• Hindi News
  • Leaders Routine Changed After The Election

किसी ने आराम फरमाया तो कोई दांवपेंच में जुटा, चुनाव के बाद बदली दिनचर्या

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

नई दिल्ली। मतदान खत्म होने के साथ ही प्रत्याशियों ने राहत की सांस ली है। बीते महीने भर से लगातार दिन-रात प्रचार अभियान, नुक्कड़ सभाओं, रैलियों, पदयात्राओं, रोड शो में जुटे प्रत्याशियों ने परिवार के साथ फुर्सत के पल बिताए और कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर शुक्रिया अदा किया। कुछ प्रत्याशी ने शुक्रवार को देर तक नींद ली तो कइयों को रातभर नींद नहीं आई। कई अपने पेशेवर कामों पर लौटे तो कई पार्टी के चुनाव प्रचार के लिए अन्य राज्यों के लिए निकल गए।

चांदनी चौक के भाजपा प्रत्याशी डॉ. हर्षवर्धन एक डेढ़ महीने बाद क्लीनिक पर पहुंचे और करीब 20-25 मरीजों को देखा। उसके बाद तीन बजे से पार्टी दफ्तर में सभी प्रत्याशियों के साथ चुनाव प्रचार समिति की बैठक ली। पश्चिमी दिल्ली के प्रत्याशी प्रवेश वर्मा देर तक सोना चाहते थे लेकिन घर में कार्यकर्ताओं की भीड़ जमा होने लगी तो वह 7 बजे उठ गए। दिन में उन्होंने महीनों बाद बच्चों के साथ समय बिताया। पार्टी ने उन्हें पंजाब व उत्तर प्रदेश में प्रचार का काम सौंपा है। सुबह जल्दी उठने वाले पूर्वी दिल्ली के प्रत्याशी महेश गिरि नौ बजे सोकर उठे और कुछ वरिष्ठ कार्यकर्ताओं के घर भी गए।

उत्तर पश्चिमी दिल्ली के प्रत्याशी उदित राज तो उठने के बाद से पार्टी दफ्तर आने तक लगातार कार्यकर्ताओं से ही मिलते-जुलते रहे। उत्तर पूर्वी दिल्ली के प्रत्याशी मनोज तिवारी सुबह चार बजे ही उठे और फ्लाइट पकड़कर ओडिशा में प्रचार के निकल पड़े। मीनाक्षी लेखी को रातभर नींद नहीं आई और चार बजे वह भी अपने बेटे को एयरपोर्ट भेजने के लिए उठ गईं। दिन में उन्होंने शनिवार को एक स्कूल में होने वाले कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए कुछ सामग्री तैयार की। दक्षिणी दिल्ली के प्रत्याशी रमेश बिधूड़ी ने अपने गांव के लोगों से उनके घर जाकर मुलाकात कर समर्थन के आभार जताया।
उधर, कांग्रेस के चांदनी चौक प्रत्याशी कपिल सिब्बल ने अपने दिन की शुरुआत भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी की ओर से हलफनामे में सूचना छुपाने की शिकायत तैयार करने से की। शिकायत में कानूनी पहलुओं का हवाला देकर सिब्बल चुनाव आयोग भी पहुंचे। इसी मुद्दे पर उन्होंने बतौर प्रवक्ता पार्टी मुख्यालय में एक प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित भी किया। उत्तर पूर्वी दिल्ली से प्रत्याशी जयप्रकाश अग्रवाल सुबह से कार्यकर्ताओं से मिले और बीच-बीच में केजरीवाल के जल्दबाजी में इस्तीफा देने की स्वीकार्यता वाले बयान पर चैनलों को प्रतिक्रिया देते देखे गए।

उत्तर पश्चिमी दिल्ली की प्रत्याशी कृष्णा तीरथ ने बेटियों व नातिनों के साथ अपना दिन गुजारा। आम आदमी पार्टी के उत्तर पूर्वी दिल्ली के प्रत्याशी प्रो. आनंद कुमार ने जेएनयू परिसर स्थित अपने परिवार के साथ लॉन में बैठकर चाय की चुस्कियां लेकर अखबार पढऩे का आनंद लिया। चांदनी चौक से प्रत्याशी आशुतोष दिनभर विभिन्न टीवी चैनलों पर पार्टी के प्रतिनिधि के रूप में शिरकत करते रहे।


चुनाव के बाद प्रत्याशियों ने कुछ ऐसे बिताए फुर्सत के पल

केंद्रीय मंत्री कृष्णा तीरथ ने चुनाव के अगले दिन बेटियों और उनके बच्चों के साथ वक्त बिताया।