पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Need To Create A Positive Image Of Women: Shabana Azmi

महिलाओं की सकारात्मक छवि बनाने की जरूरत : शबाना आजमी

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

नई दिल्ली. साहित्य अकादेमी में आयोजित साहित्योत्सव में गुरुवार को सिनेमा और साहित्य पर विचार व्यक्त करने के लिए जानी मानी अदाकारा शबाना आजमी भी पहुंचीं।

साहित्य और सिनेमा के संबंध पर विचार करते हुए उन्होंने कहा कि आज भी सिनेमा साहित्य पर निर्भर है जिसका ताजा उदाहरण सलमान रुश्दी की रचना मिड नाइट चिल्ड्रन पर बनी फिल्म है।

उन्होंने कहा कि कई ऐसी फिल्में भी बनी हैं जो साहित्य से ज्यादा सशक्त रूप में अपने दर्शकों के बीच पहुंची हैं। फिल्मों में महिलाओं के चरित्र पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि 80 के दशक से 21वीं सदी तक के फिल्मों के महिला चरित्रों में बहुत ही तेजी से बदलाव आया है।

अब फिल्मों में आइटम नंबर बढ़े हैं जिसमें महिलाओं को किस प्रकार पेश किया जाता है यह सभी को पता है। उन्होंने कहा कि महिलाओं की सकारात्मक छवि बनाए जाने की जरूरत है।