Rashi Aur Nidaan

--Advertisement--

अमावस्या पर 5 अशुभ काम करने की भूल न करें, वरना हो सकता है कुछ बुरा

अमावस्या पर पितरों के लिए धूप-दीप जलाना चाहिए और पीपल की पूजा करनी चाहिए।

Dainik Bhaskar

Jun 12, 2018, 06:29 PM IST
amawasya on 13 june, traditions about amawasya in hindi, mythology

रिलिजन डेस्क। बुधवार, 13 जून को अधिक मास की अमावस्या है। इस तिथि के साथ अधिक मास भी खत्म हो जाएगा। हिन्दी पंचांग के अनुसार अधिक मास 3 साल में एक ही बार आता है। इस कारण 13 जून की अमावस्या बहुत ही खास है। इस दिन अशुभ काम करने से बचना चाहिए। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार किए गए अशुभ कामों की वजह से हमारी कुंडली में ग्रहों का बुरा असर शुरू हो सकता है। यहां जानिए अधिक मास की अमावस्या पर कौन-कौन से काम करने से बचना चाहिए...

1. रात में न जाएं किसी सुनसान जगह पर

अमावस्या की रात नकारात्मकता बहुत ज्यादा सक्रिय हो जाती है। इस कारण श्मशान या किसी भी सुनसान जगह पर जाने से मना किया जाता है। अगर इस बात का ध्यान नहीं रखेंगे तो मानसिक परेशानियां हो सकती हैं।

2. सुबह देर तक न सोएं

अमावस्या की सुबह देर तक ना सोएं। इस दिन सुबह जल्दी उठें। पानी में काले तिल और गंगाजल डाल कर स्नान करें। इसके बाद सूर्यदेव को तांबे के लोटे से जल चढ़ाएं।

3. घर में वाद-विवाद न करें

अगर आप पितर देवता की कृपा पाना चाहते हैं और घर से गरीबी को दूर रखना चाहते हैं तो अमावस्या पर घर में वाद-विवाद न करें। अमावस्या पर घर में अशांति होगी तो पितृ देवता की कृपा नहीं मिलती है। अमावस्या पर पितरों के लिए धूप ध्यान जरूर करें।

4. किसी का अपमान न करें

शास्त्रों के अनुसार इस तिथि पर किसी का भी अपमान न करें। खासतौर पर किसी गरीब, वृद्ध या महिला को दिल न दुखाएं।

5. पति-पत्नी ये गलती न करें

अमावस्या तिथि पर पति-पत्नी को ब्रह्मचर्य का पालन करना चाहिए। इस दिन दूरी बनाकर रखनी चाहिए। अमावस्या की रात में संबंध बनाने से बचें। इस रात में बने संबंध से जो संतान पैदा होती है, उसका जीवन सुखी नहीं रहता है।

X
amawasya on 13 june, traditions about amawasya in hindi, mythology

Related Stories

Click to listen..