पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • स्कूलों को नहीं, बच्चों को सीधे कैश ट्रांसफर करे सरकार

स्कूलों को नहीं, बच्चों को सीधे कैश ट्रांसफर करे सरकार

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नई दिल्ली। सरकार शिक्षा के लिए फंड स्कूल व संस्थाओं को न देकर सीधे छात्रों को दे। छात्रों को यह फंड एजुकेशन वाउचर, डायरेक्ट बैंक ट्रांसफर, एजुकेशन क्रेडिट एकाउंट या स्कॉलरशिप के रूप में दिए जा सकते हैं। इससे छात्रों को स्कूल च्वाइस का हक मिलेगा कि यदि किसी स्कूल की पढ़ाई पसंद नहीं आ रही है तो माता-पिता बच्चे का स्कूल भी बदल सकेंगे।

शिक्षा व्यवस्था में सुधार के लिए नई शिक्षा नीति बनाने की दिशा में सरकार इन दिनों जन परामर्श कर रही है। सुझाव व प्रस्ताव मांगे गए हैं। ऐसे में सरकार के पास बिल्कुल नायाब सिफारिशें आ रही हैं। सेंटर फॉर सिविल सोसाइटी (सीसीएस) ने केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय व देश के विभिन्न राज्यों के शिक्षा विभागों को नई शिक्षा नीति के लिए अपनी सिफारिशें भेजी हैं।

सीसीएस के मुखिया पार्थ शाह कहते हैं कि सरकार अपने बजट में शिक्षा के लिए प्रति छात्र के हिसाब से फंड का प्रावधान करती है जबकि उसका आवंटन संस्थाओं व स्कूलों को किया जाता है। जबकि हमारी संस्था ने राजधानी के कई इलाकों में कई हजार बच्चों पर वाउचर के जरिए पढ़ाई करने का पायलट प्रोजेक्ट सफलतापूर्वक चलाया, इसके बेहतर नतीजे निकले। हेल्थ चेक-अप की तरह समूची शिक्षा व्यवस्था का थर्ड पार्टी मूल्यांकन होना चाहिए। इससे यह पता चल सकेगा कि व्यवस्था में क्या फेक्टर प्रदर्शन को बेहतर बना रहे हैं और कौन से फेक्टर बेकार हैं। उनका सुझाव है कि नेशनल एचीवमेंट सर्वे का दायरा बढ़ाकर थर्ड पार्टी मूल्यांकन के लिए उसमें हर स्कूल व हर छात्र को शामिल किया जाए।

कोई फैसला लेने में फिलहाल प्रिंसिपल के हक सीमित हैं। सरकारी व्यवस्था में स्कूल की जरूरी बातों के लिए कई स्तरों पर मंजूरी लेनी होती है। प्रिंसिपल को अधिक अधिकार मिलने से स्कूलों में गुणवत्तापूर्ण सुधार आ सकते हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर आप कुछ समय से स्थान परिवर्तन की योजना बना रहे हैं या किसी प्रॉपर्टी से संबंधित कार्य करने से पहले उस पर दोबारा विचार विमर्श कर लें। आपको अवश्य ही सफलता प्राप्त होगी। संतान की तरफ से भी को...

और पढ़ें