पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Karwa Chauth Celebration By Handicapt Bride

पत्नी के नहीं हैं दोनों हाथ-पांव, पति की मदद से ऐसे पूरा किया सुहाग का व्रत

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मोहाली(चंडीगढ़). आज शहर में लोगों को एक अलग ही वाक्या देखने को मिला। मामला ऐसा है कि आदर्श नगर निवासी विनोद और लक्ष्मी ने हाल ही में लव मैरिज की थी। लक्ष्मी के बचपन से ही न दोनों हाथ हैं और न दोनों पांव हैं। उसकी मां ने उसकी शादी को लेकर आस छोड़ दी थी, लेकिन भगवान के मंदिर में लक्ष्मी को विनोद के रूप में अपना जीवनसाथी मिल गया। हालां कि विनोद का एक पैर काम नहीं करता, लेकिन आज लक्ष्मी ने विनोद के लिए करवाचौथ का व्रत रखा और उसे पूरा किया। कहा- जीवन साथी उसकी हर जरूरत को पूरा करता है...
 
- नई साड़ी और श्रृंगार के साथ करवाचौथ मनाने के लिए लक्ष्मी तैयार होकर जब मंदिर जाने लगी तो उसने अपने पति विनोद का सहारा लिया। 
- हाथ और पांव न होने पर उसकी देखरेख उनकी मां चंद्रकला ही करती है। 
- मुस्कुराते हुए लक्ष्मी कहती है कि जीवन में चाहे भगवान ने हाथ-पांव न दिए हो लेकिन उसका जीवन साथी उसकी हर जरूरत को पूरा करता है। 
- लकवाग्रस्त पैरों के कारण वैशाखी से चलने वाले विनोद ने कहा कि पिछले दिनों ही मेरी लक्ष्मी से शादी हुई है। 
 
पति ने अपने हाथों मे पकड़ी छन्नी
 
- लक्ष्मी दोनों हाथ न होने के कारण पूजा की थाली और छन्नी नहीं पकड़ सकती थी, इसलिए विनोद ने ही छन्नी और पूजा की थाली हाथ में पकड़ी और उसमें से लक्ष्मी ने उसका चहरा देखा। 
- 24 वर्षीय लक्ष्मी बचपन से हैंडीकैप्ड है और विनोद पोलियो से पीड़ित है। 
- दोनों की मुलाकात एक मंदिर में हुई थी। दोनों ने डेढ़ साल की आपसी प्यार के बाद शादी की।
 
हर सुख-दुख में साथ देने का किया था वादा
 
- विनोद और लक्ष्मी ने कहा कि वो दोनों अभी तक खुद को पूरा महसूस नहीं करते थे, लेकिन जब दोनों एक-दूसरे से मिले और बातचीत शुरू की तो दोनों में प्यार हो गया।
- एक-दूसरे को पाकर वे खुद को पूरा महसूस करने लगे। इसके बाद उन्होंने फैसला किया और शादी करने का मन बनाया।
- उन्होंने हर सुख-दुख में एक-दूसरे का साथ देने का वादा किया।
 
आगे की स्लाइड्स में देखें, दोनों की करवा चौथ की पूजा के फोटोज...

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आपका कोई सपना साकार होने वाला है। इसलिए अपने कार्य पर पूरी तरह ध्यान केंद्रित रखें। कहीं पूंजी निवेश करना फायदेमंद साबित होगा। विद्यार्थियों को प्रतियोगिता संबंधी परीक्षा में उचित परिणाम ह...

और पढ़ें