पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • स्वाति मालीवाल को डीसीडब्ल्यू भर्ती के मामले में मिली जमानत

स्वाति मालीवाल को डीसीडब्ल्यू भर्ती के मामले में मिली जमानत

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नई दिल्ली |दिल्ली महिला आयोग की प्रमुख स्वाति मालीवाल को 85 महिलाअों की भर्ती प्रक्रिया में कथित अनियमितताओं के मामले में विशेष अदालत ने साेमवार को जमानत दे दी। मामले में अगली सुनवाई 6 अप्रैल को होगी। विशेष न्यायाधीश हिमानी मल्होत्रा ने कहा कि मालीवाल को पूछताछ के लिए हिरासत में भेजने की जरूरत नहीं है। उन्हें 20,000 रुपए के निजी मुचलके और इतनी ही राशि के जमानती पत्र पर जमानत दी जाती है।

सुनवाई के दौरान कोर्ट ने जांच अधिकारी और अभियोजक पक्ष के वकील अतुल श्रीवास्तव से पूछा कि क्या भ्रष्टाचार निरोधक शाखा (एसीबी) उसके निर्देशों के अनुसार मामले की जांच कर रही है। इस पर उन्होंने कहा कि जांच पूरी होने में थोड़ा समय लगेगा। गौरतलब है कि एसीबी ने आयोग में आप कार्यकर्ताओं की भर्ती में कथित अनियमितताओं के संबंध में मालीवाल के खिलाफ 21 दिसंबर 2016 को आरोप पत्र दायर किया था। इसके बाद 18 जनवरी को अदालत से मालीवाल को समन जारी हुआ था। इसी मामले में साेमवार को वह अदालत में पेश हुई थीं। महिला आयोग की पूर्व प्रमुख बरखा शुक्ला सिंह ने आरोप लगाया था कि महिलाओं के पैनल में कई आप कार्यकर्ताओं को अहम पद दिए गए हैं।

सत्य निराश हो सकता है लेकिन पराजित नहीं

^मुझेन्यायालय पर पूरा विश्वास है। और मैंने कुछ गलत नहीं किया है। मुझे न्याय मिलेगा। जैसे पहले आयोग में नियुक्तियां हुईं थी, हमने भी उसी आधार पर की हैं। पहले भी आयोग में 42 लोग नियुक्त किए गए थे। आयोग में काम अधिक था, इसलिए इमरजेंसी बेस पर तीन महीने के लिए लोगों की नियुक्तियां की गई थीं। -स्वाति मालीवाल, चेयरपर्सन, दिल्ली महिला आयोग।

{मामले में अब अगली सुनवाई 6 अप्रैल को होगी {21 दिसंबर 2016 को दायर हुआ था आरोप पत्र

खबरें और भी हैं...