न्यूज़

--Advertisement--

MLC चुनाव के लि‍ए आज होगी वोटिंग, देर रात तक आएगा रि‍जल्‍ट

वोटिंग सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक होगी। इसके बाद काउंटिंग शुरू हो जाएगी। इसके रि‍जल्‍ट शुक्रवार देर रात तक आएंगे।

Dainik Bhaskar

Jun 10, 2016, 07:51 AM IST
uttar pradesh mlc election voting
लखनऊ. एमएलसी की 13 सीटों के लिए विधानसभा के तिलक हॉल में शुक्रवार को वोटिंग हुई। देर शाम हुई काउंटिंग में सपा के 8, बीएसपी के 3, कांग्रेस और बीजेपी के 1-1 प्रत्‍याशी को जीत मिली है जबकि बीजेपी के दयाशंकर को हार का सामना करना पड़ा। बता दें, पहली बार में इसमें नोटा का प्रयोग हुआ। सपा, बसपा और कांग्रेस के कई वि‍धायकों पर क्रॉस वोटि‍ंग का आरोप लगा। इसे यूपी के इति‍हास में सबसे बड़ी क्रॉस वोटिंग बताया जा रहा है। जानें किस पार्टी से कौन जीता...


सपा से: यशवंत सिंह, रणविजय सिंह, बलराम यादव, बुक्‍कल नवाब, रामसुंदर निषाद, कमलेश पाठक, जगजीवन प्रसाद, सत्‍यरुद्र प्रकाश।

बसपा से: सुरेश कुमार कश्‍यप, दिनेश चंद्रा, अतर सिंह।

बीजेपी से: भुपेंद्र सिंह।

कांग्रेस से: दीपक सिंह।
पहले राउंड में ही जीते इस पार्टी के कैंडिडेट
पहले ही राउंड में बीएसपी के तीन, बीजेपी का एक और समाजवादी के तीन कैंडिडेट जीते। प्रमुख सचिव विधानसभा प्रदीप दुबे ने बताया कि 29 या उससे ज्यादा वोट जिस कैंडिडेट को मिले वह पहले राउंड में जीता है।

किसको कितना मिला वोट
सपा के कमलेश पाठक को 30.71, बुक्कल नवाब को 29, यशवंत सिंह को 30, रणविजय को 31.33 और शतरुद्ध को 29, रामसुंदर निषाद को 30, जगजीवन को 31 और बलराम यादव को 33 वोट मिले हैं।

बीजेपी के भूपेंद्र हुए विजयी

बीजेपी के भूपेन्द्र सिंह को जहांं 31 वोट मिले हैं वहींं, दयाशंकर सिंह को सिर्फ 23 वोट मिले हैं। इससे पहले भी दयाशंकर सिंह एमएलसी चुनाव हार चुके हैं।

कांग्रेस से दीपक जीते
कांग्रेस के कैंडिडेट दीपक सिंह ने 26 वोट पाकर भाजपा के दयाशंकर सिंह को पटकनी दी है। हालांकि दीपक और दयाशंकर में 12वें राउंड तक लड़ाई चलती रही।

बसपा के तीनों कैंडिडेट जीते
बसपा के दिनेश चन्द्र को 30, अतर सिंह को 31 और सुरेश कश्यप 29 वोट मिले हैं।

क्रॉस वोटिंग की रही चर्चा
एमएलसी चुनाव में दिनभर क्रॉस वोटिंग की चर्चा जोरों पर रही। जहां, सपा के बागी रामपाल यादव ने खुलेआम क्रॉस वोटिंग की, वहींं सपा के ही गुड्डू पंडित और महेश शर्मा भी बगावत करने वालों में शामिल रहे। वहींं, इससे बसपा भी नहीं अछूती रही। चर्चा रही कि बसपा के भी विधायक टूटे हैं। हालांंकि, बसपा के राजेश त्रिपाठी ने चुनाव से एक दिन पहले ही बगावत कर दी थी। जबकि, रालोद के विधायकों ने डिनर तो सपा का किया था, लेकिन टूट कर बसपा में भी पहुंचे थे।

तीन वोट अवैध मिले
यूपी विधानसभा में कुल 404 विधायक हैं, जिसमे से 403 चुनकर आए हैं और एक नामित विधायक हैं। इनमें से सपा के वकार अहमद शाह बीमार हैं, जबकि कांग्रेस के कौशल किशोर मुंबई में इलाज करा रहे हैं। इसके अलावा तीन वोट अवैध पाए गए हैं। इस तरह से 404 विधायकों में से 5 वोट नहीं पड़े। अब कुल वोट 399 बचे। इस तरह एक एमएलसी की जीत के लिए 28.51 वोट का कोटा आया, जिसमें सिर्फ भाजपा के दयाशंकर सिंह को कोटे के वोट नहीं मिलें हैं। बाकि प्रत्याशियों ने कोटे के वोट पाकर जीत हासिल की है।

