हैट्रिक के साथ वर्ल्ड चैंपियन बने वेटल / हैट्रिक के साथ वर्ल्ड चैंपियन बने वेटल

जर्मनी के सेबेस्टियन वेटल ने रविवार को रफ्तार का जादू दिखाते हुए फॉर्मूला वन में नया इतिहास रच दिया।

Oct 28, 2013, 02:42 PM IST
नोएडा. जर्मनी के सेबेस्टियन वेटल ने रविवार को रफ्तार का जादू दिखाते हुए फॉर्मूला वन में नया इतिहास रच दिया। रेड बुल के इस रेसर ने लगातार तीसरी बार इंडियन ग्रांप्री जीत ली। इसके साथ ही वे लगातार चौथे साल वल्र्ड चैंपियन बन गए हैं। वे यह कारनामा करने वाले तीसरे लेकिन सबसे कम उम्र के रेसर हैं।
26 साल के वेटल ने रविवार को पिछडऩे के बावजूद रेस जीती। एक समय वे 17वें स्थान पर चल रहे थे। लेकिन इसके बाद उन्होंने शानदार वापसी करते हुए सबसे पहले रेस पूरी की। महज 1 घंटा 31 मिनट 12.187 सेकंड में। यह उनकी इस साल लगातार छठी और कुल १०वीं जीत है। मर्सिडीज के रोसबर्ग दूसरे और लोटस के ग्रासजेन तीसरे स्थान पर रहे। रेस के रोमांच का मजा लगभग पचास हजार लोगों ने लिया।
पोल पोजीशन से रेस शुरू करने वाले वेटल दूसरे ही लैप में पिछड़ गए। उनकी ही टीम के मार्क वेबर ने उन्हें पीछे छोड़ दिया था। 10वें लैप में वेटल छठे स्थान तक खिसक गए थे। लेकिन अंत में उन्होंने बाजी मार ली। इस साल कुल 19 रेस होनी है। इसमें 16 हो चुकी हैं। वेटल के कुल 322 अंक हो चुके हैं। वे ड्राइवर्स चैंपियनशिप भी जीत गए। उनके पीछे चल रहे अलोंसो के महज 207 अंक ही है।
शूमाकर भी जीत चुके लगातार चार खिताब : वेटल से पहले अर्जेंटीना के जुआन मैनुअल फैंजियो (1954-1957) और सात बार के विश्व चैंपियन जर्मनी के ही माइकल शूमाकर (2000-2004) लगातार चार या अधिक विश्व चैंपियनशिप जीतने का कारनामा कर चुके हैं।
सहारा ने बटोरे 6 अंक : एक समय तीसरे स्थान पर चल रहे भारतीय एफवन टीम सहारा फोर्स के ड्राइवर पॉल डी रेस्टा अंत में 8वें स्थान पर रहे। वे टीम को चार अंक ही दिला पाए।
रोचक खबरें:-

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना