ईद की नमाज के बाद भीड़ ने किया पथराव, थाने को फूंकने का प्रयास

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मेरठ. ज‍िले में ईद की नमाज के बाद कुछ लोगों ने थाने में पर हमला बोल दिया। भीड़ ने पुल‍िस पर पथराव कर थाने में तोड़फोड़ की और आगजनी का प्रयास किया। हमला होते देख पुलिसकर्म‍ियों के होश उड़ गए। इस दौरान फायरिंग भी की गई। बाद में पुलिस ने बल प्रयोग कर हंगामा कर रहे लोगों को खदेड़ा। आगे पढ़‍िए बड़ी संख्या में पहुंची महिलाओं ने किया हंगामा...
 
 

- बता दें, परीक्षितगढ़ कस्बे के ढाक पीर खजूरी मोहल्ले के बिल्लू अब्बासी के बेटे अमिताभ अब्बासी की हत्या कर दी गई थी। उसका शव इकला गांव के जंगल में पड़ा मिला था।
- परिजनों ने इस मामले में कस्बे के ही वसीम और नदीम को नामजद करते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई थी। वसीम के परिजन नामजदगी को गलत बता रहे थे। उनका कहना था कि ये दोनों निर्दोष हैं। उन्हें रिहा कराए जाने की मांग को लेकर ईद की नमाज के बाद लोग थाने पर पहुंच गए।
- कुछ देर बाद बड़ी संख्या में वहां महिलाएं भी पहुंच गई और नामजद रिपोर्ट को गलत बताते हुए गिरफ्तार वसीम की रिइाई की मांग करने लगे।
- इस दौरान एसओ परीक्षितगढ़ विनोद कुमार ने कहा कि पुलिस तथ्यों के आधार पर कार्रवाई कर रही है।
- वहीं, एसपी देहात राजेश कुमार ने भी हंगामा कर रहे लोगों से कहा कि यदि उन्हें कोई शिकायत है तो वह अपनी लिखित तहरीर दें। पुलिस निष्पक्ष जांच कर कार्रवाई करेगी।
 
 
थाने में तोड़फोड़ से मचा हड़कंप
- इसी दौरान थाने में मौजूद भीड़ ने थाने का फर्नीचर उठाकर फेंकना शुरू कर दिया। पुलिस ने रोकने का प्रयास किया तो भीड़ ने पथराव शुरू कर दिया।
- पथराव होते देख पुलिस के होश उड़ गए, तुरंत मैसेज कर आसपास के थानों की पुलिस फोर्स मौके पर बुला ली गई।
- भीड़ ने इस दौरान थाने में आगजनी का प्रयास किया। पुलिस ने बल प्रयोग किया तो भीड़ ने फायरिंग कर दी। जवाब में पुलिस ने भी कड़ी कार्रवाई करते हुए लाठीचार्ज कर उन्हें खदेड़ दिया।
- इस मामले में पुलिस ने आधा दर्जन से अधिक लोगों को अपनी हिरासत में ले लिया है। फिलहाल पुलिस पथराव करने वालों को पकड़ने का प्रयास कर रही है।
- एसओ विनोद कुमार का कहना है कि पथराव और तोड़फोड़ करने वालों को किसी भी कीमत पर छोड़ा नहीं जाएगा। फिलहाल इलाके में तनाव को देखते हुए बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात किया गया है।
 
 
शनिवार को मिला था शव
- बता दें, अमिताभ अब्बासी का शव बीते शनिवार को इकला गांव के जंगल में नग्न अवस्था में पड़ा मिला था।
- परिजनों के अनुसार, अमिताभ शुक्रवार शाम से गायब था, उसकी काफी तलाश की गई थी, लेकिन रात में उसका कुछ पता नहीं चला था।
- शनिवार सुबह ग्रामीणों ने इकला गांव के जंगल में एक शव पड़ा होने की सूचना दी थी। मौके पर जाकर जब शव की शिनाख्त की गई तो वह अमिताभ का निकला।
- हत्यारों ने उसकी हत्या धारदार हथियार से की थी, उसके एक हाथ की तीन अंगुलियां भी काट दी गई थी।
 
 
आगे की स्लाइड्स में देख‍िए 12 अन्य फोटोज...
खबरें और भी हैं...