कि‍स पर लगा क्रॉस वोटिंग का आरोप...
- चर्चा है कि‍ बुलंदशहर से सपा वि‍धायक गुड्डू पंडित और मुकेश शर्मा ने क्रॉस वोटिंग की है।
- यह दोनों बीजेपी विधायक संगीत सोम के साथ वोट करने जाते दिखे।
- कादीपुर से सपा वि‍धायक रामप्रसाद चौधरी पर भी क्रॉस वोटिंंग का आरोप लगा है।
रामपाल यादव ने क्रॉस वोटिंग की। उन्‍होंने कहा कि‍ सपा के एक दर्जन से ज्यादा विधायकों ने क्रॉस वोटिंग की है।
- गुड्डू पंडि‍त ने मीडि‍या से कहा है कि‍ मेरे सि‍र पर कोई गन रखेगा तो क्या मैं डर जाऊंगा। कोई मेरे ऊपर दबाव डालेगा तो मैं खामोश नहीं बैठूंगा।
- उन्‍होंने कहा कि‍ जो कि‍या अपनी बुद्धि‍ से काम कि‍या है।
- सपा के रामपाल यादव ने पार्टी से खुली बगावत का एलान कर रखा है।
- लखनऊ मध्य से विधायक रविदास मेहरोत्रा, सरोजनी नगर से विधायक शारदा प्रताप शुक्ल के बारे में भी क्रॉस वोटिंग करने की चर्चा है।
- बताया जा रहा है कि‍ दोनों का आगामी चुनाव में टिकट कट रहा है। यही वजह है की दोनों क्रॉस वोटिंग कर रहे हैं।
- बीएसपी के चार और कांग्रेस के तीन वि‍धायकों पर भी क्रॉस वोटिंग के आरोप लगे हैं। हालांकि‍ अभी आधि‍कारि‍क पुष्‍टि‍ नहीं हुई है।
पीस पार्टी के अध्‍यक्ष ने लगाया क्रॉस वोटि‍ंंग का आरोप
- पीस पार्टी के अध्‍यक्ष अय्यूब ने क्रॉस वोटिंंग कि‍ए जाने का आरोप लगाया है।
- सपा नेता गुड्डू पंडि‍त और मुकेश शर्मा पर बीजेपी को वोट देने का आरोप लगा है।
- अय्यूब का कहना है कि‍ इस चुनाव में जमकर क्रॉस वोटिंंग चल रही है।
- उन्‍होंने कांग्रेस कैंडि‍डेट कपि‍ल सि‍ब्‍बल को समर्थन देने की घोषणा की।
- उन्‍होंने कहा कि‍ बीजेपी और सपा दोनों सांप्रदायि‍क पार्टि‍यां हैं।
- इसलि‍ए पीस पार्टी कांग्रेस को समर्थन कर रही है।
भड़के सपा नेता
- सपा नेता शि‍वपाल यादव ने कहा है कि‍ सपा के सारे कैडि‍डेट जीतेंगे।
- उन्‍होंने कहा है कि‍ क्रॉस वोटिंग करने वाले वि‍धायकों की पार्टी से मेंबरशि‍प छि‍न जाएगी।
- मथुरा कांड पर उन्‍होंने कहा कि‍ जांच हो रहा है। सच सामने आ जाएगा।
- सपा नेता धर्मेंद यादव और अभि‍षेक मि‍श्रा ने क्रॉस वोटिंग की खबरों को गलत बताया है।
- उन्‍होंने कहा है कि‍ उनके वि‍धायकों ने केवल सपा कैंडि‍डेट्स के पक्ष में ही वोट दि‍या है।
- उन्‍होंने कहा है कि‍ उनके सभी उम्‍मीदवार जीतेंगे।
- सपा वि‍धायक मनोज पांडेय ने दावा किया है की सपा की सेफ सीट 7 हैं, लेकिन पार्टी का 8वां कैंडि‍डेट भी जीतेगा।
- सपा नेता राजा भैया ने कहा है कि‍ सपा के सभी कैंडि‍डेट जीतेंगे।
- सपा नेता आजम खान ने वोट डालने के बाद कहा- जिसको भी क्रॉस वोटिंग करनी थी, वह पहले इस्तीफा देता तब वोट करता। सपा के सभी कैंडिडेट जीतेंगे।
- बताते चलें कि‍ रालोद ने भी सपा के समर्थन का एलान किया था।
वि‍धायकों की खरीद-फरोख्‍त का बीजेपी पर आरोप
