• anatpur tempel in kerala, facts about kerala temple
विज्ञापन

इस मंदिर की रक्षा करता है और प्रसाद खाता है रहस्यमयी मगरमच्छ, जानिए कहां है ये मंदिर / इस मंदिर की रक्षा करता है और प्रसाद खाता है रहस्यमयी मगरमच्छ, जानिए कहां है ये मंदिर

dainikbhaskar.com

Apr 06, 2018, 05:21 PM IST

केरल में एक ऐसा मंदिर है, जहां की झील में मगरमच्छ रहता है।

anatpur tempel in kerala, facts about kerala temple
  • comment

यूटिलिटी डेस्क. भारत में कई ऐसे मंदिर हैं, जिनके रहस्य भक्तों को आकर्षित करते हैं। ऐसा ही एक मंदिर केरल में भी है। केरल के इस मंदिर में एक झील है और झील में एक मगरमच्छ है। यहां प्रचलित मान्यता के अनुसार ये मगरमच्छ बहुत ही रहस्यमयी और शाकाहारी है। केरल के कासरगोड में अनंतपुर मंदिर है। यह केरल का एकमात्र मंदिर है, जहां झील है। इस मंदिर की यह मान्यता है कि यहां की रखवाली एक मगरमच्छ करता है। जानिए अनंतपुर मंदिर से जुड़ी कुछ ऐसी बातें जो अधिकतर लोग जानते नहीं हैं...

इस मगरमच्छ का नाम है बबिआ

अनंतपुर मंदिर का एक रहस्य है कि जब यहां झील में रह रहे एक मगरमच्छ की मृत्यु होती है तो रहस्यमयी ढंग से दूसरा मगरमच्छ आ जाता है। इस मगरमच्छ को बबिआ के नाम से जाना जाता है। दो एकड़ की झील के बीच में ये मंदिर बना है और ये भगवान विष्णु यानी भगवान अनंत-पद्मनाभस्वामी को समर्पित है। मान्यता है कि मंदिर की झील में रहने वाला यह मगरमच्छ पूरी तरह शाकाहारी है और यहां के पुजारी इसे प्रसाद खिलाते हैं।

किसी को नुकसान नहीं पहुंचाता है मगरमच्छ

यहां स्थानीय लोगों का मानना है कि क्षेत्र में बारिश कम हो या ज्यादा झील में पानी का स्तर हमेशा एक जैसा ही रहता है। भगवान की पूजा के बाद भक्तों द्वारा चढ़ाया गया प्रसाद बबिआ को खिलाया जाता है। प्रसाद खिलाने की अनुमति आम लोगों को नहीं है, सिर्फ मंदिर प्रबंधन से जुड़े लोग ही मगरमच्छ को खाना खिलाते हैं। मगरमच्छ शाकाहारी है और वह झील के अन्य जीवों को नुकसान नहीं पहुंचाता।

मगरमच्छ करता है मंदिर की रक्षा

यहां प्रचलित मान्यता के अनुसार ये मगरमच्छ ही मंदिर की रक्षा करता है। अगर मंदिर के आसपास कुछ अशुभ होने की संभावनाएं होती हैं तो ये मगरमच्छ संकेत देता है।

औषधियों से बनी है इस मंदिर की मूर्तियां

इस मंदिर में स्थापित मूर्तियां धातु या पत्थर की नहीं बल्कि औषधियों से बनी हुई हैं। यह मंदिर तिरुअनंतपुरम के अनंत-पद्मनाभस्वामी का मूल स्थान है। स्थानीय लोगों का विश्वास है कि भगवान यहीं आकर स्थापित हुए थे।

ये भी पढ़ें-


राशिफल- 18 अप्रैल से शनि होगा वक्री, नाम अक्षर से जानें किन राशियों का होगा भाग्योदय
गन्ने का रस चढ़ाएं शिवलिंग पर, आपकी ये एक बड़ी परेशानी हो सकती है दूर

anatpur tempel in kerala, facts about kerala temple
  • comment
anatpur tempel in kerala, facts about kerala temple
  • comment
X
anatpur tempel in kerala, facts about kerala temple
anatpur tempel in kerala, facts about kerala temple
anatpur tempel in kerala, facts about kerala temple
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543
विज्ञापन