• Home
  • Jeevan Mantra
  • Jyotish
  • Rashi Aur Nidaan
  • Achala Ekadashi, Apara Ekadashi, Importance Of Ekadashi, Ekadashi's Measures, अचला एकादशी, अपरा एकादशी, एकादशी का महत्व, एकादशी के
--Advertisement--

एकादशी+शुक्रवार का योग, गाय के दूध से करें भगवान विष्णु का अभिषेक

एकादशी और शुक्रवार के शुभ योग में यदि कुछ विशेष उपाय किए जाएं तो किसी की भी किस्मत चमक सकती है।

Danik Bhaskar | May 09, 2018, 08:55 PM IST

रिलिजन डेस्क. ज्येष्ठ मास के कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि को अचला एकादशी कहते हैं। इस बार ये एकादशी 11 मई, शुक्रवार को है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार, एकादशी भगवान विष्णु की तिथि है, वहीं शुक्रवार माता लक्ष्मी का दिन है। एकादशी और शुक्रवार के शुभ योग में यदि कुछ विशेष उपाय किए जाएं तो किसी की भी किस्मत चमक सकती है। ये उपाय इस प्रकार हैं-

1. गाय के कच्चे दूध (बिना उबला) दूध में केसर मिलाकर भगवान विष्णु का अभिषेक करें।
2. एकादशी पर भगवान विष्णु को खीर, पीले फल या पीले रंग की मिठाई का भोग लगाएं।
3. अगर आप धन लाभ चाहते हैं तो एकादशी पर भगवान विष्णु के साथ माता लक्ष्मी की भी पूजा करें।
4. एकादशी पर दक्षिणावर्ती शंख में गंगाजल भरकर उससे भगवान विष्णु का अभिषेक करें।
5. एकादशी की शाम तुलसी के पौधे के सामने गाय के शुद्ध घी का दीपक लगाएं और तुलसी के पौधे को प्रणाम करें।
6. पीपल में भगवान विष्णु का वास माना गया है। इसलिए एकादशी पर पीपल के पेड़ पर जल चढ़ाएं।
7. विष्णु भगवान के मंदिर में जाकर अन्न (गेहूं, चावल आदि) का दान करें। बाद में इसे गरीबों में बांट दें।
8. भगवान विष्णु को पीतांबरधारी कहते हैं, इसलिए एकादशी पर उन्हें पीले वस्त्र अर्पित करना चाहिए।
9. एकादशी पर भगवान विष्णु को तुलसी की माला अर्पित करें। इससे भी भगवान विष्णु प्रसन्न होते हैं।
10. इस दिन भगवान विष्णु को कमल का फूल या अन्य कोई पीले रंग का फूल चढ़ाना शुभ रहता है।
11. एकादशी पर भगवान विष्णु को हरश्रंगार का इत्र अर्पित करें। इससे भी आपकी हर कामना पूरी हो सकती है।

Related Stories