दिल्ली सहित 12 शहरों में एयर क्वालिटी इंडेक्स 24 घंटे में 5 प्वाइंट से 75 प्वाइंट तक बढ़ा

News - दिल्ली-एनसीआर की हवा शनिवार को और ज्यादा बिगड़ गई। दिल्ली सहित एनसीआर के 12 शहरों की हवा में 24 घंटे के दौरान एयर...

Oct 13, 2019, 07:20 AM IST
दिल्ली-एनसीआर की हवा शनिवार को और ज्यादा बिगड़ गई। दिल्ली सहित एनसीआर के 12 शहरों की हवा में 24 घंटे के दौरान एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) में 5 प्वाइंट से 75 प्वाइंट तक वृद्धि हुई है। देशभर के 103 शहरों की हवा में प्रदूषण को लेकर जो आंकड़े केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड(सीपीसीबी) ने जारी किए उसमें से 19 शहरों में हवा की गुणवत्ता खराब श्रेणी और पानीपत में 315 एक्यूआई के साथ बहुत खराब श्रेणी में पहुंच गई है। इसमें दिल्ली सहित एनसीआर के 16 शहर हैं। एनसीआर के बाहर यमुनानगर में 291, सिरसा में 214 और अहमदाबाद में 247 एक्यूआई दर्ज किया गया।

दिल्ली सहित एनसीआर के ज्यादातर केंद्रों पर प्रदूषण का स्तर लगातार बढ़ रहा है। हिसार, जींद, मुरादाबाद और पलवल की हवा तो खराब श्रेणी में शनिवार को ही पहुंची है, शुक्रवार को इन शहरों का एक्यूआई मॉडरेट श्रेणी में था। पानीपत में प्रदूषण का स्तर शुक्रवार को 247 एक्यूआई के साथ खराब श्रेणी में था जो शनिवार को 315 एक्यूआई के साथ बहुत खराब स्तर पर पहुंच गया। एनसीआर के केंद्र पर खराब हवा में पीएम 2.5 ज्यादा बढ़ा हुआ है। उत्तर-पूर्वी हवा के बीच पीएम 2.5 की मात्रा एक बहुत खराब सहित 16 में से 12 केंद्रों में ज्यादा दर्ज किया गया। हालांकि, दिल्ली व ग्रेटर नोएडा में पीएम2.5 के साथ पीएम 10, पानीपत में पीएम10 व फरीदाबाद में ओजोन की मात्रा ज्यादा है। सीएसई की कार्यकारी निदेशक अनुमिता राय चौधरी ने भास्कर से कहा कि पीएम2.5 बढ़ने का मतलब है इसमें पराली जलने, कूड़ा जलने, फैक्ट्री, वाहन प्रदूषण का असर ज्यादा, निर्माण कार्य का असर ज्यादा है। हालांकि, लोकल प्रदूषण भी प्रभाव डालते हैं।

क्या है प्रदूषण बढ़ने का कारण और भविष्यवाणी

प्रदूषक कणों में पीएम 2.5 की मात्रा ज्यादा है जो पराली, कूड़ा, फैक्ट्री, वाहन ईंधन और निर्माण से बढ़ता है। केंद्र सरकार की एजेंसी सफर ने भविष्यवाणी की है कि अगले 4 दिन में हवा की गुणवत्ता बहुत खराब श्रेणी में पहुंच जाएगी। हवा उत्तर-पश्चिमी चल रही है जिसकी वजह से पंजाब, हरियाणा, राजस्थान व सटे पाकिस्तान में पराली जलना भी एक कारण है। शनिवार को दिल्ली में हवा की अधिकतम स्पीड 4 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चली। रविवार और फिर सोमवार को भी स्पीड ऐसी ही रहेगी। प्रदूषण का स्तर खराब श्रेणी में ही बना रहेगा, मगर एक्यूआई में बढ़ोतरी होगी। ऐसे में एक्यूआई 300 के पार पहुंचने की संभावना है। एक्यूआई बुलेटिन में यह भी कहा है कि पड़ोसी राज्यों से अभी धूल आती नहीं दिख रही है।

खराब व बहुत खराब श्रेणी की हवा में यह हो सकती है दिक्कत

हवा खराब श्रेणी की हवा में अगर कोई ज्यादा देर बाहर रहता है तो सांस लेने में दिक्कत और हृदय रोगी व बीमार अगर कम देर के लिए भी बाहर रहें तो परेशानी हो सकती है। बहुत खराब श्रेणी में प्रदूषण का स्तर पहुंचने पर अगर कोई व्यक्ति ज्यादा देर बाहर रहता है तो सांस की बीमारी हो सकती है। दिल के मरीज व फेफड़ों की दिक्कत है तो उसे ज्यादा बीमार करेगा।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना