• Hindi News
  • National
  • नोटबंदी के 43वेंं दिन आया आरबीआई का 60वांं आदेश

नोटबंदी के 43वेंं दिन आया आरबीआई का 60वांं आदेश

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पैसे के इंतजार में एटीएम में सोने की नौबत

कारोबारी-उद्योगपति अब सीधे खाते में दे सकेंगे कर्मचारियों का वेतन

30 लाख रुपए के नए नोट और 5 किलो सोना बरामद

पहली बार; तमिलनाडु के मुख्य सचिव के घर-दफ्तर पर छापे

- सोशल मीडिया से

‘यह रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया है या रिवर्स बैंक आॅफ इंडिया?’

48 घंटे में पलटा फैसला; 5 हजार से ज्यादा जमा करने पर बैंकों में पूछताछ नहीं

{लोग पैसे देर से जमा कराने के लिए प्रधानमंत्री और वित्तमंत्री को जिम्मेदार ठहरा रहे थे

भास्करन्यूज | नई दिल्ली

पांचहजार रुपए से ज्यादा के पुराने नोट जमा करने पर बैंक पूछताछ नहीं करेगा। रिजर्व बैंक ने सोमवार को जारी आदेश बुधवार को वापस ले लिया। अब जिन खातों में केवाईसी है, उनमें 5 हजार से ज्यादा जमा करने पर रोक नहीं होगी। यानी कितनी भी रकम कितनी भी बार जमा करा सकते हैं। आरबीआई ने पिछले आदेश में 5 हजार से ज्यादा के पुराने नोट जमा कराने का एक मौका दिया था। साथ ही बताना था कि अब तक क्यों नहीं जमा किए। सोशल मीडिया पर इसका विरोध हुआ। लोग कहने लगे कि रिजर्व बैंक, रिवर्स बैंक हो गया है। पीएम कहते रहे कि बैंकों में भीड़ लगाएं। 30 दिसंबर तक समय है। अब नियम बदल दया। विरोध के मद्देनजर आरबीआई ने फैसला वापस ले लिया।

केंद्र सरकार ने सभी कर्मचारियों को ई-पेमेंट से वेतन देने का फैसला किया है। इसके लिए भी अध्यादेश लाया जाएगा। मंत्रिमंडल की बैठक में अध्यादेश का प्रस्ताव मंजूर किया गया। संसद के बजट सत्र में इस संबंधी विधेयक पेश होगा।

2005 के बाद से अब तक कोई भी चुनाव नहीं लड़ने वाले 200 राजनीतिक दलों पर मनी लॉन्ड्रिंग का शक है। चुनाव आयोग इनकी मान्यता रद्द करने की तैयारी में है। साथ ही इनकी लिस्ट आयकर विभाग को भेजी जाएगी, ताकि इनके फंड की जांच हो सके। चुनाव आयोग का मानना है कि इनमें से ज्यादातर दल सिर्फ कागजों पर हैं। फिलहाल सात राष्ट्रीय राजनीतिक दल, 58 क्षेत्रीय दलों के साथ 1786 दल ऐसे पंजीकृत हैं, जिनकी कोई पहचान नहीं है।

पंजाब के सुनाम में पैसे की किल्लत अब भी बनी हुई है। लोग इंतजार में एटीएम में ही सो जाते हैं।

{उद्योगपति कर्मचारियों को ऑनलाइन या चेक से वेतन दे सकेंगे। केंद्र सरकार ने अध्यादेश मंजूर किया।

{अभी 18 हजार रुपए तक वेतन पाने वाले कर्मचारियों को नगद में ही तनख्वाह देने का नियम है।

{इससेजुड़ाबिल लोकसभा में है। सरकार को अध्यादेश लागू होने के 6 महीने के अंदर पारित करवाना होगा।

चेन्नई |आयकर विभाग ने बुधवार को तमिलनाडु के मुख्य सचिव पी राममोहन राव के घर और दफ्तर पर छापे मारे। राज्य में शीर्ष नौकरशाह पर छापेमारी का यह पहला मामला है। दिनभर राव के बेटे और रिश्तेदारों सहित कुल 13 ठिकाने खंगाले गए। इस दौरान 30 लाख की नई करेंसी और 5 किलो सोना बरामद हुआ। यह कार्रवाई खनन कारोबारी और सरकारी ठेकेदार शेखर रेड्डी से संपर्कों के संदेह में हुई है। 100 से ज्यादा आयकर अधिकारियों ने तमिलनाडु और आंध्रप्रदेश स्थित ठिकानों पर सुबह साढ़े 5 बजे कार्रवाई शुरू कर दी थी। सूत्रों के अनुसार राव के बेटे विवेक के पांच करोड़ रुपए की अघोषित संंपत्ति का भी इस दौरान पता चला। राव इसी साल जून में मुख्य सचिव बने थे। मुख्य सचिव पर छापों के बीच मुख्यमंत्री पन्नीरसेल्वम ने बैठक कर स्थिति की समीक्षा की। वहीं, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राव के घर पर छापों को अनैतिक और बदले की कार्रवाई बताया है। शेष| पेज 11 पर







शेखररेड्डी गिरफ्तार, ठिकानों से मिले थे 135 करोड़ नगद और 177 किलो सोना:

सीबीआई ने खनन कारोबारी और सरकारी ठेकेदार शेखर रेड्डी और उसके रिश्तेदार श्रीनिवासुली रेड्डी को गिरफ्तार कर लिया। कोर्ट ने दोनों को 3 जनवरी तक न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। सीबीआई और ईडी ने मंगलवार को ही इनके खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग, आय से अधिक संपत्ति और धोखाधड़ी का केस दर्ज किया था। नोटबंदी के बाद रेड्डी के ठिकानों से 34 करोड़ रुपए की नई करेंसी सहित 131 करोड़ रुपए कैश, 177 किलो सोना और करोड़ों रुपए की प्रॉपर्टी के दस्तावेज मिले हैं।

---------------------------

रेड्डी से राव काे 16-17 करोड़ की पेमेंट का संदेह:

आयकर विभाग के सूत्रों की मानें तो शेखर रेड्डी के ठिकानों से मुख्य सचिव पी राममोहन राव के खिलाफ सबूत मिले हैं। कुछ दस्तावेजों में संकेत है कि राव को रेड्डी से 16-17 करोड़ रुपए मिले हैं। राव और रेड्डी एक-दूसरे के काफी करीब थे। आयकर विभाग को शक है कि राव के जरिये ही रेड्डी पीडब्ल्यूडी और हाईवे विभाग के ठेके हासिल करता था। राव पहले पीडब्ल्यूडी सचिव रह चुके हैं। इसी दौरान दोनों एक दूसरे के करीब आए। राव पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता के भी सचिव रह चुके हैं।

24 घंटे में सोशल मीडिया पर आरबीआई की चर्चा

{ट्विटर पर 5,80,564लोगोंने आरबीआई को मेंशन किया

{फेसबुकपर 4लाखसे ज्यादा लोगों ने आरबीआई कीवर्ड प्रयोग किया।

खबरें और भी हैं...