पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • दिल्ली हाईकोर्ट की टिप्पणी, अदालतों को चुनाव प्रक्रिया में हस्तक्षेप से बचना चाहिए

दिल्ली हाईकोर्ट की टिप्पणी, अदालतों को चुनाव प्रक्रिया में हस्तक्षेप से बचना चाहिए

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नई दिल्ली | दिल्लीहाईकोर्ट ने कहा है कि अदालतों को आम तौर पर चुनाव प्रक्रिया शुरू हो जाने के बाद उसमें हस्तक्षेप करने से बचना चाहिए। अदालत ने कहा है कि भले ही कुछ अवैधता हो या नियमों का उल्लंघन किया गया हो अदालतों को चुनाव के साथ हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए और असंतुष्ट पक्षों के पास चुनाव खत्म होेने के बाद कानून के अनुसार उपचार के लिए आगे बढ़ने का हमेशा विकल्प उपलब्ध है। न्यायमूर्ति हिमा कोहली ने ये टिप्पणी गुरद्वारा चुनाव निदेशालय के 27 जनवरी के आदेश के खिलाफ सोसाइटी आम अकाली दल द्वारा दायर याचिका पर विचार करने से मना करते हुए की। निदेशालय ने सोसाइटी को सूचित किया कि चुनाव लड़ने के लिए उसने जो बाल्टी चुनाव चिह्न मांगा था जो उपलब्ध चुनाव चिह्नों की सूची में शामिल नहीं है और आवंटन के लिए उपलब्ध चिह्नों में से एक को उससे बताने को कहा था।

खबरें और भी हैं...