार सामानों को डालते हैं, जिसके बाद उन्‍हें स्पेशल रिचार्ज कूपन और गिफ्ट मिलता है।'
- 'इससे न सिर्फ शहर को पॉल्‍यूशन फ्री किया जाता है, बल्कि स्वच्छता के प्रति लोग जागरूक होते हैं।'
 
आगे की स्‍लाइड्स में पढ़‍िए, क्या-क्या डाल सकते हैं इस मशीन में? 
स्‍टेप 4- यहां आपके पास ऑप्‍शन आएगा। या तो आप डोनेशन को सिलेक्‍ट करें या वाउचर के ऑप्‍शन को सिलेक्‍ट करें। स्‍टेप 4- यहां आपके पास ऑप्‍शन आएगा। या तो आप डोनेशन को सिलेक्‍ट करें या वाउचर के ऑप्‍शन को सिलेक्‍ट करें।
 क्या-क्या डाल सकते हैं इस मशीन में?
- ऋषभ के मुताबिक, 'अभी हमने मशीन में प्लास्टिक की बोतल और खाली एल्मुनियम के केन्स डालने का सिस्टम बनाया है।'
- 'फ्यूचर में हम इसके सॉफ्टवेयर में कांच की बोतलें, कागज और पुराने कपड़े को भी अपडेट करेंगे।'
 
आगे की स्‍लाइड्स में पढ़‍िए, क्या है इस मशीन का फ्यूचर प्लान?
स्‍टेप 5- वाउचर का ऑप्‍शन सिलेक्‍ट करने के बाद इस तरह की स्लिप निकलकर आएगी। स्‍टेप 5- वाउचर का ऑप्‍शन सिलेक्‍ट करने के बाद इस तरह की स्लिप निकलकर आएगी।
क्या है इस मशीन का फ्यूचर प्लान?
- 'अभी हमने मशीन में कूपन सिस्टम शुरू किया है। फ्यूचर में हम इसमें मोबाइल रिचार्ज, फ्री वाई-फाई जैसी फैसिलिटीज भी जोड़ेंगे।'
- 'हम चाहते हैं कि भारत के हर शहर में इसे लगाया जाए और लोगों में स्वच्छता के लिए जागरुकता आए।'
- 'साथ ही वाई-फाई के साथ अपने-अपने देश को डिजिटल और कैशलेस बनाया जाए।'
 
आगे की स्‍लाइड्स में पढ़‍िए, मशीन को लगाने में कितना आया बजट...?
recharge vending machine for garbage in uttar pradesh
मशीन को लगाने में कितना आया बजट...?
- 'प्रोजेक्ट को तीनों दोस्तों ने तैयार किया है। शुरुआती दौर में अपनी पॉकेट मनी से मशीन स्टाल करना शुरू किया। मशीन के कई पार्ट्स बाहर से मंगवाए।'
- 'एक मशीन की कीमत करीब 15 से 20 लाख रुपए है। बजट ज्यादा होने के चलते इन लोगों ने अब तक लखनऊ के सहारागंज और दिल्ली की एक जगह पर मशीन लगाई है।'
- 'सरकार और प्राइवेट संस्था से मदद मिलने पर आगे और भी मशीन लगाने का प्लान है।'
 
आगे की स्‍लाइड्स में पढ़‍िए, कूड़े के बदले पाएं गिफ्ट और डिस्काउंट वाउचर... 
recharge vending machine for garbage in uttar pradesh
कूड़े के बदले पाएं गिफ्ट और डिस्काउंट वाउचर... 
- 'यूपी में पहली बार लखनऊ में ये मशीन लगी है। शुरुआती दौर में स्टालेशन के दौरान मशीन में प्लास्टिक की बोतल और एल्मुनियम की बोतल डाल सकते हैं।'
- 'सहारा मॉल में कुछ शॉप और रेस्टोरेंट से ऋषभ और उनकी टीम ने टाइ-अप किया है।'
- 'मशीन में प्लास्टिक की बोतल और एल्मुनियम की केन डालने पर एक स्लिप निकलेगी, जिसमें 5 रुपए तक डिस्काउंट बाउचर के रुप में कैश किया जा सकता है।'
X
प्रतीक मित्‍तल, निम‍िष गुप्‍ता, ऋषभ अग्रवाल (बाएं से दाएं)।प्रतीक मित्‍तल, निम‍िष गुप्‍ता, ऋषभ अग्रवाल (बाएं से दाएं)।
स्‍टेप 1- स्‍क्रीन पर टच करने के बाद इस तरह का ऑप्‍शन आएगा। इसमें Press here to insert bottle को प्रेस करना होगा।स्‍टेप 1- स्‍क्रीन पर टच करने के बाद इस तरह का ऑप्‍शन आएगा। इसमें Press here to insert bottle को प्रेस करना होगा।
स्‍टेप 2- Insert bottle के ऑप्‍शन के सिलेक्‍ट करने के बाद बोतल डालने का स्‍पेस खुल जाएगा।स्‍टेप 2- Insert bottle के ऑप्‍शन के सिलेक्‍ट करने के बाद बोतल डालने का स्‍पेस खुल जाएगा।
स्‍टेप 3- स्‍पेस में बोतल को डालना या केन को डालना होगा।स्‍टेप 3- स्‍पेस में बोतल को डालना या केन को डालना होगा।
स्‍टेप 4- यहां आपके पास ऑप्‍शन आएगा। या तो आप डोनेशन को सिलेक्‍ट करें या वाउचर के ऑप्‍शन को सिलेक्‍ट करें।स्‍टेप 4- यहां आपके पास ऑप्‍शन आएगा। या तो आप डोनेशन को सिलेक्‍ट करें या वाउचर के ऑप्‍शन को सिलेक्‍ट करें।
स्‍टेप 5- वाउचर का ऑप्‍शन सिलेक्‍ट करने के बाद इस तरह की स्लिप निकलकर आएगी।स्‍टेप 5- वाउचर का ऑप्‍शन सिलेक्‍ट करने के बाद इस तरह की स्लिप निकलकर आएगी।
recharge vending machine for garbage in uttar pradesh
recharge vending machine for garbage in uttar pradesh
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..