बिना किसी के पद भी भाजपा में आने को तैयार बाबूलाल

News - मॉरीशस और बैंकाक की निजी यात्रा के बाद झाविमो प्रमुख बाबूलाल मरांडी बुधवार सुबह दिल्ली पहुंचे, वहां भविष्य की...

Jan 16, 2020, 07:36 AM IST
Ranchi News - babulal ready to join bjp without any post
मॉरीशस और बैंकाक की निजी यात्रा के बाद झाविमो प्रमुख बाबूलाल मरांडी बुधवार सुबह दिल्ली पहुंचे, वहां भविष्य की योजनाओं पर भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओमप्रकाश माथुर के साथ लंबी बातचीत करने के बाद देर शाम रांची लौटे। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह बुधवार को मुंबई, जबकि कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा अहमदाबाद में थे। इस कारण ओम माथुर से ही बातचीत हो पाई। इस बातचीत में बाबूलाल ने एक बार फिर यह दोहराया कि उन्हें भाजपा में कोई पद नहीं चाहिए। उन्होंने अपनी पार्टी के विधायकों के लिए भी कोई पद नहीं मांगा।

जेवीएम के भाजपा में विलय के तकनीकी बिंदुओं पर भी दोनों के बातचीत हुई। दोनों इस बात पर सहमत हुए कि विलय की सारी प्रक्रिया जितनी जल्द हो, पूरा कर लिया जाए। इसके लिए झाविमो को पहले अपनी कार्यसमिति गठित कर उसकी बैठक आयोजित करनी है, जिसमें विलय का प्रस्ताव दो तिहाई बहुमत से पारित कराना होगा। झारखंड विकास मोर्चा की नई केंद्रीय कार्यसमिति 140 से 151 सदस्यों की बनेगी। यही कार्यसमिति भाजपा में विलय पर फैसला लेगी। सभी जिला अध्यक्ष इसके पदेन सदस्य होंगे। कार्यसमिति में सात उपाध्यक्ष, एक प्रधान महासचिव, पांच महासचिव, सात सचिव और एक कोषाध्यक्ष होंगे। गौरतलब है कि 5 जनवरी को पुरानी कार्यसमिति भंग हुई थी। नई कार्यसमिति की बैठक 20 जनवरी के बाद होगी।

वापसी का

काउंट-डाउन शुरू

नई दिल्ली में भाजपा के ओम माथुर से मिले मरांडी

जल्द शुरू होगी भाजपा में विलय की प्रक्रिया

पार्टी में आंतरिक चर्चा

रायशुमारी में पार्टी के अधिकतर नेता विलय के पक्ष में

जेवीएम ने पार्टी के भीतर विलय के सवाल पर एक आंतरिक रायशुमारी भी कराई है। मिली जानकारी के अनुसार, अब तक ज्यादातर केंद्रीय और जिला के नेताओं ने पार्टी के भाजपा में विलय को सही कदम बताया है। झाविमो के ज्यादातर नेताओं का मानना है कि भाजपा में पार्टी का विलय राज्य व पार्टी दोनों के हित में है।

नहीं बनेगी पार्टी मोर्चों की कार्यसमिति

इस बार सिर्फ जेवीएम की केंद्रीय कार्यसमिति बनेगी। पार्टी के विभिन्न मोर्चों का गठन नहीं होगा। विलय पर केंद्रीय कार्यसमिति का फैसला ही मान्य होगा। हालांकि, जिस प्रकार पार्टी के दो विधायक प्रदीप यादव और बंधु तिर्की विलय के विरोध में हैं, उसे देखते हुए यह स्पष्ट है कि विधायक के रूप में सिर्फ बाबूलाल मरांडी ही भाजपा में जाएंगे। जेवीएम में इस बाबत भी मंथन जारी है कि ऐसी स्थिति आने पर किस प्रकार से निबटा जाए। इसके लिए विभिन्न विकल्पों पर विचार किया जा रहा है।

रांची लौटे झाविमो प्रमुख

बाबूलाल बोले-पार्टी नेताओं से बात कर लूंगा अंतिम फैसला

बुधवार देर शाम रांची पहुंचे जेवीएम प्रमुख बाबूलाल मरांडी ने कहा कि वे पार्टी नेताओं से बात करने के बाद ही विलय पर कोई निर्णय लेंगे। अभी कार्यसमिति भंग है। सबसे राय करने के बाद कार्यसमिति गठित होगी। केंद्रीय कार्यसमिति की विलय पर जो राय बनेगी, उसके अनुसार आगे कदम बढ़ाया जाएगा।

X
Ranchi News - babulal ready to join bjp without any post
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना