फूट-फूटकर रोया जवान, बोला- 'बॉर्डर पर कभी नहीं रोया, लेकिन सिस्टम ने रुलाया'

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

मेरठ. यहां एसडीएम ऑफिस के बाहर बुधवार को एक बीएसएफ जवान फूट-फूटकर रोने लगा। जब उसने रोते हुए ये कहा कि "मैं बॉर्डर पर कभी नहीं रोया, लेकिन सिस्टम ने मुझे रुला दिया" तो वहां मौजूद लोगों की आंखें भी नम हो गईं। बताया जा रहा है कि भूमाफियों और दबंगों ने इस जवान की जमीन कब्जा कर ली है, जिसके बाद से ये इंसाफ के लिए दर-दर भटक रहा है। कारगिल युद्ध में मिला था मेडल...

 

बता दें कि कारगिल युद्ध के लिए मेडल हासिल कर चुके बीएसएफ में नायब सूबेदार जगबीर सिंह इंचौली के जलालपुर गांव में रहते हैं। इस समय वो गुजरात में पाकिस्तान के बॉर्डर पर तैनात हैं। उन्होंने बताया कि उनकी पत्नी सीमा सिंह के नाम खसरा नंबर 485 की जमीन है, लेकिन इस पर दबंगों ने कब्जा कर लिया है।

 

बैंक से लोन लेकर खरीदी जमीन

 

जगबीर ने बताया कि उन्होंने विजया बैंक से 10 लाख रुपए का लोन लेकर 7 लाख में जमीन खरीदी और बाकी के पैसे से मकान बनवा रहे थे। लेकिन, जब वो ड्यूटी पर गए हुए थे तो पता चला कि उनकी जमीन पर कब्जा हो गया है।

 

पुलिस ने भगाया

 

इसके बाद जब जगबीर शिकायत करने थाने पहुंचे तो पुलिस ने उन्हें भगा दिया। इसके बाद उन्होंने कमिश्नर से शिकायत की तो उन्होंने एसडीएम सरधना को कार्रवाई के लिए पत्र लिख दिया।

 

आगे की स्लाइड में जानें जब पुलिस से मदद मांगने गया ये जवान तो क्या हुआ...

खबरें और भी हैं...