विंध्याचल मंदिर से बीस मीटर दूरी पर लगी आग, लाखों का सामान जलकर राख

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
​आग से लगने से जलकर राख होती दुकानें (तस्वीर में)
  • आग लगने से नौ दुकानें और छह बाइक जलकर हुई राख।
  • घटना के करीब डेढ़ घंटे बाद पहुंची फायर ब्रिगेड।
  • आग लगने की खबर लगते ही मंदिर में मच गई अफरा-तफरी।
वाराणसी/मिर्जापुर. मंगलवार सुबह को विंध्याचल मंदिर से बीस मीटर की दूरी पर शॉर्ट सर्किट से आग लग गई। आग इतनी भीषण थी कि नौ दुकानें और छह मोटरसाइकिल भी जलकर राख हो गई। आग लगने की खबर से मंदिर तक में अफरा-तफरी मच गई। घटना की सूचना लगते ही मौके पर फायर ब्रिगेड भी पहुंची और कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका।

सुबह करीब आठ बजे मंदिर से बीस मीटर दूर न्यू वीआईपी मार्ग पर शार्ट सर्किट से आग लग गई। देखते ही देखते आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। इस वजह से दुकानदारों को अपनी दुकान बचाने का मौका ही नहीं मिला। हालांकि, स्थानीय लोगों ने कड़ी मशक्कत से फायर ब्रिगेड आने से पहले कई दुकाने और गाड़ियों को जलने से बचा लिया।

मंगलवार के चलते मंदिर में भी काफी भीड़ थी। एक तरह जहां भक्तों का तांता लगा हुआ था। वहीं, दूसरी तरफ रास्ते में कई दुकानें सजी हुई थीं। इसी वजह से आग ने तुरंत फैलती चली गई। ज्यादातर दुकाने मंदिर में चढ़ाने वाली चुनरी और प्रसाद की थी। साथ ही आग लगने से भक्तों में भी काफी अफरा-तफरी मच गई।

वहीं, आग की चपेट में आने से होटल गायत्री पैलेस बाल-बाल बच गया। फायर प्रूफ होने के चलते होटल से सटी बाकी दुकानें भी आग की चपेट में आने बच गई। करीब डेढ़ घंटे बाद पहुंची फायर ब्रिगेड ने पूरी तरह से आग को काबू में किया। फायर ब्रिगेड अधिकारी वीबी सिंह के मुताबिक नौ दुकानें सहित छह मोटरसाइकिलों के जलने से लाखों का नुकसान हुआ है।
आगे देखिए, घटना से जुड़ी अन्य तस्वीरें...