पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Police Began Twenty Hours To Open Bjp Leader's Car

भाजपा नेता की कार खुलवाने में पुलिस को लगे 20 घंटे

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पंचकूला. पंचकूला से लापता हुए भाजपा नेता विभोर बतरा की इनोवा गाड़ी को खोलने में पुलिस को काफी कठिनाई का सामना करना पड़ा। कोड का इस्तेमाल कर पूरी तरह लॉक की गई बतरा की इनोवा पुलिस को देहरादून हवाई अड्डे से बरामद हुई थी। इसे खोलने में पुलिस और कंपनी को करीब 20 घंटे लग गए। पुलिस को इनोवा में लगे सेंसर और जीपीएस सिस्टम के चलते ज्यादा परेशानी हुई। लॉक खोलने के लिए 20 हजार रुपए खर्च करने पड़े। पुलिस कार को बुधवार को पंचकूला ले आई है।
विभोर बतरा ने कोड लगाकर लॉक की थी गाड़ी: एक पुलिस अफसर ने बताया कि विभोर बतरा ने इंटरनेट के जरिये गाड़ी के सभी डोर्स को कोड द्वारा लॉक कर दिया था। कार को डुप्लीकेट चाबी से नहीं खोला जा सकता था, इसलिए कंपनी से संपर्क किया गया। एफआईआर दिखाने के बाद लॉक खोलने का काम शुरू किया गया। कंपनी ने पहले कहा कि कार का लॉक सिस्टम एक्सपर्ट द्वारा चेंज किया जाएगा, जो बेंगलुरु से आएगा, लेकिन फिर लॉक खोलने की कोशिश की गई तो विंडो टूट गई, लेकिन स्टीयरिंग लॉक था।

गौरतलब है कि 23 सितंबर को विभोर बतरा की मां अरुण बत्रा ने पुलिस के पास विभोर बतरा के लापता होने का मामला दर्ज कराया था। उन्होंने पुलिस को बताया था कि विभोर भाजपा द्वारा टिकटों के वितरण को लेकर तनाव में था। वह दिल्ली गया था, लेकिन वापस नहीं आया। विभोर बतरा यूथ कांग्रेस में सीनियर वाइस प्रेसिडेंट रह चुका है। हाल ही में उसने भाजपा का दामन थाम लिया था।
20 सितंबर को विभोर ने देहरादून से पकड़ी थी फ्लाइट
इस दौरान पुलिस ने बतरा के बारे में कुछ सुराग भी हासिल किए हैं। पुलिस को पता चला है कि 20 सितंबर को बतरा ने देहरादून से दिल्ली और आगे के लिए कनेक्टिंग फ्लाइट ली थी। इस बारे में दिल्ली एयरपोर्ट से डिटेल्स जुटाई जानी है। विभोर बतरा के लापता होने से कई हाईप्रोफाइल लोगों की नींद हराम हो गई है। उस पर लाखों की ठगी का आरोप है। हरियाणा के पूर्व डीजीपी लक्ष्मण दास भी उसके जाल में फंस चुके हैं। उन्होंने बतरा के खिलाफ ठगी का मामला दर्ज कराया है। ऐसे कई कारोबारी भी सामने आए हैं, जिन्होंने बतरा पर इन्वेस्टमेंट के नाम पर ठगी का आरोप लगाया है।