- सैयद राजा वि‍धानसभा गाजीपुर के कांग्रेस वि‍धायक मनोज सिंह डब्‍लू ने बीजेपी पर वि‍धायकों के खरीद-फरोख्‍त का आरोप लगाया है।
- पार्टी नेता प्रदीप माथुर ने कहा कि‍ 4 वोट हमें सपा के सपोर्ट से रालोद के मिले हैं। हमारे 28 विधायकों ने वोट दिया है। एक विधायक स्वास्थ्य कारणों से नहीं आए हैं।
- आरएलडी विधायक सुदेश शर्मा का वोट रद्द हो सकता है। एक पक्ष को दिखाकर वोट करने और इससे पहले बीजेपी विधायक सुरेश राणा के साथ गुप्त मीटिंग करने का उनपर आरोप है।
कि‍तने सीटोंं के लि‍ए हुई वोटि‍ंंग
- वि‍धान परि‍षद के 13 सीटों के लि‍ए 404 वि‍धायकों ने वोट डाला।
- इसके लि‍ए कुल 14 कैंडि‍डेट मैदान में थे।
- वोटिंग सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक हुई।
ये हैं सपा एमएलसी कैंडिडेट
- एमएलसी कैंडिडेट में सत्यरुद्र प्रकाश, यशवंत सिंह, बलराम यादव, बुक्कल नवाब, रामसुंदर निषाद, रणविजय सिंह, कमलेश पाठक, जगजीवन प्रसाद शामिल हैं।
ये हैं बीजेपी एमएलसी कैंडिडेट
- एमएलसी के लिए भाजपा ने दो प्रत्याशी पश्चिम क्षेत्र के अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह और प्रदेश मंत्री दयाशंकर सिंह को मैदान में उतारा है। बताते चलें कि दयाशंकर इससे पहले भी चुनाव हार चुके हैं।
ये हैं कांग्रेस के कैंडिडेट
- कांग्रेस ने एक एमएलसी प्रत्याशी उतारा है। अमेठी के दीपक सिंह कांग्रेस से मैदान में हैं।
बसपा से ये हैं कैंडिडेट
- बसपा से दिनेश चंद्र, अतर सिंह राव और सुरेश कश्यप मैदान में हैं।
इन 13 एमएलसी का कार्यकाल हो रहा खत्म
सपा: बलराम यादव, यशवंत सिंह, बुक्‍कल नवाब, रामसुंदर।
बीएसपी: मो. अतहर खान, ऋषि‍पाल, रामकुमार, लालचंद नि‍षाद, वीरेन्‍द्र कुमार, सतीश चंद्रा, सुबोध कुमार।
बीजेपी: हृदय नारायण दीक्षि‍त।
कांग्रेस: नसीब पठान।
जानि‍ए क्या है गणित
-एमएलसी की एक सीट के लि‍ए एक प्रत्‍याशी को 29 वि‍धायकों का समर्थन चाहिए था।
-वि‍धानसभा में पार्टी के सदस्‍यों पर नजर डालें तो समाजवादी पार्टी के पास कुल 229, बीएसपी के पास 80, बीजेपी के पास 41, कांग्रेस के पास 29 वि‍धायक हैं।
सपा की सेफ सीट
- विधानसभा में सपा के 229 विधायक हैं। ऐसे में उसके पास एमएलसी के लिए सेफ सीट 7 हैं, लेकिन सपा ने 8 कैंडिडेट उतारे।
बसपा की सेफ सीट
- बसपा के पास 80 सीट है और एमएलसी कैंडिडेट तीन हैं। ऐसे में उसे 7 वोट और चाहिए थी। इस बीच बसपा विधायक राजेश त्रि‍पाठी ने पार्टी छोड़ने की घोषणा भी कर दी।
बीजेपी की सेफ सीट
- बीजेपी के लिए एक सेफ सीट है, लेकिन 2 प्रत्याशी उतारे हैं। हालांकि बीजेपी को सपा और बसपा के बागियों के साथ- साथ अपना दल, एनसीपी और निर्दलीय से समर्थन की उम्मीद थी।
कांग्रेस की सेफ सीट
- कांग्रेस के पास एक ही सेफ सीट हैं क्योंकि वि‍धायक भी 29 ही हैं।
आगे की स्‍लाइड्स में देखि‍ए वोटिंंग के बाद के माहौल की फोटो...
X
uttar pradesh mlc election voting
Click to listen..