--Advertisement--

ऑस्ट्रेलिया में डे-नाइट टेस्ट मैच नहीं खेलेगी टीम इंडिया, बीसीसीआई ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को पत्र लिखकर बताया

Dainik Bhaskar

May 07, 2018, 07:01 PM IST

भारतीय खिलाड़ियों में सिर्फ चेतेश्वर पुजारा और मुरली विजय ही दलीप ट्रॉफी में गुलाबी गेंद से डे-नाइट मैच खेले हैं।

बीसीसीआई ने ऑस्ट्रेलिया से पहले भी डे-नाइट टेस्ट मैच खेलने से मना किया था। - फाइल बीसीसीआई ने ऑस्ट्रेलिया से पहले भी डे-नाइट टेस्ट मैच खेलने से मना किया था। - फाइल

  • अब तक खेले गए हैं सिर्फ 9 डे-नाइट टेस्ट मैच, दो और मैच हैं प्रस्तावित
  • 2015 में न्यूजीलैंड के ऑस्ट्रेलिया दौरे में पहली बार हुआ था डे-नाइट टेस्ट

नई दिल्ली. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) से स्पष्ट कर दिया है कि टीम इंडिया उसके यहां डे-नाइट टेस्ट मैच नहीं खेलेगी। इस साल के अंत में भारत को ऑस्ट्रेलिया का दौरा करना है। हालांकि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने दूधिया रोशनी (फ्लड लाइट) में गुलाबी गेंद से टेस्ट मैच के आयोजन के लिए जोर दे रहा है। दरअसल, पिछले कुछ साल से ऑस्ट्रेलिया का दौरा करने वाली टीमें वहां डे-नाइट मैच खेलती रही हैं। यही वजह है कि वह चाहता है कि एडिलेड में 6 से 10 दिसंबर तक होने वाला टेस्ट मैच गुलाबी गेंद से खेला जाए। हालांकि बीसीसीआई का स्पष्ट कहना है कि वह लाल गेंद के परंपरागत मैचों से अभी नहीं हटेगा।


तैयारी के लिए मिले कम से कम 18 महीनेः बीसीसीआई
- बीसीसीआई इसलिए अभी डे-नाइट टेस्ट खेलने की हामी नहीं भर रहा है, क्योंकि उसका मानना है कि इसकी तैयारी के लिए कम से कम 18 महीने चाहिए।
- मुख्य कोच रवि शास्त्री की अगुआई वाली भारतीय टीम प्रबंधन ने प्रशासकों की समिति (सीओए) को इस बात से अवगत भी करा दिया है।
- इसके बाद कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी से कहा गया कि वे यह संदेश सीए के मुख्य कार्यकारी जेम्स सदरलैंड को दे दें। चौधरी ने सदरलैंड को ई-मेल के जरिये इसकी जानकारी दे दी है।

एक साल बाद ही खेल सकता है भारतः चौधरी
- चौधरी ने ई-मेल में लिखा, "सीओए ने मुझे यह संदेश देने का निर्देश दिया है कि भारत इस प्रारूप में लगभग एक साल बाद ही खेलना शुरू कर पाएगा। मौजूदा परिस्थितियों में मुझे यह कहते हुए खेद है कि प्रस्तावित डे-नाइट टेस्ट मैच नहीं खेला जा सकता है। सभी टेस्ट मैच परंपरागत प्रारूप में ही खेले जाएंगे।"
- बता दें कि पिछले सप्ताह सदरलैंड ने ऑस्ट्रेलिया में एक रेडियो स्टेशन से बातचीत में कहा था कि भारत शृंखला जीतने के लिए बेताब है, इसलिए वह गुलाबी गेंद से टेस्ट मैच नहीं खेलना चाहता।
- ऑस्ट्रेलिया घरेलू मैदान पर अब तक किसी भी डे-नाइट टेस्ट मैच में हारा नहीं है।

जेम्स सदरलैंड अब भी बीसीसीआई से डे-नाइट टेस्ट मैच खेलने का आग्रह कर रहे हैं। - फाइल जेम्स सदरलैंड अब भी बीसीसीआई से डे-नाइट टेस्ट मैच खेलने का आग्रह कर रहे हैं। - फाइल
X
बीसीसीआई ने ऑस्ट्रेलिया से पहले भी डे-नाइट टेस्ट मैच खेलने से मना किया था। - फाइलबीसीसीआई ने ऑस्ट्रेलिया से पहले भी डे-नाइट टेस्ट मैच खेलने से मना किया था। - फाइल
जेम्स सदरलैंड अब भी बीसीसीआई से डे-नाइट टेस्ट मैच खेलने का आग्रह कर रहे हैं। - फाइलजेम्स सदरलैंड अब भी बीसीसीआई से डे-नाइट टेस्ट मैच खेलने का आग्रह कर रहे हैं। - फाइल
Astrology

Recommended

Click to listen..