Rashi Aur Nidaan

--Advertisement--

21 जुलाई को शादी का श्रेष्ठ मुहूर्त, इसके बाद करना होगा लंबा इतंजार, 19 नवंबर को देवउठनी एकादशी से शुरू होंगे शुभ काम

शादी के शुभ मुहूर्त के लिए लोगों को अब लंबा इंतजार करना पड़ेगा क्योंकि 21 जुलाई अंतिम मुहूुर्त है।

Dainik Bhaskar

Jul 15, 2018, 11:26 AM IST
इस बार 21 जुलाई, शनिवार को भड़ली इस बार 21 जुलाई, शनिवार को भड़ली

रिलिजन डेस्क. इस बार 21 जुलाई, शनिवार को भड़ली नवमी पर शादी का आखिरी श्रेष्ठ मुहूर्त है। 23 जुलाई को देवशयनी एकादशी से सभी शुभ कामों पर रोक लग जाएगी। इसके बाद शादियों की शहनाई 19 नवंबर को देव उठने के साथ ही बजेगी। 27 जुलाई से चातुर्मास भी शुरू हो जाएंगे। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. अमर डिब्बावाला के अनुसार, इस बार भड़ली नवमी पर सर्वार्थसिद्धि योग भी बन रहा है, इसलिए ये दिन विवाह आदि मांगलिक कामों के लिए बहुत ही शुभ है। इसके बाद शुभ मुहुर्त न होने के कारण 4 महीने तक कोई भी शुभ काम नहीं किया जाएगा। देव उठनी ग्यारस के बाद नवंबर में विवाह का कोई शुभ मुहूर्त नहीं है। जनवरी, फरवरी और मार्च में अच्छे मुहूर्त आएंगे, जिनमें लोग विवाह समारोह आयोजित कर सकेंगे।
ये तारे अस्त होंगे, रुकेंगे शुभ कार्य
- शुक्र तारा 19 अक्टूबर से 19 नवंबर 2018 तक अस्त रहेगा। गुरु तारा 14 नवंबर से 8 दिसंबर 2018 तक अस्त रहेगा।

- ज्योतिष शास्त्र में सभी शुभ कामों में खास कर विवाह में गुरु और शुक्र तारों का उदय होना आवश्यक माना गया है।

- यानी गुरु और शुक्र तारे की उपस्थिति में ही मांगलिक व विवाह संस्कार शुभ फल देते हैं।
- गुरु तारे को संबंधों के आधार पर देखा जाता है। शुक्र तारे को सौभाग्य, समृद्धि तथा जीवन पर्यन्त यौवन की दृष्टि से देखा जाता है।

- जब विवाह कार्य इन तारों की उपस्थिति में होते हैं तो धर्म, ज्ञान, बुद्धि, स्वास्थ, दीर्घायु की पूर्णता प्राप्त होती है।

- ज्योतिषी विवाह और मांगलिक कार्यों के मुहूर्त तलाशते समय इसीलिए गुरु और शुक्र तारे के अस्त और उदय को देखते हैं।
शादी के श्रेष्ठ मुहूर्त
दिसंबर 2018 - 12, 13
जनवरी 2019- 17, 18, 22, 23, 25, 26, 29
फरवरी 2019- 8, 10, 19, 21,
मार्च 2019- 8, 9, 10

X
इस बार 21 जुलाई, शनिवार को भड़ली इस बार 21 जुलाई, शनिवार को भड़ली
Click to listen..